दुनिया

Dictator Kim Yo Jong कौन हैं, उनके एक बयान से पूरी दुनिया में क्यों मची है खलबली?

Janjwar Desk
5 April 2022 3:05 PM GMT
Dictator किम यो जोंग कौन हैं, उनके एक बयान से पूरी दुनिया में क्यों मची है खलबली?
x

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की बहन हैं किम यो जोंग। 

Dictator किम यो जोंग को अपने भाई और उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन का सबसे ज्यादा भरोसेमंद और उन तक सीधी पहुंच वाली एक मात्र महिला हैं।

नई दिल्ली। रूस और यूक्रेन के बीच पिछले 41 दिनों से युद्ध जारी है। इस बीच उत्तर कोरिया (North Korea) के सनकी तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) की बहन Dictator किम यो जोंग ( Kim Yo jong ) ने अपने एक बयान से पूरी दुनिया को सकते में डाल दिया है। किम यो जोंग ( Kim Yo Jong) ने दक्षिण कोरिया ( South korea ) को धमकी भरे लहजे में कहा है कि यदि दक्षिण कोरिया ने हमला करने जैसी हिमाकत की तो यह उसकी भूल होगी। हम उसे पूरी तरह से बर्बाद कर देंगे। ऐसा होने पर हम दक्षिण कोरिया सीधे परमाणु बम ( Atom bomb ) से उड़ा देंगे। तानाशाह किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग ने कहा कि हम युद्ध के खिलाफ हैं लेकिन दक्षिण कोरिया ने भूल से भी हरकत कोई हरकत की तो उसके दुष्परिणाम ऐतिहासिक होंगे।

किम यो जोंग ( kim Yo Jomg ) का बयान दुनिया भर में मंगलवार सुबह से ही सुर्खियों में है। अब उनके बारे लोग यह जानना चाहते हैं कि तक आखिर ये सनकी महिला है कौन, जिसने दक्षिण कोरिया को परमाणु बम ( Atom Bomb ) से उड़ाने की धमकी दी है।

सनकी तानाशाह की बहन

दरअसल, किम यो जोंग ( Kim yo jong ) उत्तर कोरिया ( North Korea ) के सनकी तानाशाह किम जोंग उन की बहन हैं। जब से वो पब्लिक लाइफ में खुलकर सामने आई हैं, तभी से दोनों भाई-बहन को लेकर लोग उधेड़बुन में हैं कि दोनों में से ज्यादा खतरनाक कौन है।

पहली बार 2018 में सुर्खियों में आईं

किम यो जोंग पहली बार 2018 में वैश्विक सुर्खियों में उस समय आईं थी जब उन्होंने दक्षिण कोरिया ( South korea ) के प्योंगचांग में शीतकालीन ओलंपिक में अपने भाई का प्रतिनिधित्व किया। उसके बाद से उन्हें तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ वियतनाम में परमाणु शिखर सम्मेलन के लिए जाते समय सर्वोच्च नेता के लिए एक ऐशट्रे पकड़े देखा गया था।

तानाशाह के बाद सबसे ज्यादा ताकतवर

किम यो जोंग ( Kim Yo Jong ) तब से उत्तर कोरियाई नेतृत्व में एक महत्वपूर्ण व्यक्ति बन गए हैं और उन्हें देश और विदेश में सनकी किम की प्रतिनिधित्व करने के लिए भी जानी जाती हैं। वह उत्तर कोरिया में वर्कर्स पार्टी का भी हिस्सा हैं जो देश पर शासन करती है। किम यो जोंग सत्ताधारी पार्टी में एक बड़ी सरकारी अधिकारी हैं।

वह वाशिंगटन और सियोल के साथ प्योंगयांग के मामलों को संभालने की भी प्रभारी थीं। किम यो जोंग को 2021 में और सैन्य अधिकार दिया गया था जब उन्हें देश के कुछ सैन्य रसद के अघोषित निरीक्षण करने की इजाजत दी गई थी।

किम जोंग उन का सबसे भरोसेमंद व्यक्ति

अगर आपको 2020 उत्तर और दक्षिण कोरिया के सीमा पर संपर्क कार्यालय को उड़ाए जाने की याद आती है, तो आपको पता होना चाहिए कि इस काम को किम यो जोंग के आदेश पर ही अंजाम दिया गया था। किम यो जोंग को अपने भाई और उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन का सबसे ज्यादा भरोसेमंद और उन तक सीधी पहुंच वाली एक मात्र महिला हैं।

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति को भी दे चुकी हैं धमकी

ऐसा पहली बार नहीं है कि किम यो जोंग ने दक्षिण कोरिया को धमकी दी है। 2021 में उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षणों में से एक पर तत्कालीन दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे इन के बयान का जवाब देते हुए किम ने कहा था कि उनकी टिप्पणियों ने दोनों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को नष्ट करने का काम किया है।

भाई-बहन ने स्विटजरलैंड में एक साथ की पढ़ाई

किम यो जोंग ( Kim jong Un ) का जन्म 26 सितंबर 1987 को हुआ था। हालांकि, इसका आधिकारिक रिकॉर्ड या तो मौजूद नहीं हैं या अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी है। उसने अपने भाई किम जोंग उन के साथ स्विट्जरलैंड में पढ़ाई की। अपने निजी घर में अंगरक्षकों के साथ उनकी हर हरकत पर नजर रखी।

Next Story

विविध