Top
राष्ट्रीय

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने करोड़ों की मशीनों को आग लगाई, क्षेत्र में पहली बार बन रही थी सड़क

Janjwar Desk
25 Jun 2020 5:30 AM GMT
छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने करोड़ों की मशीनों को आग लगाई, क्षेत्र में पहली बार बन रही थी सड़क
x
नक्सलियों ने 24 जून की देर रात इस वारदात को अंजाम दिया है। जलाए गए मशीनों और वाहनों की कीमत 2 करोड़ से ज्यादा बताई जा रही है।


जनज्वार। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने एक बार फिर बड़ी घटना को अंजाम दिया है। दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने बुधवार 24 जून की देर रात करोड़ों के मशीन और वाहन को आग लगा दी है। यहां सड़क निर्माण कार्य चल रहा था।

बताया जाता है कि छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा स्थित कुकानार क्षेत्र में सड़क निर्माण का कार्य चल रहा था। यह क्षेत्र नक्सल प्रभावित है। आजादी के बाद पहली बार क्षेत्र में सड़क बनाई जा रही थी।

कहा जा रहा है कि बिना सुरक्षा व्यवस्था के ही सड़क का निर्माण किया जा रहा था। कुकानार में कुन्ना से धनीकुरता गांव तक यह सड़क बनाई जा रही थी। सड़क दंतेवाड़ा के ठीकेदार जगदीश राठौर बनवा रहे थे। इलाका नक्सल प्रभावित और दुर्गम है। यह क्षेत्र एक ओर से नदी और जंगलों से घिरा हुआ है।

बताया जा रहा है कि बुधवार 24 जून की देर रात यहां 8 से 10 की संख्या में नक्सली पहुंच गए। नक्सलियों ने सबसे पहले वाहनों के चालकों और अन्य कर्मियों का मोबाइल छीन लिया। फिर वहां पर खड़े मशीनों और वाहनों में आग लगा दी। नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य बंद कर देने की भी धमकी दी है।

नक्सलियों द्वारा की गई इस आगजनी में सड़क निर्माण के लिए रखे गए 2 जेसीबी मशीन,1 पोकलेन मशीन और 3 डंपर जल गए हैं। इनकी कीमत 2 करोड़ से भी अधिक बताई जा रही है।

दुर्गम और नक्सल क्षेत्र होने के कारण पुलिस को भी यहां पहुंचने में काफी परेशानी है। पुलिस को नदी पार कर आना है। डर के कारण 25 जून की सुबह तक ठीकेदार भी वहां नहीं पहुंच सका था। बताया जा रहा है कि घटनास्थल से कुछ किलोमीटर की दूरी पर आरपीएफ का कैंप भी मौजूद है।

Next Story

विविध

Share it