Top
उत्तर प्रदेश

यूपी के स्वास्थ्य सचिव का दावा, प्रदेश के 58 जिलों के शहरी गरीब बस्तियों में कोरोना संक्रमण नहीं

Janjwar Desk
20 Jun 2020 1:30 AM GMT
यूपी के स्वास्थ्य सचिव का दावा, प्रदेश के 58 जिलों के शहरी गरीब बस्तियों में कोरोना संक्रमण नहीं
x
प्रमुख सचिव ने बताया कि कुल 3,475 कोरोना नमूनों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जिसमें से मात्र 65 में संक्रमण की पुष्टि हुई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में इन बस्तियों में रहने वाले 1़87 प्रतिशत लोग ही पॉजिटिव पाए गए हैं।

जनज्वार ब्यूरो। उत्तर प्रदेश में सामुदायिक स्तर पर कोरोना का संक्रमण नहीं फैला है। स्वास्थ्य विभाग के प्रदेशस्तरीय सर्वे में यह बात सामने आई है। सूबे के सभी 75 जनपदों में शहरी झुग्गी-झोपड़ियों में की गई रैंडम जांच में 58 जिलों में संक्रमण नहीं पाया गया है।

प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को बताया कि रैंडम सैम्पलिंग के तहत सभी 75 जनपदों में शहरों के स्लम एरिया में जाकर कोरोना नमूने लिए गए। बड़े जिलों में 10-10, मध्यम जिलों में 5-5 और छोटे जिलों में 2-2 स्लम एरिया में जाकर रैंडम जांच की गई। उन्होंने बताया कि इसमें 58 जिलों में कोराना संक्रमण नहीं पाया गया। केवल 17 जनपदों में इसकी पुष्टि हुई है।

प्रमुख सचिव ने बताया कि कुल 3,475 कोरोना नमूनों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जिसमें से मात्र 65 में संक्रमण की पुष्टि हुई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में इन बस्तियों में रहने वाले 1़87 प्रतिशत लोग ही पॉजिटिव पाए गए हैं।

स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा अलग-अलग इलाकों का जायजा लिया जा रहा है, जिससे घनी बस्ती वाले क्षेत्रों में संक्रमण के स्तर का पता चल सके। इसके साथ ही इस तरह की पहल से लोग कोरोना को लेकर जागरूक भी हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिन जनपदों में शहरी झुग्गी-झोपड़ी वाले इलाकों में संक्रमण पाया गया है, वहां और ज्यादा सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं, जिससे कोरोना का फैलाव रोका जा सके।

Next Story

विविध

Share it