Top
दुनिया

पहली बार पाकिस्तानी सेना में एक महिला बनी लेफ्टिनेंट जनरल

Janjwar Desk
2 July 2020 8:55 AM GMT
पहली बार पाकिस्तानी सेना में एक महिला बनी लेफ्टिनेंट जनरल
x
इंटर सर्विसेज पब्लिज रिलेशंस (ISPR) के डायरेक्टर जनरल मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने ट्वीट कर लिखा- 'वो पहली महिला अधिकारी हैं जिन्हें लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में पदोन्नति दी गयी है....

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार सेना द्वारा एक महिला की नियुक्ति लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में की गयी है। पाकिस्तानी सेना के मीडिया विभाग ने ये जानकारी एक वक्तव्य के जरिये दी है।

तीन सितारा जनरल का महत्वपूर्ण पद हासिल करने वाली मेजर जनरल निगर जौहर की नियुक्ति पाकिस्तानी सेना की पहली महिला सर्जन जनरल के पद पर भी हुई है।

गौरतलब है कि मेजर जनरल निगर जौहर सेना की मेडिकल कोर से जुडी हैं। निगर 1985 में आर्मी मेडिकल कॉलेज, रावलपिंडी से ग्रेजुएशन करने के बाद पाकिस्तानी सेना के मेडिकल कोर के लिए चुनी गईं।

इंटर सर्विसेज पब्लिज रिलेशंस (ISPR) के डायरेक्टर जनरल मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने ट्वीट कर लिखा- 'वो पहली महिला अधिकारी हैं जिन्हें लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में पदोन्नति दी गयी है। अधिकारी को पाकिस्तानी सेना की पहली महिला सर्जन जनरल बनाया गया है।'

साल 2015 में वह संयुक्त सैन्य अस्पताल रावलपिंडी की डिप्टी कमांडेंट बनी थीं। 2017 में मेजर जनरल का पद हासिल करने वाली निगर जौहर पाकिस्तानी सेना की तीसरी महिला अधिकारी थीं। शाहिदा बादशा और शाहिदा मलिक अन्य दो महिला मेजर जनरल रही हैं।

लेफ्टिनेंट जनरल निगर के पिता और पति दोनों ही पाकिस्तानी सेना में थे। वो रिटायर्ड मेजर मोहम्मद आमिर की भतीजी हैं, जो पाकिस्तान के पूर्व सेना अधिकारी हैं, जिन्होंने इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) में सेवा की थी। उनके पिता कर्नल कादिर ने भी आईएसआई में सेवा की थी।

Next Story

विविध

Share it