अंधविश्वास

Gorakhpur News: सूखा से निजात के लिये बुजुर्ग को गोबर से नहलाया, शिकायत करने पर आरोपियों ने की पिटाई

Janjwar Desk
20 July 2022 9:44 AM GMT
Gorakhpur News: सूखा से निजात के लिये बुजुर्ग को गोबर से नहलाया, शिकायत करने पर आरोपियों ने की पिटाई
x

Gorakhpur News: सूखा से निजात के लिये बुजुर्ग को गोबर से नहलाया, शिकायत करने पर आरोपियों ने की पिटाई

Gorakhpur News: बारिश न होने से परेशान लोग अब टोना-टोटके में उतारू हैं, लोग तरह-तरह से बारिश होने के उपाय आज़मा रहे हैं। यूपी के गोरखपुर जिले में बारिश के लिए एक 75 वर्षीय बुजुर्ग को गोबर से नहला दिया गया, जिससे दो पक्षों के बीच मारा-पीटी तक हो गई। पीडित ने मंगलवार को थाने में शिकायत की है

Gorakhpur News: बारिश न होने से परेशान लोग अब टोना-टोटके में उतारू हैं, लोग तरह-तरह से बारिश होने के उपाय आज़मा रहे हैं। यूपी के गोरखपुर जिले में बारिश के लिए एक 75 वर्षीय बुजुर्ग को गोबर से नहला दिया गया, जिससे दो पक्षों के बीच मारा-पीटी तक हो गई। पीडित ने मंगलवार को थाने में शिकायत की है

गोरखपुर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। गोविंदपुर क्षेत्र में आयोजित अखंड पाठ के दौरान युवकों ने 18 जुलाई सोमवार की रात टोटका करते हुये 75 वर्षीय जगदीश पाण्डेय को गोबर के घोल से नहला दिया, जो दो पक्षों के बीच विवाद की जड़ बन गया। पीडित जगदीश पाण्डेय ने 19 जुलाई मंगलवार को थाने में शिकायत की है, तहरीर में बताया कि उसे कुछ लोगों ने गोबर घोल कर सराबोर कर दिया। आरोपियों को पुलिस में शिकायत की जानकारी हुई तो बुजुर्ग की पिटाई कर दी। मामला तूल पकड़ता देख पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

पीडित जगदीश पाण्डेय

जानकारी के मुताबिक गोविंदपुर गांव में बारिश के लिए तरह-तरह के टोटके किए जा रहे हैं। इसी क्रम में इंद्र देव को खुश करने के लिए सोमवार की रात को अखण्‍ड पाठ का आयोजन किया गया था। किसी ने युवकों को बता दिया कि अगर गोबर व गंदगी का घोल बनाकर किसी बुजुर्ग को नहला दिया जाए तो बारिश हो सकती है। बस इतना कहना था कि युवकों ने अंध-विश्‍वास के चक्‍कर में पड़कर गोबर का घोल बनाया और बुजुर्ग जगदीश पांडेय पर उड़ेल दिया। वह ऊपर से लेकर नीचे तक गोबर से सराबोर हो गए। जगदीश के मुताबिक गंदगी उनके आंख, नाक व मुंह में चली गई, जिससे वह परेशानी में पड़ गये।

Janjwar Desk

Janjwar Desk

    Next Story

    विविध