मध्य प्रदेश

Indore News: डाइपर में ड्रग्स लाने वाली एयर होस्टेस गिरफ्तार, 4 साल में खपा डाली ढाई करोड़ की ड्रग्स

Janjwar Desk
22 Dec 2021 11:34 AM GMT
indore crime news
x

(गिरफ्तार एयर होस्टेस मानसी सिंह और बरामद ड्रग्स)

सरगना सागर जैन को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद भी ड्रग्स की स्मगलिंग और सप्लाई बंद नहीं हो सकी है। ड्रग्स रैकेट से जुड़े नए नाम सामने आए हैं। अब तक इस रैकेट के आठ किरदारों के नामों का खुलासा हुआ है...

Indore News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के इंदौर से बड़ी खबर सामने आई है। यहां बेबी डाइपर (Baby Diaper) में ड्रग्स की स्मगलिंग की आरोपी एक एयर होस्टेस को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि गिरफ्तार एयर होस्टेस मानसी से चार साल में ढाई करोड़ रुपये मूल्य की ड्रग्स सप्लाई करने का खुलासा हुआ है।

13 महीने पहले ड्रग रैकेट (Drugs Racket) के सरगना सागर जैन को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद भी ड्रग्स की स्मगलिंग और सप्लाई बंद नहीं हो सकी है। ड्रग्स रैकेट से जुड़े नए नाम सामने आए हैं। अब तक इस रैकेट के आठ किरदारों के नामों का खुलासा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक शनिवार को पुलिस ने एयर होस्टेस मानसी सिंह को गिरफ्तार किया था। वह एक साल की बेटी के डाइपर में ड्रग्स सप्लाई करते हुए पकड़ी गई थी। पुलिस ने मानसी को तीन दिन की रिमांड पर लिया है। बेटी को मानसी की बहन के पास सौंप दिया गया है। मानसी भी सागर जैन के रैकेट का हिस्सा थी, जिसे पुलिस ने 25 नवंबर 2020 को पकड़ा था। पुलिस का कहना है कि मानसी के पिता एयर इंडिया से रिटायर हुए थे, जबकि उसका पति अब्दुल सैयद बहरीन में कंसल्टेंसी चलाता है।

सेक्स रैकेट से हुआ था खुलासा

इंदौर में ड्रग्स रैकेट का खुलासा एक बांग्लादेशी सेक्स रैकेट से हुआ था। विजय नगर पुलिस ने बाणगंगा क्षेत्र से घर में बंधक बनाकर रखी गई दो लड़कियों को रेस्क्यू किया था। इसी केस में सागर जैन समेत ड्रग्स रैकेट के अन्य किरदारों के नाम सामने आए हैं।

अब तक सामने आये ये किरदार

1. दिनेश अग्रवालः मूल रूप से दिनेश अग्रवाल टेंट कारोबारी है। दिनेश पर आरोप है कि वह हैदराबाद के ड्रग कारोबारी से एमडी ड्रग खरीदता था। उसे ही अलग-अलग चैनलों से मध्य प्रदेश एवं अन्य राज्यों में भिजवाता था।

2. वेदप्रकाश व्यासः व्यास एक फार्मा कारोबारी है। हैदराबाद की फार्मा कंपनियों में एमडी ड्रग्स बनवाता था। उन्हें दिनेश अग्रवाल के माध्यम से देशभर में सप्लाई करता था।

3. चिमन अग्रवालः दिनेश अग्रवाल का भतीजा है। यह दिनेश अग्रवाल के साथ मंदसौर, प्रतापगढ़ में नशीली दवाओं का धंधा करता था। उनके सप्लाई की अहम कड़ी था चिमन अग्रवाल।

4. अक्षय अग्रवालः दिनेश अग्रवाल का बेटा है। यह भी अपने पिता और चचेरे भाई के साथ मिलकर नशीली दवाओं के धंधे में शामिल था। सप्लाई से जुड़ा कामकाज देखता था।

5. प्रीति उर्फ काजलः इसे इंदौर में ड्रग्स वाली आंटी भी कहा जाता है। बेटे यश के साथ इसने मंदसौर से इंदौर आकर ड्रग्स का रैकेट खड़ा किया। अन्य अनैतिक धंधों में भी इसकी भूमिका है।

6. सागर जैनः इंदौर में सेक्स और ड्रग्स रैकेट का बड़ा सरगना है। इसे पुलिस ने 2020 में गिरफ्तार किया था। इसकी गिरफ्तारी के बाद भी इसका गिरोह सक्रिय है। यह इंदौर में बड़ी पार्टियों में ड्रग्स सप्लाई करता था।

7. विक्की परियानीः यह इंदौर में ड्रग्स का बड़ा सप्लायर है। रेस्टोरेंट चलाता है। इसकी आड़ में नशीली दवाओं का कारोबार करता है। पार्टियों में ड्रग्स के साथ-साथ लड़कियों को भेजने का काम भी करता था।

8. मानसी जैनः पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया। बच्ची के डायपर में रखकर एमडी ड्रग्स लाई थी। पूछताछ में पता चला कि चार साल में ढाई करोड़ रुपये मूल्य के ड्रग्स की सप्लाई कर चुकी है। पुलिस इस मामले में आगे की छानबीन कर रही है।

Next Story

विविध