Top stories

Top 10 News : धरती पर जीवन को बचाने के लिए उल्का पिंड से टकराएगा NASA का यान डार्ट, सांगली के एक गांव में सायरन बजते ही बंद हो जाते हैं मोबाइल और फोन

Janjwar Desk
25 Sep 2022 3:03 AM GMT
धरती पर जीवन को बचाने के लिए उल्का पिंड से टकराएगा NASA का यान डार्ट, सांगली के एक गांव में सायरन बजते ही बंद हो जाते हैं मोबाइल और फोन
x

धरती पर जीवन को बचाने के लिए उल्का पिंड से टकराएगा NASA का यान डार्ट, सांगली के एक गांव में सायरन बजते ही बंद हो जाते हैं मोबाइल और फोन

Top 10 News : धरती पर इंसान की जिंदगी को बचाने के लिए अमेरिकी अंतरिक्ष संस्था नासा ने बड़ा फैसला लिया है। इस खतरे से निपटने के लिए नासा का अंतरिक्ष यान डार्ट धरती से 68 लाख किलोमीटर दूर एक उल्का पिंड डिमोर्फोस से टकराएगा।

1. धरती पर जिंदगी को बचाने के लिए NASA का बड़ा फैसला, उल्कापिंड डिमोफोर्स टकराएगा अंतरिक्ष यान DART

धरती पर इंसान की जिंदगी को बचाने के लिए अमेरिकी अंतरिक्ष संस्था नासा ने बड़ा फैसला लिया है। नासा की योजना के मुतबिक उल्का पिंड डिमोफोर्स का पृथ्वी से टकराने पर जीवन को खत्म होने का खतरा है। इस खतरे को रोकना वैज्ञानिकों के लिए हमेशा से चिंतित रहे हैं। अब इस खतरे से निपटने के लिए नासा का अंतरिक्ष यान डार्ट धरती से 68 लाख किलोमीटर दूर एक उल्का पिंड डिमोर्फोस से टकराएगा। यह पिंड 525 फुट की डाइडिमोस नामक चट्टानी उल्का की परिक्रमा करता है। टकराव से उल्काओं का मार्ग बदलने की उम्मीद है। इसीलिए इसे डबल एस्ट्रॉयड री-डायरेक्शन टेस्ट यानी डार्ट नाम मिला है। इस घटना को इंटरनेट पर लाइव देखा जा सकता है। यह टक्कर भारतीय समयानुसार 27 सितंबर को सुबह 4 बजकर 44 मिनट बजे होगी। इस दौरान यान की गति 22,500 किलोमीटर प्रति घंटे होगी।

2. महाराष्ट्र : सांगली में डिजिटल डिटॉक्स बजते ही टीवी-फोन बंद कर देते हैं गांव के लोग, जानें क्यों

महाराष्ट्र के सांगली जिले के एक गांव ने इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स और सोशल मीडिया के इस्तेमाल से दूरी बनाने के लिए नायाब तरीका अपनाया है। डिजिटल डिटॉक्सिंग के लिए गांव के मंदिर से हर शाम 7 बजे एक सायरन बजता है। यह इस बात का संकेत होता है कि लोगों अपने मोबाइल फोन, टीवी और अन्य गैजेट्स बंद कर दें। मोहित्यांचे वडगांव नाम के इस गांव में 3,105 लोग रहते हैं।

3. ऑपरेशन मेघ चक्र : चाइल्ड पोर्नोग्राफी के खिलाफ सीबीआई की 21 राज्यों में 59 ठिकानों पर छापे

सीबीआई ने ऑपरेशन मेघ चक्र के तहत बाल यौन उत्पीड़न से संबंधित सामग्री के ऑनलाइन बिक्री और वितरण से जुड़े दो मामलों में शनिवार को बड़ी कार्रवाई की है। सीबीआई ने इस मिशन के तहत 21 राज्यों और एक केंद्रशासित प्रदेश में 59 ठिकानों की तलाशी ली। सीबीआई ने ये छापेमारी इंटरपोल सिंगापुर से मिली सूचना के आधार पर की है। सीबीआई को इंटरपोल की सिंगापुर स्थित क्राइम अगेंस्ट चाइल्ड यूनिट ने इंटरनेट पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी सामग्री की बिक्री और वितरण के बारे में जानकारी दी थी। छापे के दौरान 50 से अधिक लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। सीबीआई ने ये छापेमारी की हरियाणा, उत्तराखंड, गुजरात, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, झारखंड, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़ सहित अन्य राज्यों में की है। सीबीआई प्रवक्ता ने बताया कि जांच एजेंसी संदिग्धों के इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में पाई गई अवैध सामग्री के बारे में उनसे पूछताछ कर रही है। ताकि पीड़ितों और उनका उत्पीड़न करने वालों की पहचान की जा सके।

4. 60 हजार में BAMS परीक्षा पास कराने के रैकेट का खुलासा, 3 गिरफ्तार

डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की बीएएमएस परीक्षा की कॉपियां बदलने के बड़े रैकेट का खुलासा हुआ है। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। चौंकाने वाली बात ये है कि इस रैकेट में बीएएमएस के छात्र ही शामिल हैं। हाथरस पुलिस ने शनिवार को इस मामले में प्रेम रघु आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के बीएएमएस के तृतीय वर्ष के छात्र पुनीत और महर्षिपुरम निवासी ठेकेदार दुर्गेश ठाकुर गिरफ्तार करने के बाद जेल भेज दिया है। पुनीत फेल छात्रों के लिए कॉपियां लिखता था। इस रैकेट में कई और छात्र भी शामिल हैं। दुर्गेश कॉपियां लिखवाने वाले छात्रों से संपर्क करता था। इसके बदले छात्रों से 60 हजार रुपए रकम लेता था। आरोपियों के पास से 3 उत्तर पुस्तिकाएं भी बरामद की गई हैं। बीएएमएस की कापियां बदलने का मामला 27 अगस्त को सामने आया था। पुलिस ने मामले में विश्वविद्यालय के टेंपो चालक देवेंद्र को गिरफ्तार किया था। 6 अगस्त को एक और मुकदमा लिखा गया। एक और आरोपी डॉ. अतुल को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। उससे पूछताछ के बाद सिकंदरा निवासी छात्र नेता राहुल पाराशर, जौनपुर के दुर्गेश ठाकुर और कासगंज निवासी और हाथरस में रहकर पढ़ रहे पुनीत का नाम सामने आया था। शुक्रवार रात को पुलिस टीम ने दुर्गेश ठाकुर और पुनीत को खंदौली ओवरब्रिज के पास से गिरफ्तार कर लिया।

5. शीर्ष अदालत ने हेट स्पीच पर केंद से पूछे दो अहम सवाल, इसे गंभीरता से लेने की जरूरत

सुप्रीम कोर्ट ने देश में बड़ी होती जा रही हेट स्पीच की समस्या के सिलसिले में केंद्र सरकार से दो बड़े सवाल पूछे हैं। पहला यह कि इसके कारण देश किधर जा रहा है और दूसरा यह कि केंद्र इसे रोकने की चिंता करने के बजाय मूकदर्शक बना हाथ पर हाथ धरे क्यों बैठा है। जस्टिस केएम जोसेफ और ऋषिकेश रॉय की सदस्यता वाली न्यायालय की पीठ ने केंद्र की इस बात के लिए भी आलोचना की कि वह हेट स्पीच को छोटी बात समझ रहा है और विधि आयोग की 2017 की उस रिपोर्ट के सिलसिले में कोई कदम नहीं उठा रहा जिसमें हेट स्पीच को परिभाषित करने के मानदंड सुझाए गए हैं। न्यायालय ने दो हफ्तों में हेट स्पीच से निपटने में अब तक की गई कार्रवाइयों की रिपोर्ट पेश करने को भी कहा है। साथ ही सुझाया है कि जब तक वह हेट स्पीच को लेकर कोई प्रभावी कानूनी ढांचा खड़ा नहीं हो जाता तब तक के लिए जरूरी दिशानिर्देश भी तय करे केंद्र सरकार। सबसे ज्यादा हेट स्पीच मीडिया और सोशल मीडिया पर दी जा रही है और इसे लेकर इन दोनों माध्यमों के एंकरों की खिंचाई करते हुए राष्ट्रीय ब्रॉडकास्टिंग एसोसिएशन की सफाई को मानने से इनकार कर दिया है।

6. हत्यारोपियों को फांसी मिलने तक लक्ष्मणझूला थाने से वापस नहीं जाएंगे अंकिता के पिता

अंकिता भंडारी के पिता वीरेंद्र भंडारी ने अपनी बेटी की हत्या से बिल्कुल टूट गए हैं। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी बेटी की हत्यारोपियों को फांसी नहीं मिलती वह लक्ष्मणझूला थाने से वापस नहीं जाएंगे। अंकिता भंडारी के पिता वीरेंद्र भंडारी ने थाने में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि उनकी बेटी 28 अगस्त को वनंत्रा रिसोर्ट में नौकरी करने के लिए आई थी। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी को पूर्व राज्य मंत्री के बेटे पुलकित आर्य और उसके साथियों ने मार दिया। जब तक उनकी बेटी के हत्यारोपियों को मौत की सजा नहीं मिलती है तब तक वह थाने से घर वापस नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी नौकरी कर परिवार की आर्थिक मदद करना चाहती। इसलिए उन्होंने उसको नौकरी के लिए गंगा भोगपुर स्थित वनंत्रा रिजॉर्ट भेजा था। लेकिन उनको पता नहीं था कि मेरी बेटी के साथ ऐसी दुर्घटना हो जाएगी।

7. लालू यादव ने अमित शाह पर बोला हमला, कहा - वह पगला गए हैं

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने शनिवार को गृह मंत्री अमित शाह के बिहार के सत्तारूढ़ गठबंधन पर हमले को लेकर उन पर निशाना साधा और विपक्षी एकता की जरूरत पर जोर दिया। लालू यादव ने कहा कि अमित शाह पूरी तरह से पागल हो गए हैं। उनकी सरकार वहां बिहार हटा दी गई है। इसे भाजपा 2024 में भी हार का सामना करना पड़ेगा। इसलिए वह वहां जा रहे हैं और जंगल राज और उन सभी चीजों की बात कर रहे हैं। क्या जब वह गुजरात में थे तो क्या उन्होंने ऐसा किया था। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया जब वह वहां थे तब जंगल राज गुजरात में था। अमित शाह बिलकुल पागल हो गए हैं।

8. चीनी राष्ट्रपति की हाउस अरेस्ट की चर्चा ने पकड़ा जोर, अभी तक किसी ने नहीं की आधिकारिक पुष्टि

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग को नजरबंद किए जाने की कई खबरें इंटरनेट पर शेयर की जा रही हैंण् सोशल मीडिया पर कई पोस्ट के मुताबिक शी चिनफिंग को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के प्रमुख के पद से हटा दिया गया है और उन्हें नजरबंद कर दिया गया है। हालांकि, न तो देश की सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी और न ही राज्य मीडिया ने अभी तक इस खबर की आधिकारिक पुष्टि की है।

9. योगी राज में शव को सड़क पर रखकर प्रदर्शन भी होगा दंडनीय अपराध, एसओपी जारी

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने दुर्घटनाओं या आपराधिक मामलों में मृत शरीर के साथ सड़क या सार्वजानिक स्थान पर प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ सख्त नियम बनाए हैं। अब प्रदेश में यह दंडनीय अपराध होगां शव के सम्मानजनक अंतिम संस्कार के लिए हाईकोर्ट में दाखिल एक जनहित याचिका पर दिए गए आदेश के अनुपालन में गृह विभाग ने एक एसओपी ;स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर तैयार की है। इसके तहत यदि परिवारीजनों द्वारा स्वयं या भीड़ जुटाकर रास्ते या सार्वजनिक स्थान पर शव रखकर प्रदर्शन किया तो इसे शव का अपमान मानते हुए उनके विरुद्ध कठोर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

एसओपी के मुताबिक पोस्टमॉर्टम के बाद परिवार को शव सौंपते वक्त लिखित सहमति ली जाएगी कि वे शव को पोस्टमार्टम हाउस से सीधे अपने घर ले जाएंगे और धार्मिक रीति-रिवाज के अनुसार अंत्येष्टि स्थल पर ले जाएंगे। इस दौरान वे बीच रास्ते में कहीं भी शव रखकर भीड़ एकत्र करने, जाम लगाने अथवा किसी दल या संगठन के सहयोग से धरना-प्रदर्शन नहीं करेंगे। ऐसा करने पर कठोर कार्रवाई होगी। इसी तरह अगर कोई समूह या संगठन शव के साथ प्रदर्शन करता है और कानून व्यवस्था के खिलाफ कार्य करता है तो उसके खिलाफ भी सख्त कानूनी कार्रवाई होगी।

10. चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी MMS केस में एक फौजी गिरफ्तार, लगे ये आरोप

मोहाली की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की छात्राओं के नहाते हुए वीडियो वायरल करने से जुड़े मामले में पंजाब पुलिस ने सेना के एक जवान को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान संजीव सिंह के रूप में हुई है। इस केस में यह चौथी गिरफ्तारी है। शक है कि आर्मी का यह जवान ही हॉस्टल में रहने वाली छात्रा को ब्लैकमेल कर उससे अन्य लड़कियों के नहाते हुए वीडियो बनवा रहा था।

Next Story

विविध