Top
उत्तर प्रदेश

अपनी ही बेटी को बेचने का आरोप लगाकर दलित हलवाई की पीटकर निर्मम हत्या, 4 गिरफ्तार

Janjwar Desk
7 Sep 2020 4:02 PM GMT
अपनी ही बेटी को बेचने का आरोप लगाकर दलित हलवाई की पीटकर निर्मम हत्या, 4 गिरफ्तार
x
हलवाई को बेरहमी से पीटने के बाद सभी युवक उसे मरणासन्न हालत में छोड़कर भाग गए थे जिसकी जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने रविवार देर रात सर्वेश को जिला अस्पताल में भर्ती कराया ......

मैनपुरी। उत्तर प्रदेश के मैनपुरी में बना शहर मोहल्ला खरगजीत नगर उस वक्त सनसनी का आलम हो गया जब एक दलित हलवाई की पीटकर निर्मम हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि उक्त युवकों को शक था कि हलवाई ने अपनी ही बेटी को बेच दिया है। वारदात का वीडियो भी वायरल हुआ है। पुलिस ने मोहल्ले के ही चार युवकों पूछताछ के बाद हिरासत में लिया है।

दरअसल फिरोजाबाद के गांव मलापुर थाना सिरसागंज निवासी 40 वर्षीय सर्वेश दिवाकर उर्फ बैंगन पिछले करीब छह वर्ष से शहर के मोहल्ला खरगजीत नगर स्थित रमेश सिंह के मकान में किराए पर रह रहा था। वह शादी बारातों सहित अन्य आयोजनों में हलवाई का काम करता था। रक्षाबंधन पर उसकी पत्नी सुनीता दो बेटों के साथ मायके कोलकाता चली गई थी। हलवाई रमेश अपनी 15 वर्षीय बेटी हेमा के साथ खरगजीत नगर में ही रह रहा था।

करीब चार दिन पहले उसने बेटी को एक रिशतेदार के यहां नोएडा भेज दिया। वहीं मोहल्ले में किसी ने हलवाई द्वारा अपनी बेटी को बेच देने की अफवाह उड़ा दी। इसी बात को लेकर रविवार देर शाम मोहल्ले के ही कुछ युवाओं से उसकी कहासुनी भी हो गई थी। युवाओं ने उसे पीटना शुरू कर दिया। पकड़ कर एक निर्माणाधीन छत के ऊपर ले गए। वहां भी बेरहमी से पीटा था।

हलवाई को बेरहमी से पीटने के बाद सभी युवक उसे मरणासन्न हालत में छोड़कर भाग गए थे। जिसकी जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने रविवार देर रात सर्वेश को जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। जहाँ से बताया जा रहा है कि सोमवार की सुबह इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

सोमवार 7 सितंबर को जब वारदात का वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस हरकत में आई। जिसके बाद पुलिस ने फुटेज के आधार पर दबिश देकर खरगजीत नगर से चार युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक के भाई कमलेश ने खरगजीत नगर निवासी साहुल जादौन पुत्र राजेंद्र सिंह, शिवजी उर्फ शिवम पुत्र श्रीपाल और राजन सहित एक अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

एसपी अजय कुमार पाण्डेय ने बताया कि मृतक की पुत्री के मुताबिक पिता ने उसे पढ़ने के लिए परिचित के यहां भेजा था। उसे बेचे जाने का आरोप पूर्णतया गलत है। पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों से पूछताछ चल रही है साथ ही अन्य आरोपियों की तलाश तथा दबिश चल रही है।

Next Story

विविध

Share it