Top
राष्ट्रीय

लॉकडाउन 4 में पाबंदियों में मिली छूट तो दिल्ली की सीमाओं पर बढ़ा ट्रैफिक, कई जगह खुले मंदिर

Prema Negi
18 May 2020 8:19 AM GMT
लॉकडाउन 4 में पाबंदियों में मिली छूट तो दिल्ली की सीमाओं पर बढ़ा ट्रैफिक, कई जगह खुले मंदिर
x

चौथे चरण के लॉकडाउन में मिली कुछ छूट तो बड़ी संख्या में ड्यूटी के लिए निकले लोग और दक्षिण दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाले DND मार्ग पर रहा भारी ट्रैफिक, वहीं तमाम बॉर्डरों पर भी ट्रैफिक से हाल रहा बेहाल...

जनज्वार। कोरोनावायरस संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर लागू देशव्यापी लॉकडाउन में 31 मई तक किए गए सशर्त विस्तार के बाद सोमवार 18 मई को दिल्ली-गुरुग्राम और दिल्ली-नोएडा सीमा पर भारी वाहनों का आवागमन देखा गया। भले ही शर्तों के साथ प्रतिबंधों को दो सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया हो, लेकिन लोग अब अपने कार्यालयों में जाने के लिए बड़ी संख्या में घरों से बाहर निकले।

काएक इतनी भारी तादाद में लोगों के बाहर निकलने से दक्षिण दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाले दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट (डीएनडी) मार्ग पर आज सुबह भारी ट्रैफिक देखा गया।

सीमाओं पर लगे जाम के कई फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं और लोग मोदी सरकार की बदइंतजामी और पुलिस के हिंसक रवैये को लेकर बहुत खफा नजर आ रहे हैं।

पने आफिस जाने के लिए कई लोग आज ससोमवार की सुबह सीमाओं पर पहुंचे, जिसके बाद चेक पोस्टों पर वाहनों की लंबी कतारें देखी गईं। सीमा पर तैनात पुलिस ने यात्रा करने वाले लोगों के पास और पहचान पत्र की जांच की। इस दौरान एक किलोमीटर से अधिक लंबी वाहनों की कतार को देखा गया।

दिल्ली-गुरुग्राम की सीमाओं पर भी कुछ इसी तरह के दृश्य देखने को मिले। यहां भी लोग अपने कार्यालय जाने के लिए घरों से बाहर निकले। राष्ट्रीय राजधानी में भी यातायात में वृद्धि देखी गई। आयकर कार्यालय (आईटीओ) और अन्य क्षेत्रों में कई वाहन सड़कों पर देखाई दिए।

लॉकडाउन 4 में सख्त पाबंदियां सिर्फ कंटेनमेंट जोन तक सीमित कर दी हैं। इसके बाद पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में फुटवियर, इलेक्ट्रॉनिक्स और बैग-हेलमेट की दुकानें खुलने लगी हैं। वहीं कर्नाटक में सलून खोले गए। इसी तरह दिल्ली और केरल के कोच्चि में सड़कों पर वाहन ​इतने ज्यादा नजर आये कि बॉर्डर वाले इलाके जाम हो गये। पंजाब में तो मंदिर भी खुलने की खबर है, जहां लोग पूजा करने पहुंचे।

मृतसर में माता भद्रकाली मंदिर के पुजारी ने कहा, ‘हमने लोगों से घर में रहने की अपील की, लेकिन कोई मानने को तैयार नहीं थे। वे दर्शन करने की प्रार्थना कर रहे थे। हमने भी इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा। श्रद्धालु जल्दी आएं और जाएं, इसको सुनिश्चित किया।’

पंजाब में कंटेनमेंट जोन्स के अलावा बाकी जगहों को आज से खोला जा रहा है। वहां कर्फ्यू हटा दिया गया है। अब केवल लॉकडाउन lockdown रहेगा। इसके अलावा छोटे दुकानदारों और व्यापारी दुकानें खोल पाएंगे। सरकारी और प्राइवेट ऑफिसों को भी खोलने की इजाजत दे दी गई है। बस सेवा को भी शुरू करने का ऐलान किया गया है। टैक्सी सर्विस और ऑटो रिक्शा भी आज से चलेंगे। दोपहिया और चार पहिया वाहनों को गाइलाइंस के मुताबिक ही चलने की इजाजत है।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन lockdown फेज- चार 31 मई तक बढ़ा दिया है। कंटेनमेंट जोन के बाहर बस-टैक्सी और अन्य यात्री वाहन चलाने की छूट दी गई है। राज्य आपसी सहमति से अंतरराज्यीय बसें भी चला सकेंगे। गृह मंत्रालय ने रविवार 17 मई को जारी आदेश में स्पष्ट किया कि जिन गतिविधियों का विशेष तौर पर उल्लेख कर पाबंदी नहीं लगाई है, कंटेनमेंट जोन के बाहर उन सभी गतिविधियों को छूट रहेगी। सलून, ऑटोमोबाइल, वर्कशॉप, इलेक्ट्रॉनिक्स, कपड़े इत्यादि सभी तरह की दुकानें और बाजार खोले जा सकेंगे, लेकिन धार्मिक स्थल, स्कूल और कॉलेज खोलने पर अभी भी प्रतिबंध है।

केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के आधार पर बाद में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिन में शहर के लिए प्रतिबंधों व रियायतों पर एक विस्तृत योजना के बारे में जानकारी देंगे। गौरतलब है कि 25 मार्च से लागू किए गए लॉकडाउन का तीन बार विस्तार किया जा चुका है।

Next Story

विविध

Share it