राजनीति

UP Election 2022 : बाबा के साथ 'बुल' और बुलडोजर भी चले जाएंगे, अखिलेश की विजय यात्रा को नोटबंदी में जन्में खजांची ने दिखाई हरी झंडी

Janjwar Desk
13 Oct 2021 9:26 AM GMT
up news
x

(अखिलेश की विजय यात्रा को झंडी दिखाता खजांची और जनसैलाब)

UP Election 2022 : 2022 में बाबा सीएम अकेले नहीं जाएंगे। इनके साथ बुल और बुलडोजर भी चला जाएगा। हमारे बाबा मुख्यमंत्री बुलडोजर लेकर घूम रहे हैं और सड़कों पर बुल (बैल) घूम रहे हैं...

UP Election 2022 (जनज्वार) : समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को कानपुर से विजय रथ यात्रा का शंखनाद किया। 190 किलोमीटर यानी 4 जिलों से गुजरने वाली इस यात्रा को नोटबंदी के दौरान बैंक की लाइन में जन्मे खजांची नाम के बच्चे ने हरी झंडी दिखाई। यात्रा कानपुर के जाजमऊ से होते हुए नौबस्ता और फिर घाटमपुर पहुंची।

इस दौरान अखिलेश ने 5 घंटे में 4 विधानसभा क्षेत्र को कवर किया। अखिलेश ने लखीमपुर हिंसा को लेकर यूपी सरकार पर तीखा हमला बोला। कहा कि लखीमपुर में जिस तरह से किसानों और कानून को कुचला गया है। ऐसे में अब लगता है कि संविधान को कुचलकर धज्जियां उड़ाने की तैयारी है।

कौन है खजांची?

2 दिसंबर 2016 को नोटबंदी के दौरान कानपुर देहात की एक महिला ने बैंक की लाइन में एक बच्चे को जन्म दिया। इस बच्चे का नाम यूपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने खजांची रखा था। अखिलेश हर साल उसका जन्मदिन भी मनाते हैं। इस साल भी लखनऊ में सपा के दफ्तर में खजांची का जन्मदिन मनाया जाएगा। कहा जा रहा है कि इसमें खुद अखिलेश यादव भी शामिल होंगे।

बुल के साथ बुलडोजर भी जाएगा

उन्होंने आगे कहा, '2022 में बाबा सीएम अकेले नहीं जाएंगे। इनके साथ बुल और बुलडोजर भी चला जाएगा। हमारे बाबा मुख्यमंत्री बुलडोजर लेकर घूम रहे हैं और सड़कों पर बुल (बैल) घूम रहे हैं। सड़क पर चलने वाले जानवरों से न जाने कितनों की जान चली गई। आए दिन किसी किसान की जान गई। कभी कोई मोटरसाइकिल टकराई तो कहीं कार। इसलिए आने वाले समय में जब भाजपा का सफाया होगा, तब बाबा मुख्यमंत्री का भी सफाया होगा। साथ ही बुल और बुलडोजर भी चला जाएगा।

किसानों और दलितों के लिए विजय यात्रा

नवेली निगनाहट बिजली घर घाटमपुर पर अखिलेश यादव ने कहा कि गंगा किनारे से शुरू हुई और यमुना के किनारे तक पहुंची समाजवादी विजय रथ यात्रा में लगातार पार्टी कार्यकर्ता दिखाई दिए। उनका जोश बता रहा है कि इस बार पूरी ईमानदारी से सपा की विजय होने जा रही है। विजय यात्रा का मतलब, सिर्फ विजय ही नहीं है। इस यात्रा से हमारे किसानों, नौजवानों, व्यापारियों, पिछड़े भाइयों, दलित भाइयों, अल्पसंख्यक भाइयों की विजय होगी।

ऐसा यूपी में होता है, जहां आईपीएस फरार है

मनीष हत्याकांड पर अखिलेश ने कहा कि कानपुर के व्यापारी को पीट-पीटकर मार दिया गया। पुलिस फरार है, कुछ पकड़े गए। देश के आंकड़े देखे जाएं तो यूपी की कानून व्यवस्था सबसे खराब है। महिलाओं के साथ सबसे ज्यादा उत्पीड़न और अन्याय यूपी में ही हो रहा है। सिर्फ UP में ऐसा होता है कि IPS फरार है। BJP रही तो नौकरी, रोजगार की उम्मीद छोड़ देनी होगी।

पेट्रोल 100 तो सरसों का तेल 200 पार

भाजपा पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि सत्ता में बैठे लोग कहते थे कि हमें बहुमत दे दो, हम किसानों की आय दो गुनी कर देंगे। मगर आय की जगह महंगाई दो गुनी हो गई। पेट्रोल 100 रुपए पार पहुंच गया है और डीजल भी धीरे-धीरे उसी राह पर है। वहीं, उज्जवला योजना के नाम पर सिलेंडर बांट दिए गए। घर में गैस पहुंचा दी। मगर गरीब भरवा नहीं पा रहा है। कीटनाशक दवा, सरसों का तेल भी महंगा हो गया। मुनाफा किसके हाथ में जा रहा है, ये बात सब जान रहे हैं। 2022 में उत्तर प्रदेश से बाबा के साथ बुल और बुलडोजर भी चले जाएंगे।

Next Story

विविध

Share it