Up Election 2022

Akhilesh Yadav UP Election 2022 : ''..'काका' चले गए हैं तो बाबा भी चले जाएंगे'', अखिलेश यादव ने पीलीभीत में BJP पर ऐसे बोला हमला

Janjwar Desk
19 Feb 2022 9:00 AM GMT
Akhilesh Yadav UP Election 2022 :
x

(पीलीभीत में सपा समर्थकों को संबोधित करते अखिलेश यादव)

Akhilesh Yadav UP Election 2022 : अखिलेश यादव ने कृषि कानूनों को लेकर भाजपा पर फिर हमला बोला, उन्होंने कहा कि हमें सावधान रहना पड़ेगा, हम जानते हैं कि अगर काका गए हैं तो बाबा भी चले जाएंगे.....

Akhilesh Yadav UP Election 2022 : उत्तर प्रदेश में कल यानि 20 फरवरी को तीसरे चरण के लिए मतदान होने हैं। इस चरण में 16 जिलों के 59 सीटों पर उम्मीदवार मैदान में हैं। कुल 2.15 करोड़ मतदाता 627 उम्मीदवारों का भाग्य तय करेंगे। इस बीच समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने अपना प्रचार अभियान तेज किया हुआ है।

पीलीभीत में एक रैली को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कृषि कानूनों को लेकर भाजपा (BJP) पर फिर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हमें सावधान रहना पड़ेगा। हम जानते हैं कि अगर काका गए हैं तो बाबा भी चले जाएंगे। ये शॉर्टफॉर्म इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि भाजपा वाले बहुत शॉर्टफॉर्म बना रहे हैं। काका मतलब काले कानून (Farm Laws)।

अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर भी तंज कसा और कहा कि पैदल-पैदल तो पहले ही कर दिए गए थे। अब चुनाव लड़ने भी अपने घर पहुंच गए हैं। उत्तर प्रदेश का किसान, नौजवान और व्यापारी इस बार भाजपा को साफ कर देंगे।

लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Case) की घटना को याद करते हुए उन्होंने कहा कि ये लोकतंत्र और संविधान बचाने का चुनाव है। यह सरकार ऐसी है जिसमें किसी की परवाह नहीं है। हमने और आपने जलियांवाला बाग की कहानी कितनी बार सुनी होगी। आजाद भारत में अगर दोबारा ऐसी घटना हुई तो लखीमपुर में हुई जहां किसानों को जीप से कुचल दिया गया।

यादव ने आगे कहा कि ना सिर्फ लखीमपुर में किसानों की जान गई बल्कि दिल्ली में भी किसानों को दबाने के लिए बोल्डर लगाए गए उनके ठिकानों पर छापे मारे गए और जगह-जगह निकलते थे तो बैरिकेडिंग की गई। लेकिन सरकार को पीछे हटना पड़ा हमारे किसान भाई झुके नहीं।

पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों को लेकर उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग कहते थे कि गरीब और चप्पल पहनने वालों को हवाई जहाज में चलाएंगे याद है कि नहीं याद है और जब से डीजल पेट्रोल महंगा किया है हमारे किसानों की कोई गाड़ी नहीं चल सकती हमारे नौजवानों की मोटरसाइकिल नहीं चल पा रही है।

बिजली की समस्या को लेकर सपा अध्यक्ष ने कहा कि बाबा मुख्यमंत्री तो बिजली कारखानों के नाम भी नहीं ले पाते हैं। जो बिजली कारखानों और बिजली यूनिट का नाम नहीं ले पाते हैं वो बिजली क्या देंगे। उन्होंने कहा कि हमारे किसानों को रात भर रखवाली करनी पड़ रही है खेतों की। हमारे बाबा मुख्यमंत्री का पसंदीदा जानवर लोगों की टक्कर मारकर जान ले रहा है । इसीलिए सपा ने तय किया है कि सरकार बनने पर अगर साँड़ के टक्कर से किसी की जान जाएगी तो उनके परिवार को 5 लाख रुपया दिया जाएगा।

अखिलेश यादव ने वादा किया कि किसानों की मदद के लिए अगर बजट से अलग से पैसा देना पड़ा तो अलग से पैसा रखेंगे जिससे हमारे किसानों को गन्ने के भुगतान के लिए कहीं आंदोलन न करना पड़े। 15 दिन के अंदर उनका पूरा का पूरा भुगतान कराने का काम करेंगे।

Next Story

विविध