सिक्योरिटी

मुस्लिम युवक को बचाने वाले पुलिस अधिकारी को भाजपाइयों ने पीटा

Janjwar Team
17 Feb 2018 11:50 AM GMT
मुस्लिम युवक को बचाने वाले पुलिस अधिकारी को भाजपाइयों ने पीटा
x

भाजपा के महासचिव अनिल जैन के बड़े भाई नानक चंद अग्रवाल ने थाने में भाजपाई गुंडों के लिए मांगी माफी, कहा इस बार माफ कर दो अगली बार से हम इन्हें सीखा देंगे संस्कार

जनज्वार, फिरोजाबाद। हिंदू युवा वाहिनी के प्रमुख रहे यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जब से सरकार बनी है तब से भगवा गुंडागर्दी चरम पर है। सिपाहियों और थानेदारों की औकात प्यादों की हो गई है, भाजपा और उसके आनुशांगिक संगठनों के कार्यकर्ता प्रदेश में 'राज' चला रहे हैं।

ताजा उदाहरण फिरोजाबाद का है जहां भाजपा महासचिव अनिल जैन के नजदीकी माने जाने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं ने फिरोजाबाद के एसएचओ को पीट दिया। एसएचओ को भगवा गुंडों ने इसलिए पीटा क्योंकि उन्होंने मुस्लिम युवाओं को पिटने से बचाया था।

फिरोजाबाद थाने के एसएसपी राजेश सिंह के मुताबिक ये भगवाधारी गुंडे मुस्लिम युवाओं को इसलिए पीट रहे थे क्योंकि उन्होंने टोपी पहन रखी थी। फिरोजाबाद के पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह कहते हैं, "लकी गर्ग और उसके भाजपा समर्थक साथियों ने मुस्लिम युवाओं को उस समय पीटा जब वो एक दुकान से दवाएं खरीद रहे थे। ये भाजपाई गुंडे उन मुस्लिम युवाओं के साथी गाली—गलौज करते हुए उन्हें देश छोड़ने को कह रहे थे।

अगर भाजपाई गुंडे एक पुलिस अधिकारी को अपना निशाना बना सकते हैं तो आम लोगों के साथ उनका बर्ताव कैसा होगा, इसकी कल्पना की जा सकती है। पुलिसिया रिकॉर्ड के मुताबिक लकी गर्ग पर पहले से ही एक सरकारी अधिकारी की हत्या के प्रयास 307 का मुकदमा 2010 में दर्ज है।

गौरतलब है कि धीरज पाराशर, उदय ठाकुर और लकी गर्ग उर्फ नकुल सहित 20 अन्य अज्ञात लोगों ने 16 फरवरी की रात उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद पुलिस स्टेशन के एसएचओ लोकेश भाटी पर हमला किया था।

यह घटना तब घटी जब एसएचओ लोकेश भाटी पुलिस पेट्रोलिंग पर थे, तब उन्हें रेडियो मैसेज मिला कि कुछ हिंदू युवा दो मुस्लिम युवाओं के साथ मारपीट कर रहे हैं। जब भाटी घटनास्थल पर पहुंचे और उन्होंने मुस्लिम युवाओं को बचाने की कोशिश की तो भगवा गुंडों का ये दल उन्हीं पर टूट पड़ा।

थाने में बैठे अनिल जैन के भाई नानक चंद कभी एसएसपी से तो कभी सीओ सिटी से माफी मांग रहे थे कि आइंदा ये भाजपाई ऐसी हरकतों को अंजाम नहीं देंगे, वे उन्हें संस्कार सीखा देंगे। दूसरी तरफ एसएसपी ने कहा कि हम यहां से भले चले जाएंगे, पर किसी से दबेंगे नहीं। उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इसे पत्रकार अरविंद चौहान ने ट्वीटर पर शेयर करते हुए लिखा है, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अनिल जैन के बड़े भाई नानक चंद अग्रवाल ने उन भगवा गुंडों के लिए माफ़ी मांगी जिन्होंने फिरोजाबाद के एसएचओ पर हमला किया था। वह भी इसलिए क्योंकि एसएचओ ने मुस्लिम युवा को बचाने की कोशिश की थी। मुस्लिम को ये भगवा गुंडे इसलिए पीट रहे थे क्योंकि उसने सर पर टोपी पहनी हुई थी। हमलावरों में से एक पर 2010 में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था।

सामाजिक कार्यकर्ता कविता कृष्णन इस मसले पर ट्वीट करती हैं, योगी शासन में भाजपा गुंडे निरंकुश हो गए हैं - ऐसा पुलिस ख़ुद कह रही है। फिरोज़बाद के एसएचओ को भाजपाई गुंडों ने इसलिए पीटा कि उन्होंने मुसलमानों को सांप्रदायिक गिरोह से बचाया।'

देखें वीडियो :

Next Story

विविध

Share it