Top
समाज

बिहार : भोजपुर में विक्षिप्त ने बुजुर्ग को पीट-पीटकर मार डाला, शव जला रहा था तो लोगों ने पीटकर उसकी भी ले ली जान

Janjwar Desk
13 April 2021 6:55 AM GMT
बिहार : भोजपुर में विक्षिप्त ने बुजुर्ग को पीट-पीटकर मार डाला, शव जला रहा था तो लोगों ने पीटकर उसकी भी ले ली जान
x

photo : social media

जनज्वार, पटना। बिहार के भोजपुर से एक ऐसा भयावह मामला सामने आया है, जिसके बारे में सुनकर सब हैरान हैं। पहले मानसिक रूप से विक्षिप्त बताये जा रहे एक शख्स ने बुजुर्ग की पीटकर जान ली और फिर उसकी लाश को जलाने की कोशिश करने लगा। इस घटना से गुस्साये लोगों ने उसी समय उस विक्षिप्त शख्स को भी बुरी तरह पीट-पीटकर मार डाला और फिर वहीं उसे जलाकर खाक कर दिया।

जानकारी के मुताबिक भोजपुर जनपद के उदवंतनगर में पहले एक मानसिक रूप से विक्षिप्त शख्स ने बुजुर्ग को पीट-पीट कर मार दिया और फिर सूखे पत्तों के सहारे उसकी लाश को आग के हवाले कर दिया। जब लोगों ने यह घटना देखी तो उनका गुस्सा भड़क गया और उस शख्स पीट-पीटकर मार डाला। गुस्साई भीड़ इतने पर ही शांत नहीं हुई और उसे उसके कर्मों की सजा दिलाने पर आमादा हो गयी। गुस्साये लोगों ने बुजुर्ग के हत्यारे शख्स की लाश को भी उसी तरह सूखे पत्तों के सहारे जला दिया। इस घटना का सोशल मीडिया पर वायरल होते ही चंद मिनटों में हड़कंप मच गया। पुलिस पहुंची और जले हुए दोनों शवों को अपने कब्जे में ​लेकर आगे की कार्रवाई शुरू की।

शुरुआती पुलिसिया छानबीन में सामने आया कि डिगरी चौधरी नाम के जिस बुजुर्ग की पहले हत्या की गयी थी, उसकी उम्र 70 साल के लगभग थी। घटना के वक्त वह अपने आम के बाग़ की रखवाली कर रहा था। उसकी दौरान ज्ञानचक गांव का मानसिक रूप से विक्षिप्त शख्स 35 वर्षीय मुटुर यादव वहां पहुंचा और उसने ही बुजुर्ग को इतनी बुरी तरह पीटा कि उसकी मौत हो गयी। बुजुर्ग की हत्या करने के बाद मुटुर यादव बगल के खेत में पड़े सूखे पत्तों के सहारे लाश जलाने लगा तो लोगों ने देख लिया। इससे आक्रोशित जनता ने पहले बुजुर्ग के शव को जलने से बचाया फिर मुटुर के साथ भी बिल्कुल उसी घटना को दोहराया जो वह बुजुर्ग के साथ कर चुका था।

इस घटना की जानकारी मिलते ही आरा सदर SDPO पंकज रावत पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और पुलिस टीम ने आग में जल रहे मुटुर यादव के शव को निकाला। इसके बाद दोनों शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने के लिए रवाना हो गई।


Next Story

विविध

Share it