Top
उत्तर प्रदेश

गोरखपुर में जीते प्रत्याशी के बताया हारा, समर्थकों ने पेट्रोल डालकर PAC की बस सहित पुलिस चौकी को लगाई आग

Janjwar Desk
6 May 2021 4:36 AM GMT
गोरखपुर में जीते प्रत्याशी के बताया हारा, समर्थकों ने पेट्रोल डालकर PAC की बस सहित पुलिस चौकी को लगाई आग
x

फोटो - जनज्वार

अपने जीते प्रत्याशी को हारा बताने पर बुधवार 5 मई की देर शाम समर्थकों ने पेट्रोल छिड़ककर नई बाजार पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान वहां मौजूद पुलिसवालों ने भागकर अपनी जान बचाई। ग्रामीणों की घेराबंदी कर रही पीएसी को भी दौड़ा लिया गया....

जनज्वार ब्यूरो, लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में मिली हार जीत को लेकर हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। बुधवार देर शाम सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ के गृहनगर गोरखपुर में जीते और हारे प्रत्याशियों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। उपद्रवियों ने पीएसी बल को खदेड़ लिया। पुलिस चौकी सहित पीएसी की एक बस को आग के हवाले कर दिया। घटना के बाद माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है।

जिला पंचायत गोरखपुर के सदस्य प्रत्याशी कोदाई निय़ाद का आरोप था कि यहां लगे आरओ वीरेंद्र कुमार ने पहले उन्हें जीता हुआ घोषित किया था, लेकिन बाद में प्रमाण पत्र रमेश उर्फ गब्बर यादव को दे दिया गया। जिससे नाराज होकर कोदाई के समर्थकों ने ब्लॉक मुख्यालय पर धरना दे दिया। ठीक इसी दौरान एक अन्य प्रत्याशी रवि निषाद भी हेरपेर का आरोप लगाकर प्रदर्शन करने लगा। शाम को उग्र हुए ग्रामीणों ने नई बाजार चौकी पर हमला बोल दिया।

अपने जीते प्रत्याशी को हारा बताने पर बुधवार 5 मई की देर शाम समर्थकों ने पेट्रोल छिड़ककर नई बाजार पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान वहां मौजूद पुलिसवालों ने भागकर अपनी जान बचाई। ग्रामीणों की घेराबंदी कर रही पीएसी को भी दौड़ा लिया गया। आक्रोशित लोगों ने पीआरवी की दो गाड़ियां तोड़ने के साथ पीएसी की एक बस को भी आग लगा दी।

बताया जा रहा है कि पेट्रोल से लगी आग इतनी विकराल थी की उसे बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड की गाड़ी बुलानी पड़ी। रात में प्रशासन ने कोदाई को विजयी मानते हुए उसे ही जीत का प्रमाणपत्र दिया। एसएसपी डी के प्रभु का दावा हा कि 'हालात काबू में हैं। लाठीचार्ज के बाद बमुश्किल भीड़ काबू में आई, इलाके में फोर्स तैनात कर दी गई है। '

Next Story

विविध

Share it