Top
राष्ट्रीय

RSS ने बताया प्रणब मुखर्जी को अपना मार्गदर्शक, कहा उनका जाना अपूरणीय क्षति

Janjwar Desk
31 Aug 2020 4:34 PM GMT
RSS ने बताया प्रणब मुखर्जी को अपना मार्गदर्शक, कहा उनका जाना अपूरणीय क्षति
x

File photo

संघ ने कहा, कुशल प्रशासक, राष्ट्र-हित सर्वोपरि का भाव जीवन में रख, राजनैतिक अस्पृश्यता से परे व सभी दलों में समान रूप से सम्मानित, मितभाषी, लोकप्रिय पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज अपनी जीवन यात्रा पूर्ण कर परम तत्व में विलीन हो गए.....

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने भी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक जताया है। आरएसएस ने उन्हें अपना मार्गदर्शक बताते हुए निधन को संगठन के लिए अपूरणीय क्षति बताया है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत और सरकार्यवाह सुरेश भय्याजी जोशी के हवाले से जारी बयान में कहा गया है कि मुखर्जी का जाना संघ के लिए एक अपूरणीय क्षति है।

संघ ने कहा, कुशल प्रशासक, राष्ट्र-हित सर्वोपरि का भाव जीवन में रख, राजनैतिक अस्पृश्यता से परे व सभी दलों में समान रूप से सम्मानित, मितभाषी, लोकप्रिय पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज अपनी जीवन यात्रा पूर्ण कर परम तत्व में विलीन हो गए।

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा, भारत के राजनैतिक-सामाजिक जीवन में उपजी इस शून्यता को भरना आसान नहीं होगा। संघ के प्रति उनके प्रेम और सद्भाव के चलते हमारे लिए तो वे एक मार्दर्शक थे। उनका जाना संघ के लिए एक अपूरणीय क्षति है। सभी परिवारजनों को गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए प्रभु से प्रार्थना है कि वे अपने श्री चरणों में स्थान दें।

उल्लेखनीय है कि देश के 13वें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सोमवार को नई दिल्ली में अंतिम सांस ली। वह लम्बे समय से बीमार थे। यहां के सेना के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

Next Story

विविध

Share it