Up Election 2022

UP Exit Polls 2022: नहीं रहा एग्जिट पोल का वजूद, 10 मार्च को EVM के नतीजे आएंगे तब माना जाएगा- संजय राऊत

Janjwar Desk
8 March 2022 10:33 AM GMT
upchunav2022
x

(समाप्त हो चुका है एग्जिट पोल्स का वजूद- संजय राऊत)

UP Exit Polls 2022: इससे पहले समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने भी मीडिया में बयान जारी करते हुए कहा कि, 'गोदी मीडिया के आंकड़ों पर ध्यान न दें 10 मार्च का इंतजार करें'...

Exit Polls: पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की समाप्ती बाद ही तमाम टीवी चैनलों ने एग्जिट पोल दिखाने शुरू कर दिए हैं। आम आदमी से लेकर तमाम दलों के नेता इन एग्जिट पोल्स को गैर भरोसेमंद करार दे रहे हैं। इसी कड़ी में ताजा बयान शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत का सामने आया है।

शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने पांच राज्यों के चुनावों के एग्जिट पोल पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। राउत ने इन पोल्स को नकार दिया है। उन्होंने कहा कि एग्जिट पोल्स का अब कोई वजूद नहीं है, कई एजेंसियां ये काम करती है। राउत ने कहा कि 'पहले भी पोल गलत हुए हैं।'

बता दें कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को लेकर टीवी चैनलों पर बताए जा रहे एग्जिट पोल्स को लोग मनगढ़ंत करार दे रहे हैं। इससे पहले समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने भी मीडिया में बयान जारी करते हुए कहा कि, 'गोदी मीडिया के आंकड़ों पर ध्यान न दें 10 मार्च का इंतजार करें।'

प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने आज मंगलवार सुबह एग्जिट पोल्स को खारिज करते हुए इन्हें भ्रामक और अविश्वसनीय बताया। इसके साथ ही उन्होंने भरोसा जताया कि सपा गठबंधन पूर्ण बहुत से सरकार बनाने जा रहा है। शिवपाल यादव ने कार्यकर्ताओं को भरोसा देते हुए ट्वीट किया है कि 'एग्जिट पोल्स द्वारा दिखाई जा रही तस्वीर आभासी, भ्रामक और अविश्वसनीय है।'

शिवपाल यादव ने कहा कि, जनता इसके पीछे की मंशा को बहुत अच्छे से समझ रही है। समाजवादी गठबंधन पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रहा रहा है। प्रत्याशी व कार्यकर्ता मतगणना तक सतर्क व सक्रिय रहें। निश्चय ही सफलता आपकी राह देख रही है।'

सपा के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रहे ओपी राजभर (Omprakash Rajbhar) ने भी आज मंगलवार सुबह ट्वीट किया है कि 'उत्तर प्रदेश की जनता का जनादेश, सपा+सुभासपा गठबंधन आ रही है। टेलीविजन पर ध्यान न दें। जब तक गिनवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं! EVM मशीन पर रहे हमेशा ध्यान।' बता दें कि 2017 में भाजपा के साथ चुनाव लड़कर योगी सरकार में मंत्री रहे राजभर बाद में बगावत करके सपा गठबंधन में शामिल हो गए।'

Next Story

विविध