Up Election 2022

सिद्धू के नहीं बदले तेवर, कहा - मेरे लिए गड्ढा खोदने वाले 100 गुना नीचे गिर गए, कांग्रेस आलाकमान पर भी बोला हमला

Janjwar Desk
12 March 2022 6:20 AM GMT
Punjab Election 2022 Navjot Singh Sidhu
x

पंजाब में हार के लिए कांग्रेस आलाकमान पर बोला हमला ।

पंजाब में हार के बाद नवजोत सिद्धू ने कहा कि राहुल गांधी की ओर से चन्नी के नाम का ऐलान किया गया था। मैं उनके साथ अंत तक खड़ा रहा।

अमृतसर। पंजाब विधानसभा चुनाव ( Punjab Assembly Election ) में कांग्रेस ( Congress ) को अब तक सबसे बड़ा झटका लगने के बाद पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ( Navjot Singh Sidhu ) अचानक गायब हो गए थे। एक दिन बाद वो सामने आये और अपने पुराने तेवर में ऐसा बयान दिया जो कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ाने वाली हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी से कांग्रेस को मिली करारी हार पर अपने पहले बयान में कहा कि मुद्दा एक ही है कि कैसे पंजाब ( Punjab ) को जीत दिलाई जाए। यही नहीं एक बार फिर से उन्होंने पार्टी के ही नेताओं पर हमला बोला है।

जैसा कर्म किया वैसा ही जवाब जनता ने दिया

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ( Navjot Singh sidhu ) ने कहा कि जिन लोगों ने नवजोत सिंह सिद्धू के लिए गड्ढा खोदने का काम किया था, वे 100 गुना नीचे जा गिरे। कांग्रेस से तीन से 4 मुख्यमंत्री हार चुके हैं। यह कांग्रेस के कर्म ही फल है। जैसा पार्टी ने बोया था, वैसा ही काटा।

चन्नी को सीएम फेस किसने बनाया

नवजोत सिंह सिद्धू ने संकेतों में ही इस हार के लिए चरणजीत सिंह चन्नी ( Charanjeet Singh Channi ) को सीएम फेस बनाए जाने को जिम्मेदार ठहराया है। इसके लिए सिद्धू ने पार्टी हाईकमान पर भी हमला बोला है। सिद्धू ने कहा कि राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) की ओर से चन्नी के नाम का ऐलान कर दिया गया और मैं उनके साथ अंत तक खड़ा रहा। मैं चरणजीत चन्नी के साथ अंत तक खड़ा रहा। वह मेरे विधानसभा क्षेत्र में भी आए, लेकिन मैं इस डिटेल में नहीं जाना चाहूंगा कि पार्टी के फैसले को लोगों ने स्वीकार नहीं किया है। यह तो हाईकमान का फैसला था।

छोटी सोच वाले लोग तय करते हैं हार की जिम्मेदारी

यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस इस हार के लिए वह किसे जिम्मेदार ठहराते हैं? इस सवाल पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि जिम्मेदारी तय करना या फिर किसी पर सवाल खड़े करना छोटी सोच वाले लोगों का काम होता है। हमारी चिंताएं इससे कहीं ज्यादा हैं। व्यक्तिगत नहीं हैं। पंजाब प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस को जनता ने 2017 में बहुमत दिया था, लेकिन सरकार उसकी भरपाई अपने काम से नहीं कर पाई।

चन्नी ने चुनाव प्रचार के लिए नहीं कहा

चुनाव में अपनी विधानसभा से बाहर प्रचार के लिए न निकलने पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि यह तो सीएम का विशेषाधिकार था। अगर किसी ने मुझसे प्रचार के लिए होता तो मैं जरूर बाहर निकलता। बता दें कि पंजाब में पूरे चुनाव प्रचार के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू और चरणजीत सिंह चन्नी के बीच मतभेद देखने को मिले थे।

Punjab Assembly Election Result 2022 : बता दें कि चुनावी हार के बाद पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू को लोगों की याद आ गई। चुनाव में हलके के लोगों से रही उनकी दूरी उनकी हार का कारण बनी। यही वजह रही कि हार के बाद अगले ही दिन वह लोगों से नजदीकियां बढ़ाने के लिए वेरका क्षेत्र में पहुंचे। सिद्धू ने शुक्रवार को वेरका के विभिन्न क्षेत्रों में लोगों से मिले और चुनाव में मतदान के लिए उनका धन्यवाद किया। इस दौरान उनके चेहरे पर हार की टीस झलक रही थी। वह क्षेत्र में वह करीब डेढ़ घंटे तक रहे।

दरअसल, सिद्धू को मिली हार में उनके हलके के लोगों से रही दूरी को अहम कारण मान जा रहा था। चुनाव में उन्होंने अपनी यह गलती स्वीकार भी की थी कि वह लोगों से दूर रहे और भविष्य में ऐसा नहीं होगा लेकिन फिर भी जीत नसीब नहीं हुई।

Next Story

विविध