राष्ट्रीय

Pandit Birju Maharaj: पंडितजी के कथक की दुनिया थी दीवानी, माधुरी, दीपिका को दी ट्रेनिंग, कैटरीना के लिए कही थी ये बात

Janjwar Desk
17 Jan 2022 4:20 AM GMT
dilli news
x

पं. बिरजू महाराज (4 फरवरी 1938-17 जनवरी 2022)

Pandit Birju Maharaj: माधुरी हमेशा ही उनकी पंसदीदा नृत्यांगना रही हैं। उनका मानना था कि माधुरी भी मीना कुमारी और वहीदा रहमान जैसी ही बेहतरीन डांसर हैं...

Birju Maharaj Passed Away: प्रसिद्ध कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हार्ट अटैक की वजह से निधन हो गया है। पद्म विभूषण से सम्मानित 83 वर्षीय बिरजू महाराज ने रविवार-सोमवार की दरमियानी रात दिल्ली में अंतिम सांस ली। उनके पोते स्वरांश मिश्रा ने यह जानकारी दी। बिरजू महाराज के निधन की खबर से संगीत प्रेमियों में शोक की लहर छा गई।

पंडित बिरजू महाराज ने न सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कत्थक को एक नई पहचान दिलाई। साथ ही कुछ बॉलीवुड फिल्मों में कोरियोग्राफी कर उन्हें एक नया रंग दिया है। बिरजू महाराज कथक के पर्याय थे। बिरजू महाराज लखनऊ घराने के अच्छन महाराज के घर जन्मे थे। उन्होंने अपने चाचा लच्छू महाराज और शंभू महाराज से कथक सीखा था।

बिरजू महाराज ने सबसे पहले सत्यजीत रे की फिल्म 'शतरंज के खिलाड़ी' में दो डांस नंबर की कोरियोग्राफी करने के साथ ही उन्हें अपनी आवाज भी दी थी। संजय लीला भंसाली की फिल्म 'देवदास' का गाना 'काहे छेड़ मोहे...' को बिरजू महाराज ने कोरियोग्राफ किया था। इस गाने के लिए माधुरी दीक्षित ने भारी भरकम लहंगा पहन कर डांस किया था।

माधुरी हमेशा ही उनकी पंसदीदा नृत्यांगना रही हैं। उनका मानना था कि माधुरी भी मीना कुमारी और वहीदा रहमान जैसी ही बेहतरीन डांसर हैं। फिल्म बाजीराव मस्तानी के गाने मोहे रंग दो लाल में दीपिका पादुकोण ने पिंडित बिरजू महाराज का सिखाया कथक ही किया था। दीपिका ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इसे शूट करते वक्त वो रो पड़ी थईं क्योंकि उनसे ठीक से डांस हो नहीं पा रहा था।

जबकि उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि कैटरीना कैफ को डांस करना नहीं आता, वो जो करती हैं उसे 'हिलना' कहते हैं। बिरजू महाराज ने सबसे ज्यादा माधिरी दीक्षित के गानों की कोरियोग्राफी की है। गायक मालिनी अवस्थी और अदनान सामी ने भी सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए उन्हें श्रद्धांजलि दी है।

Next Story

विविध