Top
समाज

जवान बेटे की मौत से दुखी पूर्व BJP अध्यक्ष के परिवार के 4 लोगों ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा हमारा सबकुछ छिन गया

Janjwar Desk
22 Feb 2021 5:04 AM GMT
जवान बेटे की मौत से दुखी पूर्व BJP अध्यक्ष के परिवार के 4 लोगों ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा हमारा सबकुछ छिन गया
x
करीब 5 महीने पहले हनुमान प्रसाद के जवान बेटे की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी और तभी से पूरा परिवार गहरे अवसाद में चला था, अवसाद इतना गहराया कि पूरे परिवार ने एक साथ मौत को गले लगा लिया....

जनज्वार, जयपुर। अवसाद में इंसान कितना खतरनाक कदम उठा लेता है, इसके दर्जनों उदाहरण दिनभर सामने आते रहते हैं। सही समय पर इलाज न मिलने पर अवसाद जानलेवा भी हो सकता है। ऐसा ही एक मामला राजस्थान के सीकर जिले में सामने आया है। पांच महीने पहले जवान बेटे की मौत से परिवार इतना ज्यादा अवसाद में चला गया कि एक साथ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

जानकारी के मुताबिक राजस्थान के सीकर जिले के उद्योग नगर थाना क्षेत्र में अपने जवान बेटे की मौत से अवसाद में चल रहे एक ही परिवार के चार लोगों ने कल रविवार 21 फरवरी को कथित तौर पर फांसी लगाकर मौत को गले लगा लिया। सपरिवार आत्महत्या करने वाले हनुमान प्रसाद सैनी भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी के सगे भाई के बेटे थे।

इस मामले में सीकर पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने मीडिया को बताया, करीब पांच माह पूर्व अपने बेटे की मौत से अवसाद में चल रहे पुरोहितजी की ढाणी निवासी 45 वर्षीय हनुमान प्रसाद ने रविवार 21 फरवरी को अपनी 40 वर्षीय पत्नी तारा और दो पुत्रियों 22 साल की पूजा और 20 साल की अनु के साथ घर में फांसी लगाकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस का कहना है शुरुआती जांच में यह बात सामने आयी है कि जवान बेटे की मौत के बाद से पूरा परिवार अवसाद में चला गया था। पूरे परिवार के दिमाग में यह बात बैठ गयी थी कि जब उनके जीने का सहारा ही छिन गया है तो वह जीकर क्या करेंगे।

सीकर पुलिस अधीक्षक के मुताबिक मृतक हनुमान प्रसाद के घर से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसमें प्रसाद ने लिखा है, 'बेटे की मौत के बाद से ही हमें जीने का मन नहीं है, हम जीना नहीं चाहते हैं... हमारा सहारा सबकुछ वही था।'

पुलिस के मुताबिक आत्महत्या करने वाले पूरे परिवार की चारों लाशों को पोस्टमार्टम के लिये राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया गया है। आज 22 फरवरी की सुबह पोस्टमार्टम करवाया जायेगा।

पुलिस का कहना है कि करीब पांच महीने पहले हनुमान प्रसाद के जवान बेटे की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी और तभी से पूरा परिवार गहरे अवसाद में चला था।

Next Story
Share it