Top
राष्ट्रीय

मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली थी जिसकी संदिग्ध कार, उसकी कथित तौर पर सुसाइड से मौत

Janjwar Desk
6 March 2021 7:18 AM GMT
मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली थी जिसकी संदिग्ध कार, उसकी कथित तौर पर सुसाइड से मौत
x
सुसाइड से मौत की ये खबर तब सामने आई है, जब महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने अंबानी धमकी वाले केस में एनआईए जांच की मांग की थी।

मुंबई। हाल ही में देश के सबसे अमीर उद्योगपतियों में से एक रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) के मालिक मुकेश अंबानी के घर के बाहर एक कार मिली थी जिससे विस्फोटक पदार्थ जिलेटिन बरामद किया गया था। इसी कार से एक धमकी भरा नोट भी बरामद किया गया था। लेकिन अब ठाणे के डीसीपी ने जानकारी दी है कि जिस शख्स की ये कार थी, उन्होंने ठाणे के कलवा ब्रिज से छलांग मारकर सुसाइड कर लिया है, जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई है। मृतक की पहचान मनसुख हीरेन के रूप में की गई है। इस मामले में एक्सीडेंटल डेथ रिपोर्थ दर्ज कर ली गई है।

खबरों के मुताबिक मनसुख हीरेन के परिवार ने 5 मार्च की सुबह ही उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस स्टेशन में लिखवाई थी। जानकारी के मुताबिक 4 मार्च की शाम से ही मनसुख हीरेन लापता थे। उनका शव कलवा क्रीक पर सुबह करीब 10 बजकर 25 मिनट पर मिला। एक्सीडेंटल डेथ रिपोर्ट का केस मुंब्रा पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है।

सुसाइड से मौत की ये खबर तब सामने आई है, जब महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने अंबानी धमकी वाले केस में एनआईए जांच की मांग की थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि चोरी की गई कार और मुंबई क्राइम ब्रांच यूनिट के एपीआई सचिन वाजे, जो कि इस केस में इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर थे, दोनों के बीच कोई संबंध है।

फडणवीस ने कहा कि जांच में सामने आया कि ठाणे के एक व्यक्ति की गाड़ी है। गाड़ी में पत्र भी मिला जिसमें लिखा था अगली बार पूरे परिवार को उड़ाएंगे। "जैश-उल-हिंद" से इस मामले को जोड़ा गया था लेकिन बाद में इस संगठन ने इस बात से इनकार कर दिया। पुलिस ने बताया था की इस संगठन ने जिम्मेदारी स्वीकारी लेकिन बाद में संगठन ने मना किया। उन्होंने इस संदर्भ में पत्र जारी किया। मुम्बई क्राइम ब्रांच के जांच अधिकारी सचिन वजे जो इस मामले की जांच कर रहे हैं उनको कुछ दिनों पहले जांच से हटा दिया गया। उनको क्यों हटाया गया? ये सवाल खड़ा होता है।

मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर के करीब से 25 फरवरी को विस्फोटक भरी एक गाड़ी मिली थी। अंबानी की निजी सिक्योरिटी ने सबसे पहले इस गाड़ी को देखा और पुलिस को जानकारी दी। सूचना पाते ही जॉइंट कमिश्नर और लोकल डीसीपी अंबानी के घर पहुंचे और मुंबई पुलिस के बम निरोधक दस्ते ने गाड़ी को हटाया।

Next Story

विविध

Share it