Top
राष्ट्रीय

WhatsApp की नई मानिटरिंग पाॅलिसी का विरोध शुरू, कंपनी Facebook से शेयर करेगी आपका डाटा

Janjwar Desk
8 Jan 2021 4:48 AM GMT
WhatsApp की नई मानिटरिंग पाॅलिसी का विरोध शुरू, कंपनी Facebook से शेयर करेगी आपका डाटा
x
वाट्सएप की नई प्राइवेसी पाॅलिसी आठ फरवरी 2021 से लागू हो जाएगी। इसके तहत सोशल चैटिंग एप यूजर्स का डाटा मूल कंपनी फेसबुक से शेयर करेगा। इसको लेकर लोग गोपनीयता व निजता का मुद्दा उठाते हुए वाट्सएप की जगह टेलीग्राम यूज करने की बात कह रहे हैं...

नई दिल्ली। फेसबुक के स्वामित्व वाली सोशल मीडिया चैटिंग प्लेटफार्म वाट्सएप की नई पाॅलिसी का विरोध शुरू हो गया है। सोशल मीडिया पर वाट्सएप न्यू पाॅलिसी के साथ टेलीग्राम व वाट्सएप प्राइवेसी ट्रेंड कर रहा है। लोग बाय-बाय वाट्सएप लिख कर वाट्सएप की नई पाॅलिसी का विरोध कर रहे हैं और अपने मोबाइल में उसके बदले टेलीग्राम इंस्टाल करने की बात कह रहे हैं।

लोग यह भी लिख रहे हैं कि अब टेलीग्राम ही उनका नया वाट्सएप है। लोग कंपनी के मालिक मार्क जुकरबर्ग पर भी सवाल उठा रहे हैं। राजा तलत सादिक नाम के एक ट्विटर हैंडल से यह ट्वीट किया गया कि वाट्सएप अपडेट किया गया है और अब यह इस वजह से सुरिक्षित नहीं रहा क्यों यह हमारा इन्फार्मेशन फेसबुक के साथ शेयर करेगा। यह समय है जब अन्य एप पर अपने डाटा की निजता के लिए शिफ्ट हो जाया जाए और यदि हममें से बहुत सारे लोग बिना पढे ही उसे अपडेट कर चुके हैं।

लोग कह रहे हैं कि वाट्सएप अपनी न्यू डेटा पाॅलिसी के तहत हमारा डाटा फेसबुक को देगा। लोग यह लिख रहे हैं कि डाटा प्राइवेसी, चैट प्राइवेसी उन दिनों को अब भूल जाइए, अब आपका डाटा और आपा चैट सुरक्षित नहीं है, इसलिए बेहतर यह है कि काॅल करें न कि चैट।

क्या है वाट्सएप की नई पाॅलिसी?

वाट्सएप ने एक नई पाॅलिसी लायी है जिसके तहत इसके उपयोगकर्ताओं को एक नोटिफिकेशन मिल रहा है जिसमें वह सेवा की शर्ताें एवं गोपनीयता नीति के बदलावों को स्वीकार करने को कहा रहा है। आठ फरवरी तक ऐसा नहीं करने पर उपयोगकर्ताओं के खाते को हटा दिया जाएगा। इस नोटिफिकेशन के क्लिक करने पर इसमें यह बताया जाता है कि वाट्सएप उपयोगकर्ताओं की जानकारी को मूल कंपनी फेसबुक के साथ आगे बढाने और प्रोसेस करने को लेकर बदलाव किए गए हैं।

नई पाॅलिसी में कहा गया है कि जब आप हमारी सेवाओं को इंस्टाॅल करते हैं या उपयोग करते हैं तो वाट्सएप को अपनी सेवाओं को संचालित करने, उपलब्ध कराने, सुधारने, समझने, कस्टमाइज करने, सपोर्ट करने और मार्केटिंग की जानकारी इकट्ठा करनी होती है। हमारी सेवाओं का उपयोग करने वाले और आपस में बातचीत करने वाले व्यवसायों को अपनी बातचीत की जानकारी हमें देने की जरूरत है।

आठ फरवरी से लागू हो रही वाट्सएप की नई सेवा शर्तें के अनुसार, मोबाइल चैटिंग प्लेटफार्म अपनी सेवाओं को संचालित करने, सुधारने, समझने, कस्टमाइज करने, सपोर्ट करने और मार्केटिंग करने के लिए थर्ड पार्टी प्रोवाइडर और अन्य फेसबुक कंपनियों के साथ काम करता है। कंपनी ने कहा है कि ये कंपनियों खास परिस्थितियों में उपयोगकर्ता के बारे में जानकारी प्रदान कर सकती हैं।

दरअसल, फेसबुक के प्रमुख मार्क जुकरबर्ग पिछले साल से ही मैसेंजर चैट, इंस्टाग्राम और वाट्सएप को मर्ज करने के लिए काम कर रहे हैं ताकि वे एक-दूसरे से जुड़े यानी इंटरआॅपरेबल सिस्टम की तरह काम करना शुरू कर सकें।

Next Story

विविध

Share it