आंदोलन

कर्ज में डूबे उत्तराखंड के किसान ने की आत्महत्या

Janjwar Team
13 July 2017 2:01 PM GMT
कर्ज में डूबे उत्तराखंड के किसान ने की आत्महत्या
x

हल्द्वानी/बाजपुर। बाजपुर में कर्ज में डूबे किसान ने आत्महत्या कर ली। बताया गया कि बैंक से नोटिस मिलने के बाद किसान खासा परेशान था। किसान पर बैंक व समितियों का 20 लाख से अधिक का ऋण बताया गया है। इधर सूचना मिलने पर पुलिस ने शव कब्जे में ले लिया है।

कर्ज में डूबे राज्य के किसान आत्मघाती कदम उठाने लगे हैं। महीने भर के भीतर कर्ज नहीं चुका पाने की वजह से चार किसान आत्महत्या कर चुके हैं। अब कर्ज में डूबे बाजपुर के ग्राम बांसखेड़ी निवासी बलविंदर सिंह (39) पुत्र मलूक सिंह ने 12 जुलाई की सुबह जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया।

परिजन आनन-फानन में उसे निजी अस्पताल लाए। हालत गंभीर होने पर परिजन उसे रुद्रपुर ले जा रहे थे कि रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। बताया गया कि बलविंदर ने पंजाब नेशनल बैंक की ओर से जारी साढ़े सात लाख की रिकवरी के नोटिस से परेशान होकर यह कदम उठाया। इधर बलविंदर के भाई कुलदीप ने मामले की तहरीर बेरिया दौलत पुलिस चौकी में दी।

इसके बाद करीब दो बजे घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच की। बेरिया दौलत चौकी प्रभारी उमराव सिंह दानू ने बताया कि मामले की तहरीर मिली है। इसके आधार पर जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।

परिजनों के अनुसार बलविंदर ने साढ़े सात लाख रुपये का ट्रैक्टर के लिए ऋण व साढ़े चार लाख रुपये की क्रेडिट लिमिट के साथ ही अन्य बैंकों व समिति से करीब 23 लाख रुपये का कर्ज ले रखा था।

Next Story

विविध