Top
आर्थिक

लगातार 15वें दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, मोदी विपक्ष में रहते बड़े मुखर थे

Janjwar Desk
22 Jun 2020 8:08 AM GMT
लगातार 15वें दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, मोदी विपक्ष में रहते बड़े मुखर थे

ईंधन के खुदरा मूल्य में करों का हिस्सा लगभग दो-तिहाई बैठता है. पेट्रोल के मामले में करों का हिस्सा 50.69 रुपये प्रति लीटर या 64 प्रतिशत है. इसमें 32.98 रुपये केंद्रीय उत्पाद शुल्क और 17.71 रुपये स्थानीय बिक्रीकर या वैट है...

नई दिल्ली, जनज्वार। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रविवार को लगातार 15वें दिन बढ़ोतरी का सिलसिला जारी रहा. पेट्रोल के दाम जहां 35 पैसे प्रति लीटर और बढ़ाए गए हैं, वहीं डीजल कीमतों में 60 पैसे प्रति लीटर की बढ़ो'तरी की गई है.

इससे दिल्ली में डीजल के दाम 78.27 रुपये प्रति लीटर के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए हैं. इस तरह 15 दिन में डीजल के दाम 8.88 रुपये प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं, वहीं इस दौरान पेट्रोल 7.97 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ है. पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के अनुसार, अब दिल्ली में पेट्रोल का दाम 78.88 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 79.23 रुपये प्रति लीटर हो गया है.

वहीं डीजल 77.67 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 78.27 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है. वाहन ईंधन की कीमतों में देशभर में बढ़ोतरी हुई है. हालांकि, स्थानीय बिक्रीकर या मूल्यवर्धित कर (वैट) की वजह से विभिन्न राज्यों में यह बढ़ोतरी अलग-अलग होती है.

ईंधन के खुदरा मूल्य में करों का हिस्सा लगभग दो-तिहाई बैठता है. पेट्रोल के मामले में करों का हिस्सा 50.69 रुपये प्रति लीटर या 64 प्रतिशत है. इसमें 32.98 रुपये केंद्रीय उत्पाद शुल्क और 17.71 रुपये स्थानीय बिक्रीकर या वैट है.

वहीं डीजल के खुदरा मूल्य में करों का हिस्सा करीब 63 प्रतिशत है. यह प्रति लीटर 49.43 रुपये बैठता है. इसमें 31.83 रुपये केंद्रीय उत्पाद शुल्क और 17.60 रुपये वैट है. मुंबई में पेट्रोल का दाम बढ़कर 86.04 रुपये प्रति लीटर और डीजल का 76.69 रुपये प्रति लीटर हो गया है.

पेट्रोल कीमतें भी दो साल के उच्च स्तर पर

पेट्रोलियम विपणन कंपनियों ने सात जून से ईंधन कीमतों में रोजाना लागत के हिसाब से संशोधन फिर शुरू किया था. तब से यह ईंधन कीमतों में लगातार 15वीं बढ़ोतरी है. इससे पिछले 82 दिन पेट्रोलियम विपणन कंपनियों ने कीमतों में संशोधन रोका हुआ था. अब डीजल के दाम अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गए हैं. वहीं पेट्रोल कीमतें भी दो साल के उच्चस्तर पर पहुंच गई हैं.

इससे पहले 16 अक्ट्रबर, 2018 को दिल्ली में डीजल का दाम 75.69 रुपये प्रति लीटर के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंचा था. अब डीजल कीमतों ने इस रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया है. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत चार अक्टूबर, 2018 को 84 रुपये प्रति लीटर के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंची थीं.

Next Story

विविध

Share it