Top
राजनीति

CM चेहरे को लेकर BJP में चल रही गुटबाजी के बीच राजस्थान में भाजपा के पोस्टरों से गायब हुई राजे

Janjwar Desk
9 Jun 2021 11:07 AM GMT
CM चेहरे को लेकर BJP में चल रही गुटबाजी के बीच राजस्थान में भाजपा के पोस्टरों से गायब हुई राजे
x
भाजपा पदाधिकारियों के मुताबिक केंद्रीय नेतृत्व ने गाइडलाइन जारी की है कि राज्य में भाजपा के सभी पोस्टरों में नियमानुसार मोदी और नड्डा के साथ मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष की तस्वीर होनी चाहिए....

जनज्वार डेस्क। राजस्थान की राजनीति में चल रही हलचल के बीच भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मुख्यालय से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पोस्टर को हटा दिया गया है। पोस्टर में एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और दूसरी तरफ सतीश पूनिया और गुलाब चंद कटारिया हैं, लेकिन राजे की कहीं भी कोई तस्वीर नहीं है।

दूसरे पोस्टरों में वरिष्ठ नेताओं को श्रद्धांजलि के रूप में अनुभवी नेताओं दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी की तस्वीरें हैं। जबकि पहले के पोस्टरों में एक तरफ राजे की तस्वीर थी। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौर की तस्वीरें थीं। दूसरे पक्ष में पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर पेश की।

भाजपा पदाधिकारियों के मुताबिक केंद्रीय नेतृत्व ने गाइडलाइन जारी की है कि राज्य में भाजपा के सभी पोस्टरों में नियमानुसार मोदी और नड्डा के साथ मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष की तस्वीर होनी चाहिए, जबकि जिन राज्यों में भाजपा विपक्ष में है वहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की तस्वीर होनी चाहिए। मोदी और नड्डा के साथ विपक्ष के नेता और इसलिए यह बदलाव आया है।

पिछले कुछ महीनों में राजे को राज्य पार्टी कार्यालय और राज्य पार्टी के नेताओं से दूरी और अंतर बनाए रखते हुए देखा गया है और खुद को सभी राज्य भाजपा गतिविधियों से अलग रखते हुए 'ब्रांड राजे' का प्रचार करते देखा गया है।

सोशल मीडिया पर वसुंधरा राजे के फोलोवर्स 'टीम वसुंधरा राजे 2023' अभियान चला रहे हैं, जिसमें उन्हें बीजेपी के लिए राजस्थान का अगला सीएम चेहरा बताया जा रहा है। वह महामारी के दौरान जरूरतमंदों की मदद के लिए ट्विटर पर 'वसुंधरा राजे का कार्यालय' हैंडल चला रही हैं, जबकि बीजेपी उन लोगों की मदद के लिए अपना खुद का हैंडल चला रही थी जो दवाएं, ऑक्सीजन, बिस्तर आदि चाहते थे।

राजस्थान में 2023 में विधानसभा चुनाव होने हैं। हाल ही में पूर्व मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता रोहिताश्व शर्मा के एक बयान ने पार्टी में खलबली मची हुई है। अलवर में वसुंधरा जन रसोई के जरिये शक्ति प्रदर्शन के दौरान पूर्व मंत्री शर्मा ने कहा कि पार्टी में चेहरा कहां है? 5-6 लोगों के नाम चल रहे हैं। कोई कहता है ये मुख्यमंत्री बनेगा, कोई कहता है वो मुख्यमंत्री बनेगा। लेकिन एक चेहरा किसी का नहीं है।

उन्होंने कहा, ''राजस्थान में वसुंधरा राजे सर्वमान्य नेता हैं और आमजन से पूछेंगे तो 10 में से 9 लोग वसुंधरा को बेस्ट सीएम मानते हैं। उन्होंने कहा, वसुंधरा से बड़ा नाम प्रदेश बीजेपी में कोई दूसरा नहीं है।''

Next Story

विविध

Share it