दुनिया

इस देश ने लगा दी हंसने पर पाबंदी, नहीं कर पाएंगे अंतिम संस्कार, जानिए कहाँ का है मामला?

Janjwar Desk
17 Dec 2021 4:28 PM GMT
इस देश ने लगा दी हंसने पर पाबंदी, नहीं कर पाएंगे अंतिम संस्कार, जानिए कहाँ का है मामला?
x

इस देश ने लगा दी हंसने पर पाबंदी, नहीं कर पाएंगे अंतिम संस्कार, जानिए कहाँ का है मामला? (file photo)

Kim Jong-un bans laughing in North Korea: तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) अपने अजीब-अजीब फैसलों के लिए दुनिया भर में जाना जाता है. तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने फरमान जारी करते हुए देश में लोगों के हंसने रहने पर पाबंदी लगा दिया है।

Kim Jong-un bans laughing in North Korea: तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) अपने अजीब-अजीब फैसलों के लिए दुनिया भर में जाना जाता है. तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने फरमान जारी करते हुए देश में लोगों के हंसने रहने पर पाबंदी लगा दिया है। किम जोंग ने कहा है कि सभी नागरिक हर समय उदास रहें। यदि किसी नागरिक के चेहरे पर खुशी दिखेगी तो उसे वैचारिक अपराधी मानते हुए सख्त सजा दी जाएगी। नागरिक अगले 11 दिनों तक अपनी खुशी का इजहार नहीं कर सकेंगे। उनके हंसने और खुशी मनाने पर पाबंदी लगाई गई है। देश के पूर्व सुप्रीम लीडर किम जोंग इल की 10वीं बरसी पर 11 दिनों के शोक की घोषणा की गई है।

किम जोंग इल की बरसी पर देश में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं। यहां 11 दिनों तक लोग शराब नहीं पी सकेंगे। वे खरीददारी नहीं कर पाएंगे और उनके हंसने पर रोक रहेगी। एक व्यक्ति ने रेडियो फ्री एशिया को बताया कि इस दौरान बाहर सैर-सपाटे पर भी रोक लगाई गई है। इस व्यक्ति ने बताया कि 11 दिनों के शोक के दौरान फरमान का उल्लंघन करने पर लोगों को कठोर सजा दी जाएगी।

जानकारी के मुताबिक किम जोंग उन द्वारा जारी फरमान में कहा गया है कि शोक अवधि के दौरान कोई भी नागरिक हंसने, शराब पीने अथवा अन्य खुशनुमा गतिविधियों में नहीं शामिल हो सकता हैं। यदि कोई शराब पीकर जश्न मनाते हुए पाया जाता है तो उसे मौत की सजा दी जाएगी। आदेश के मुताबिक इन 11 दिनों तक किसी के घर में स्वादिष्ट खाना नहीं बनाया जाएगा, बल्कि नागरिक रूखा-सूखा भोजन करेंगे।

शोक के दौरान बाजार से नए कपड़े से लेकर कुछ भी नया सामान खरीदने पर पाबंदी लागू हो गई है। इस दौरान लोग अपना जन्मदिन भी नहीं मना सकते हैं। शोक अवधि के दौरान यदि किसी की मौत होती है तो परिजन ज्यादा चिल्लाकर नहीं रोएंगे, बल्कि उतने ही दुःखी रह सकते हैं, जितना दुखी अन्य नागरिकों को रहने के लिए कहा गया है। इस दौरान कोई अपने काम और नौकरी से छुट्टी नहीं लेगा, सभी लोग काम करेंगे लेकिन चेहरे पर उदासी लेकर।

निधन होने पर रोने तक की पाबंदी

किम जोंग इल की मृत्यु 17 दिसंबर को हुई थी इसलिए आज कोई भी सामान खरीदने के लिए बाजार भी नहीं जा सकेगा। रिपोर्ट के मुताबिक शोक के दौरान अगर किसी के परिवार में कोई निधन हो जाता है तब भी उसे तेजी से रोने की अनुमति नहीं होती और वे शव को शोक खत्म होने के बाद ही बाहर लेकर जा सकते हैं।

आजीवन कारावास तक की सजा

रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस अधिकारियों को लोगों पर नजर रखने के आदेश दिए गए हैं। उत्तर कोरिया के क्रूर तानाशाह किम जोंग इल की मौत 17 दिसंबर 2011 को 69 साल की उम्र में हार्ट अटैक से हो गई थी। उन्होंने 17 साल देश पर शासन किया। उत्तर कोरिया में हर साल यह शोक मनाया जाता है जो 10 दिनों का होता है। हालांकि, इस बार 11 दिन का शोक रहेगा। इस दौरान कोई भी जश्न मनाते या खुशी जाहिर करते मिला तो उसे आजीवन कारावास तक की सजा हो सकती है।

Next Story

विविध