राष्ट्रीय

कानपुर में भाजपा विधायक के घर से बाहर गिरफ्तार युवकों से बरामद तमंचा रिकवरी की थाने में टेस्टिंग का वीडियो वायरल

Janjwar Desk
21 May 2021 3:39 AM GMT
कानपुर में भाजपा विधायक के घर से बाहर गिरफ्तार युवकों से बरामद तमंचा रिकवरी की थाने में टेस्टिंग का वीडियो वायरल
x

सोमवार 17 मई को BJP विधायक सुरेंद्र मैथानी के घर के बाहर धमाका हुआ था.पकड़े गए 3 युवकों पर तमंचा दिखाने के लिए काकादेव चौकी इंचार्ज आनंद प्रकास के सामने चल रही टेस्टिंग. 

17 मई को भाजपा विधायक सुरेंद्र मैथानी के घर के बाहर काकादेव पुलिस ने तीन युवकों को हिरासत में लिया था, इस गिरफ्तारी में पुलिस का दावा था कि युवकों के पास से एक तमंचा, चाकू सहित देशी बम भी बरामद किया गया था...

जनज्वार, कानपुर। यूपी के कानपुर में पुलिस का एक वीडियो वायरल होने से हड़कंप मचा हुआ है। यह वीडियो काकादेव थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। इस वीडियो में काकादेव पुलिस द्वारा आरोपियों के पास तमंचा बरामद करवाने का खेल सामने आया है। वीडियो में पुलिस वाला तमंचा देखकर कह रहा है कि यह खराब है, सही वाला तमंचा लगाया जाएगा।

गुरुवार 20 मई को यह वीडियो वायरल होते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। वीडियो में पुलिस का सत्ता के प्रति झुकाव तौर पर दिख रहा है। वीडियो सामने आने के बाद कमिश्नर ने एडीसीपी पश्चिम को जांच सौंपी है। पुलिस ने शुरुआती जांच का दावा है कि वीडियो एडिटेड है। जांच के बाद कई पहलू साफ होंगे। हालांकि यह वीडियो एडिटेड है या फिर आरिजिनल, जनज्वार इसकी पुष्टि नहीं करता है।

दरअसल बीती सोमवार 17 मई को भाजपा विधायक सुरेंद्र मैथानी के घर के बाहर काकादेव पुलिस ने तीन युवकों को हिरासत में लिया था। इस गिरफ्तारी में पुलिस का दावा था कि युवकों के पास से एक तमंचा, चाकू सहित देशी बम भी बरामद किया गया था। वहीं विधायक का कहना था कि तीनों युवक उन पर हमला करने आए थे। मैथानी की यह बात बाद में गलत निकली थी।

भाजपा विधायक का आरोप है कि दोनों युवक उनके ऊपर जानलेवा हमला करने आए थे। बदमाशों ने एक बम भी फेंका जो नहीं फूटा। विधायक ने इस घटनाक्रम को बड़ी साजिश करार दिया है। आरोप लगाया कि उनकी हत्या करने के लिए बदमाश भेजे गए थे। पुलिस दोनों बदमाशों को गिरफ्तार करके पूछताछ कर रही है। मुख्य आरोपी अभी फरार है। इसके साथ ही विधायक के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

गुरुवार 20 मई की शाम इसी घटना से संबंधित एक वीडियो वायरल हुआ था। वीडियो पांडु नगर चौकी का है, जिसमें चौकी इंचार्ज आनंद प्रकाश की टेबल पर एक देशी तमंचा रखा हुआ नजर आ रहा है। तमंचा उठाते हुए चौकी प्रभारी आनंद प्रकाश यह कहते सुनाई दे रहे हैं कि यह चालू हालत में नहीं है, दूसरा ठीक वाला लगाएंगे। सादी वर्दी में खड़ा एक शख्स तमंचे का ट्रायल भी करता है।

बातचीत में एक शख्स कहता सुनाई दे रहा है कि तमंचा यहां बरामद क्यों नहीं दिखा सकते, जिस पर चौकी प्रभारी आनंद प्रकाश कह रहा है कि यह सब मौके पर यानी विधायक के घर के पास ही बरामद और सील दिखायेंगे। इससे सवाल उठने लगे हैं कि क्या काकादेव पुलिस ने तमंचा बरामदगी में बड़ा खेल किया है? इससे पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में सत्ता समर्थक लोग तीनों युवकों की थाने में पुलिस के सामने ही पिटाई करते हैं।

तमंचा रिकवर दिखाने के लिए चौकी में की गई टेस्टिंग को लेकर सपा विधायक अमिताभ बाजपेई ने कहा कि 'उत्कृष्ठ कानून व्यवस्था बनाने के तरीके बताते हुए थाना काकादेव के चौकी प्रभारी आनंद प्रकाश। वाह योगीराज। तभी आम आदमी चौकी और पुलिस के नाम से घबराता है।'

Next Story

विविध

Share it