Up Election 2022

Karhal Assembly Seat: अखिलेश यादव मैनपुरी के करहल विधानसभा सीट से लड़ेंगे चुनाव, समाजवादी पार्टी का ऐलान

Janjwar Desk
20 Jan 2022 5:52 PM GMT
UP Election 2022 : अखिलेश यादव ने केशव प्रसाद मौर्य पर साधा निशाना, बोले ये स्टूल वाले मंत्री हैं, इन्होंने जनता को दिया है धोखा
x

अखिलेश यादव ने केशव प्रसाद मौर्य पर साधा निशाना

Karhal Assembly Seat: कयासों पर विराम लगाते हुए समाजवादी पार्टी ने गुरुवार को अखिलेश की चुनावी सीट का ऐलान कर दिया। अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले के करहल निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार के रूप में अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।

Karhal Assembly Seat: कयासों पर विराम लगाते हुए समाजवादी पार्टी ने गुरुवार को अखिलेश की चुनावी सीट का ऐलान कर दिया। अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले के करहल निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार के रूप में अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।

बताया जा रहा है कि पार्टी संगठन की तरफ से सपा का गढ़ कही जाने वाली मैनपुरी के करहल विधानसभा से चुनाव लड़ने का उन्हें सुझाव दिया गया था। अब तक अखिलेश यादव के आजमगढ़ के गुन्नौर से चुनाव लड़ने की चर्चा हो रही थी। सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता आशुतोष वर्मा ने गुरुवार को बताया, 'पार्टी अध्यक्ष मैनपुरी की करहल सीट से चुनाव लड़ेंगे।

करहल सीट पर तीसरे चरण का मतदान 20 फरवरी को होना है। बतौर उम्मीदवार यादव का यह पहला विधानसभा चुनाव होने जा रहा है। जब वे 2012 से 17 के बीच मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने विधान परिषद का रास्ता अपनाया था।


करहल सीट से पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव का से करीबी जुड़ाव रहा है। मुलायम सिंह यादव ने करहल के जैन इंटर कॉलेज से ही शिक्षा ग्रहण की थी और वे यहां पर शिक्षक भी रहे। मैनपुरी परंपरागत रूप से समाजवादी पार्टी का गढ़ रहा है। सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव संसद में मैनपुरी निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। 2017 के विधानसभा चुनावों में, सपा उम्मीदवार सोबरन यादव ने करहल से 1.04 लाख वोट हासिल किए थे, उन्होंने भाजपा के प्रेम शाक्य को 38,405 मतों से हराया था।

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए, भाजपा ने कहा कि यह सपा प्रमुख की "गलतफहमी" है कि मैनपुरी उनके लिए एक "सुरक्षित सीट" है। भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, "लोकसभा चुनाव में बसपा प्रमुख मायावती की अपील के बाद उनके पिता मुलायम सिंह यादव किसी तरह जीत सकते थे। इस बार भाजपा करहल (मैनपुरी) में उनकी साइकिल पंचर कर देगी ताकि वह लखनऊ पहुंचने के लिए एक्सप्रेस-वे नहीं ले सकें।"

Next Story

विविध