राष्ट्रीय

मण्डोली जेल से तिहाड़ शिफ्ट किये गए पहलवान सुशील के साथ पुलिस की सेल्फी हुई वायरल, मुस्कुराता दिखा हत्यारोपी

Janjwar Desk
25 Jun 2021 11:21 AM GMT
मण्डोली जेल से तिहाड़ शिफ्ट किये गए पहलवान सुशील के साथ पुलिस की सेल्फी हुई वायरल, मुस्कुराता दिखा हत्यारोपी
x

मण्डोली जेल से तिहाड़ ले जाते समय फोटोशेसन कराता सुशील पहलवान.हावभाव से वीआईपी ट्रीटमेंट दिए जाने की आशंका.

सुशील ने कथित संपत्ति विवाद को लेकर अपने साथियों के साथ मिलकर चार मई और पांच मई की मध्यरात्रि को स्टेडियम में सागर धनखड़ और उसके दो दोस्तों की पिटाई की थी। बाद में 23 वर्षीय धनखड़ की चोटों के कारण मौत हो गई थी...

जनज्वार ब्यूरो। पहलवान सागर धनखड़ की हत्याकांड के आरोपी तथा ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार को आज शुक्रवार मंडोली जेल से तिहाड़ शिफ्ट कर दिया गया। इस दौरान पुलिसकर्मी हत्या के आरोपी सुशील कुमार के साथ फोटो लेते हुए दिखाई दिए। इस दौरान सुशील कुमार मुस्कुराते नजर आया। फोटो वायरल होने के बाद सवाल उठने लगे हैं कि क्या उसे जेल के अंदर स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जा रहा है।

बता दें कि ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार की न्यायिक हिरासत नौ जुलाई तक बढ़ा दी है। सुशील को 14 दिन की न्यायिक हिरासत की अवधि समाप्त होने पर शुक्रवार को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट मयंक अग्रवाल के समक्ष पेश किया गया। वह हत्या, गैर-इरादतन हत्या और अपहरण के आरोपों का सामना कर रहे हैं। आरोपी के वकील के अनुसार उन्हें मंडोली जेल से तिहाड़ की जेल संख्या दो में भेजा गया है।

सुशील ने कथित संपत्ति विवाद को लेकर अपने साथियों के साथ मिलकर चार मई और पांच मई की मध्यरात्रि को स्टेडियम में सागर धनखड़ और उसके दो दोस्तों की पिटाई की थी। बाद में 23 वर्षीय धनखड़ की चोटों के कारण मौत हो गई थी।

पुलिस का दावा था कि सुशील कुमार हत्या का मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड है और वीडियो भी उपलब्ध हैं, जिसमें कुमार और उसके साथियों को धनखड़ की पिटाई करते हुए देखा जा सकता है। सुशील कुमार को 23 मई को उनके साथी अजय कुमार सहरावत के साथ पकड़ा गया था। घटना के संबंध में सुशील कुमार समेत कुल 10 लोगों को अभी तक गिरफ्तार किया गया है।

बताया जा रहा है कि सुशील ने जेल प्रशासन से कहा था कि उनकी जान को लॉरेंस बिश्नोई-काला जठेड़ी गैंग से खतरा है। सुशील को डर था कि जेल में काला जठेड़ी के गुर्गे उसे निशाना बना सकते हैं। जेल में काला जठेड़ी गिरोह के गुर्गे भी बंद थे।

दरअसल सागर के साथ जिस सोनू की सुशील व उसके साथियों ने पिटाई लगाई थी, वह जठेड़ी का करीबी रिश्तेदार है। इसकी वजह से जठेड़ी ने सुशील को देख लेने की धमकी दी हुई है।

गौरतलब है कि दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई की रात दिल्ली के मॉडल टॉउन थाने के इलाके में पहलवान सुशील और उसके साथियों ने एक फ्लैट से सागर और उसके दोस्तों का अपहरण किया। फिर छत्रसाल स्टेडियम में ले जाकर उनकी बेरहमी से पिटाई की। इसमें सागर बुरी तरह घायल हो गया था। इलाज के दौरान सागर की मौत हो गई थी। वारदात के बाद पुलिस को स्टेडियम का एक सीसीटीवी फुटेज भी हाथ लगा है।

सीसीटीवी फुटेज में सुशील 20-25 पहलवानों और असौदा गिरोह के बदमाशों के साथ सागर धनखड़ और दो अन्य को पीटता दिखा है। सभी लोग सागर को लात-घूंसों, डंडों, बैट व हॉकी से मारते दिख रहे हैं। फुटेज में सुशील सागर व दो अन्य पीड़ितों पर हॉकी चलाता भी दिखा है। सभी पहलवान और बदमाश स्टेडियम के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे।

Next Story

विविध

Share it