राष्ट्रीय

UP : बदायूं में 15 अगस्त की रिहर्सल कर रहे बच्चों में भगत सिंह बना मासूम फांसी पर झूला, दर्दनाक मौत

Janjwar Desk
30 July 2021 10:10 AM GMT
UP : बदायूं में 15 अगस्त की रिहर्सल कर रहे बच्चों में भगत सिंह बना मासूम फांसी पर झूला, दर्दनाक मौत
x

हादसे में बच्चे की मौत के बाद बिलखते परिजन. (photo-twitter)

शिवम सरदार भगत सिंह का रोल प्ले कर रहा था। इस रिहर्सल के दौरान छत में लगे कुंडे में बच्चों का एक झूला भी पड़ा हुआ था। जिस पर शिवम स्टूल के सहारे खड़ा हो गया और उसे फंदा बनाकर अपने गले में डाल दिया..

जनज्वार, बदायूं। उत्तर प्रदेश के बदायूं (Badaun) से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां 15 अगस्त के रिहर्सल की तैयारी कर रहे कुछ बच्चे घर में ही रिहर्सल कर रहे थे, जिसमें कोई भगत सिंह बना था, कोई राजगुरु तो कोई सुखदेव बना था। घर में अकेले बच्चों का खेल चल रहा था।

इसी खेल के रिहर्सल में गले में फंदा लगाए एक बच्चा गले में रस्सी का फंदा डालकर स्टूल पर खड़ा हो गया। अचानक स्टूल से 10 वर्षीय एक बच्चे का पैर फिसल गया, मासूम की फंदा कसने से मौत हो गई। हादसे के बाद परिजनों में मातम छाया हुआ है। परिजनों ने बिना पोस्टमार्टम कराए बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया।

पूरा मामला बदायूं के कुंवरगांव थाना क्षेत्र इलाके के बावट ग्राम का है। यहां नौनिहाल शिवम अपने घर में बच्चों के साथ खेल रहा था। उसके माता-पिता खेतों में काम करने गए हुए थे। यह बच्चे आगामी 15 अगस्त को लेकर खेल खेल रहे थे। जिसमें बच्चे विभिन्न प्रकार की भूमिकाओं को लेकर तैयारी कर रहे थे।

इस रिहर्सल में आरती का बेटा शिवम सरदार भगत सिंह का रोल प्ले कर रहा था। इस रिहर्सल के दौरान छत में लगे कुंडे में बच्चों का एक झूला भी पड़ा हुआ था। जिस पर शिवम स्टूल के सहारे खड़ा हो गया और उसे फंदा बनाकर अपने गले में डाल दिया।

इस बीच अचानक स्टूल पर से उसका पैर फिसल गया और फंदा उसके गले में कस गया। शिवम को रस्सी पर लटका देख बाकी बच्चे घबरा गए और वह वहां से भाग गए। कुछ देर बाद जब शिवम की मां घर वापस आई तो उसने शिवम को फंदे से लटके देख दंग रह गई। उसे नीचे उतारा गया, लेकिन तब तक बच्चे की मौत हो चुकी थी।

इस दर्दनाक हादसे में शिवम की मौत से परिजनों सहित आस-पड़ोस के लोगों में शोक की लहर दौड़ गई। जिसने भी हादसे की खबर सुनी वह हैरान रह गया। वहीं परिजनों ने बिना बच्चे का पोस्टमार्टम कराए ही अंतिम संस्कार कर दिया है।

Next Story

विविध

Share it