राष्ट्रीय

केंद्रीय राज्यमंत्रियों की आवाज निकालकर अधिकारियों से करवाते थे काम, पुलिस के हत्थे चढ़े दोनों अभियुक्त

Janjwar Desk
6 July 2021 3:21 PM GMT
केंद्रीय राज्यमंत्रियों की आवाज निकालकर अधिकारियों से करवाते थे काम, पुलिस के हत्थे चढ़े दोनों अभियुक्त
x

(एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि सांसद प्रतिनिधि की ओर से पुलिस को शिकायत मिली थी)

एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि सांसद प्रतिनिधि की ओर से पुलिस को शिकायत मिली थी। शिकायत के आधार पर पुलिस ने दो युवकों को इस मामले में गिरफ्तार किया है...

जनज्वार डेस्क। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के थाना कवि नगर पुलिस के हत्थे दो शातिर बदमाश चढ़े हैं। दोनों अभियुक्तों पर आरोप है कि वह फर्जी सिम कार्ड के जरिए केंद्रीय राज्यमंत्रियों की आवाज निकालकर अधिकारियों पर दबाव बनाकर काम करवाते थे। गाजियाबाद सांसद प्रतिनिधि ने जब इन दोनों की शिकायत पुलिस को दी दो को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, मूल रूप से बागपत के थाना छपरौली के रहने वाले विक्रांत और हर्ष नाम के दो युवक फर्जी सिम कार्ड के जरिए केंद्रीय राज्य मंत्रियों की आवाज में अधिकारियों को फोन कर उन पर काम करने का दबाव बनाते थे।

इसकी जानकारी गाजियाबाद के सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह के प्रतिनिधि को मिली तो उन्होंने थाना कविनगर में आरोपियों के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने अपना जाल बिछाते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि सांसद प्रतिनिधि की ओर से पुलिस को शिकायत मिली थी। शिकायत के आधार पर पुलिस ने दो युवकों को इस मामले में गिरफ्तार किया है।

आरोपियों ने बताया कि केंद्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान और केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह की आवाज में अधिकारियों को फोन कर काम करने का दबाव बनाकर थे। दोनों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया गया है।

Next Story

विविध

Share it