Top
शिक्षा

10वीं और 12वीं के छात्रों को 10 दिन पहले मिल जाएगी बोर्ड परीक्षाओं की सूचना : रमेश पोखरियाल निशंक

Nirmal kant
27 April 2020 11:20 AM GMT
10वीं और 12वीं के छात्रों को 10 दिन पहले मिल जाएगी बोर्ड परीक्षाओं की सूचना : रमेश पोखरियाल निशंक

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कहा, सीबीएसई बोर्ड परीक्षा शुरू करने से पहले सभी हितधारकों को लगभग 10 दिनों का नोटिस देगा। वर्तमान में हम परीक्षा आयोजित करने की स्थिति का पता लगा रहे हैं...

जनज्वार, दिल्ली। 10वीं और 12वीं कक्षा की जो बोर्ड परीक्षाएं बाकी रह गई हैं, वे कब ली जाएंगी? इस प्रश्न का जवाब देते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कहा है कि शेष रह गईं बोर्ड परीक्षाओं की तिथि तय किए जाने से 10 दिन पहले छात्रों को इसकी सूचना दे दी जाएगी। मंत्रालय ने यह स्पष्ट किया है कि दसवीं और बारहवीं की रह गई शेष रह गईं बोर्ड परीक्षाओं के लिए अभी कोई तारीख तय नहीं की गई है।

संबंधित खबर : पंजाब में फंसे नवोदय विद्यालय के 23 छात्रों को भेजा गया वापस मध्य प्रदेश

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कहा, 'इस संदर्भ में यह बताया गया है कि सीबीएसई बोर्ड परीक्षा शुरू करने से पहले सभी हितधारकों को लगभग 10 दिनों का नोटिस देगा। वर्तमान में हम परीक्षा आयोजित करने की स्थिति का पता लगा रहे हैं और जल्द ही छात्रों के सर्वोत्तम हित को ध्यान में रखते हुए तारीखों की घोषणा करेंगे।'

ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से कक्षा 1 से 8 तक और कक्षा 9 एवं कक्षा 11 के छात्र-छात्राओं को बिना परीक्षा के पदोन्नत करने को कहा है। मंत्रालय ने निर्देश दिया है कि हर छात्र-छात्रा को स्कूल के आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर पदोन्नत किया जाए।

निशंक ने कहा, 'जिन-जिन राज्य सरकारों ने इसी तरह का निर्णय लिया है, उन्होंने भी ऐसा ही कुछ सोचकर किया होगा। छात्रों और शिक्षकों की सुरक्षा हमारी प्रमुख चिंता है। हमें मूल्यांकन कक्ष में सामाजिक भेद सुनिश्चित करने की भी आवश्यकता है। इस प्रकार, हमने कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया है। सीबीएसई की इन चिंताओं को देखते हुए। अब केवल 83 पाठ्यक्रमों के बजाय 29 मुख्य पाठ्यक्रमों की बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाएगी।'

संबंधित खबर : कोरोना के कारण देश के छात्र 100 दिन नहीं जा सकेंगे स्कूल-कॉलेज, ड्राप आउट से बचने के लिए सरकार ने निकाले रास्ते

मंत्रालय के मुताबिक, परीक्षाओं के संचालन पर निर्णय उच्च शिक्षा अधिकारियों के साथ व्यापक विचार-विमर्श करके और प्रवेश परीक्षा, प्रवेश तिथियों आदि से संबंधित सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर लिया जाएगा।

मंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होने वाले छात्रों को परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने के बाद ही अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा। हालांकि सीबीएसई अब 83 पाठ्यक्रमों के बजाय 29 मुख्य पाठ्यक्रमों की बोर्ड परीक्षा आयोजित करेगा।

न्होंने कहा, 'परीक्षाओं के संचालन पर निर्णय उच्च शिक्षा अधिकारियों के साथ व्यापक विचार-विमर्श करके और प्रवेश परीक्षा, प्रवेश तिथियों आदि से संबंधित सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर निर्णय लिया जाएगा।'

Next Story

विविध

Share it