Top
उत्तर प्रदेश

UP में जंगलराज : वाराणसी में सरेआम व्यवसायी की गोली मारकर हत्या, BJP से जुड़े हत्यारों के तार

Janjwar Desk
22 Aug 2020 6:32 AM GMT
UP में जंगलराज : वाराणसी में सरेआम व्यवसायी की गोली मारकर हत्या, BJP से जुड़े हत्यारों के तार
x
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अभी परसों ही यूपी में न्यूनतम अपराध हो चुकने के आंकड़े पेश किए थे। जिसके बाद कल 21 अगस्त को यूपी में अलग आयोग जिलों से कई हत्याओं की सूचना मिली थी। कल देर रात ही प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के मलहिया स्थित गायत्री नगर चौराहे पर वाहन खड़ा करने के विवाद में युवक की हत्या कर दी गई।

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अभी परसों ही यूपी में न्यूनतम अपराध हो चुकने के आंकड़े पेश किए थे। जिसके बाद कल 21 अगस्त को यूपी में अलग आयोग जिलों से कई हत्याओं की सूचना मिली थी। कल देर रात ही प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के मलहिया स्थित गायत्री नगर चौराहे पर वाहन खड़ा करने के विवाद में युवक की हत्या कर दी गई।

बताया जा रहा है कि झगड़ा होने से थोड़ी ही देर बाद ताबड़तोड़ फायरिंग कर 29 वर्षीय अनिल यादव उर्फ गोरख की गोली मारकर हत्या दी गई। वारदात के समय अनिल की पत्नी तीज की पूजा कर रही थी। घटनास्थल के आसपास मौजूद लोगों ने मौके से रोशन द्विवेदी को पकड़कर जमकर पीटा और पुलिस को सौंप दिया। इसके साथ ही चार अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है। घटना को लेकर व्याप्त तनाव को देखते हुए बीएचयू ट्रॉमा सेंटर और गायत्री नगर में पुलिस तैनात की गई है।

दरअसल वाराणसी के लंका थाना अंतर्गत मलहिया क्षेत्र निवासी अनिल तीन भाइयों में सबसे छोटा था। वह अपने भाइयों के साथ बीएचयू के विश्वनाथ मंदिर के सामने फूड आइटम की दुकान के संचालन में हाथ बंटाता था। लंका थाने में अनिल के खिलाफ लूट और मारपीट सहित अन्य आरोपों में मुकदमे भी दर्ज हैं।

मूल रूप से चंदौली जिले के चकिया थाना के लालपुर गांव का रहने वाला रोशन द्विवेदी गायत्री नगर में रहता है और आईटीआई कॉलेज का संचालन करता है। बताया जाता है कि रोशन लाइसेंसी पिस्टल लेकर रात में तीन चार पहिया वाहन से गायत्री नगर चौराहे की ओर गया था। चौराहे पर मोमोज की दुकान के सामने सफारी वाहन खड़ा करने को लेकर वहां पहले से मौजूद अनिल की बाइक हटाने को लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद अनिल और रोशन के पक्ष के लोगों के बीच लाठी-डंडे से मारपीट हुई।

अनिल की पत्नी रेखा घर में अपने सुहाग के सौभाग्य के लिए तीज व्रत की पूजा करने जा रही थी। बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में बदहवाश रेखा का कहना था कि 'हे भोलेनाथ ई का भयल, कहले रहली कि पूजा के बाद घरे से बहिरे जइहा, कउन गलती हो गइल हो भगवान... यह रटते हुए रेखा बेहोश हो जा रही थी।'

परिजनों ने बताया कि अनिल का एक बेटा है। पति पर हमले की जानकारी पाकर रेखा पूजा छोड़कर लाठी लेकर घटनास्थल पर पहुंच गई थी। हालांकि तब तक वहां स्थानीय लोगों ने आरोपी रोशन को पीटकर पुलिस के हवाले कर दिया था। घटनास्थल पर मौजूद लोगों के अनुसार रोशन के अलावा किसी और ने भी फायरिंग की थी।

गायत्री नगर में गोली चलने की सूचना पाकर रोशन के पक्ष से जिले के भाजपा के आठ से 10 नेता बीएचयू ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। बताया जाता है कि रोशन के एक रिश्तेदार भाजपा के नेता हैं और इसी वजह से भाजपा के अन्य नेता ट्रॉमा सेंटर आए थे।

हालांकि पत्रकारों ने जब भाजपा नेताओं से उनके ट्रॉमा सेंटर आने का कारण पूछा तो सभी का कहना था कि समीप में ही गांधी नगर में पार्टी की बैठक थी। घटना की जानकारी मिली तो ट्रॉमा सेंटर चले आए। इसके बाद पत्रकारों के सवाल का दौर बढ़ता देख भाजपा नेता ट्रॉमा सेंटर से धीरे से खिसक लिए। उधर, वारदात के बाद एहतियातन छह थाने की फोर्स ट्रॉमा सेंटर और मलहिया क्षेत्र में तैनात की गई है।

एसएसपी अमित कुमार पाठक ने बताया कि मारपीट के दौरान रोशन ने चार से पांच राउंड फायरिंग की। मौजूद लोगों ने देखा कि अनिल जमीन पर गिरा हुआ है तो सभी ने रोशन को पकड़कर जमकर पीटा और पुलिस को सौंप दिया। बीएचयू ट्रॉमा सेंटर ले जाए जाने पर डॉक्टरों ने बताया कि अनिल के पेट में बायीं तरफ गोली लगी थी और उसकी मौत हो गई है।

मामले में चार युवकों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it