Up Election 2022

UP Election 2022 : सपा से गठबंधन के बावजूद ओमप्रकाश राजभर ने सण्डीला से क्यों मैदान में उतारा उम्मीदवार?

Janjwar Desk
24 Jan 2022 8:39 AM GMT
UP Election 2022 : सपा से गठबंधन के बावजूद ओमप्रकाश राजभर ने सण्डीला से क्यों मैदान में उतारा उम्मीदवार?
x
UP Election 2022 : सुभासपा ने प्रदेश अध्यक्ष सुनील अर्कवंशी को सण्डीला सीट पर उम्मीदवार बनाया है, इस सीट से भाजपा अलका अर्कवंशी को अपना उम्मीदवार बना चुकी है ....

UP Election 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) के लिए सभी दल अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर रहे हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश के हरदोई की सण्डीला सीट पर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (Suheldev Bhartiya Samaj Party) के प्रमुख ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने प्रत्याशी घोषित कर सबको चौंका दिया है। सुभासपा ने सपा (Samajwadi Party) से गठबंधन के बावजूद सण्डीला से उम्मीदवार की घोषणा की है।

सुभासपा ने प्रदेश अध्यक्ष सुनील अर्कवंशी (Sunil Arkvanshi) को सण्डीला सीट (Sandila Seat) पर उम्मीदवार बनाया है। इस सीट से भाजपा अलका अर्कवंशी को अपना उम्मीदवार बना चुकी है। इस इलाके में सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर करीब दो वर्षों से सक्रिय रहे हैं। इस सीट पर अर्कवंशी समाज के करीब साठ हजार लोग हैं और इसको देखते हुए हरदोई (Hardoi) निवासी सुनील अर्कवंशी को ओमप्रकाश राजभर ने इस सीट पर उम्मीदवार बनाया है।

ओमप्रकाश राजभर पहले ही कह चुके थे कि वह सण्डीला सीट को गठबंधन के तहत सुनील को ही उम्मीदवार बनाएंगे। टिकट के आश्वासनके बाद सुनील भी लगातार क्षेत्र में सक्रिय रहे। पिछले दिनों समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर की रैली में रिकॉर्ड भीड़ जुटी थी।

राजनीति के जानकारों का माननना है कि ओमप्रकाश राजभर का अचानक सण्डीला पहुंचकर उम्मीदवार घोषित करना उनकी कोई चतुर चाल का ही हिस्सा है वरना वह लखनऊ में ही इसकी घोषणा कर सकते थे।

बता दें कि भाजपा (BJP) से टिकट न मिलने पर पूर्व विधायक स्व.महावीर सिंह की पत्नी रीता सिंह ने शनिवार को समाजवादी पार्टी का दामन था। अखिलेश यादव ने जब प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी तब रीता सिंह भी वहां पर मौजूद थीं, उस समय अखिलेश यादव ने एक सवाल के जवाब में कहा था कि वह भी चुनाव लड़ेंगी। लेकिन सपा की आधिकारिक घोषणा से पहले ही राजनीति के चतुर खिलाड़ी ओमप्रकाश राजभर ने सण्डीला पहुंचकर अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया।

सण्डीला सीट को समाजवादी पार्टी साल 2012 के चुनाव में जीत चुकी है। तब रीता सिंह के ही पति महावीर सिंह ने यहां जीत दर्ज की थी। रीता सिंह टिकट की आस में सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुई थीं लेकिन भाजपा ने उनकी जगह अलका अर्कवंशी को अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया।

ओमप्रकाश राजभर यह जानते थे कि अगर रीता सिंह को सपा ने अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया उनका इस सीट से दावा फिसल जाएगा। इसीलिए वह सण्डीला पहुंचे और अपना उम्मीदवार सुनील अर्कवंशी घोषित कर दिया।

Next Story

विविध