Top
उत्तर प्रदेश

जेल से डॉन की धमकी के बाद BJP नेता ने बताया जान को खतरा, बोले पहले उसने मेरे दो परिचितों को मार डाला

Janjwar Desk
28 July 2020 1:27 PM GMT
जेल से डॉन की धमकी के बाद BJP नेता ने बताया जान को खतरा, बोले पहले उसने मेरे दो परिचितों को मार डाला
x
भाजपा विधायक ने कहा कि इस क्षेत्र में अवैध खनन गतिविधियों को रोकने के लिए वह मुझे जिम्मेदार मानता है, मेरे दो परिचितों को उसके आदमियों ने पिछले महीने मार डाला, मेरी जिंदगी को सच में खतरा है...

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के भाजपा विधायक योगेश धामा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्य के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर दावा किया है कि दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर सुनील राठी से उनकी (धामा) जान को खतरा है। राठी एक अन्य गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले में जेल में है। धामा ने कहा कि गैंगस्टर ने बागपत की अदालत में मुन्ना बजरंगी मामले की सुनवाई के लिए आने पर उन्हें खुलेआम धमकी दी।

उन्होंने कहा, 'इस क्षेत्र में अवैध खनन गतिविधियों को रोकने के लिए वह मुझे जिम्मेदार मानता है। मेरे दो परिचितों को उसके आदमियों ने पिछले महीने मार डाला, जो साबित करता है कि मेरी जिंदगी को सच में खतरा है।'

विधायक ने दावा किया कि राठी एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे से बी ज्यादा खतरनाक है, जो (जुबे) कानपुर में इस महीने की शुरुआत में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी था। बागपत के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) अनित कुमार ने कहा, 'धामा ने हमसे संपर्क नहीं किया है और हम उन्हें प्रोटोकॉल के अनुसार सुरक्षा मुहैया करा रहे हैं।'

एएसपी ने कहा कि झगड़ा तब शुरू हुआ, जब स्थानीय विधायक ने राठी के अवैध खनन कारोबार के खिलाफ शिकायत की। उन्होंने कहा, "वह अपने आदमी मनीष चौहान के माध्यम से ऐसा कर रहा था, जिसके पास रेत खनन का लाइसेंस था, लेकिन वह अनुमति सीमा से अधिक निकाल रहा था। जब विधायक ने मुद्दा उठाया, तो जिला प्रशासन ने उसका लाइसेंस रद्द कर दिया और उस पर 4 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया।"

राठी के गुर्गो ने 7 जुलाई को राष्ट्रीय लोकदल के नेता देशपाल खोखर की गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने अपने गांव से बालू ले जा रहे ट्रकों के गुजरने पर आपत्ति जताई थी।

एएसपी ने कहा, 'हमने रविवार को मुठभेड़ के बाद मामले के संबंध में राठी के दो शार्पशूटर को गिरफ्तार किया है।' राठी के गुर्गों ने कथित रूप से हिस्ट्रीशीटर परमवीर तुगाना को भी मार डाला, जो योगेश धामा का करीबी बताया जाता है।

Next Story

विविध

Share it