बिहार चुनाव 2020

लालू के बेटों की सर्टिफिकेट उम्र में है अजीब लोचा, छोटे बेटे तेजस्वी यादव तेज प्रताप से ऑन पेपर हैं बड़े

Janjwar Desk
6 Nov 2020 12:31 PM GMT
लालू के बेटों की सर्टिफिकेट उम्र में है अजीब लोचा, छोटे बेटे तेजस्वी यादव तेज प्रताप से ऑन पेपर हैं बड़े
x

महुआ में राजद प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करते तेजस्वी यादव व तेज प्रताप यादव।

दोनों भाइयों की उम्र का यह मामला 2015 के विधानसभा चुनाव में जोर-शोर से उठा था। उस समय विपक्षी भाजपा ने इस मुद्दे पर लालू परिवार की जोरदार घेराबंदी की थी...

जनज्वार। राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटों की सर्टिफिकेट उम्र में अजीब उलझन है। लालू प्रसाद के छोटे बेटे व महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव बड़े भाई तेज प्रताप यादव से न सिर्फ राजनीति में बल्कि सर्टिफिकेट उम्र में भी बड़े हैं।

दोनों भाई ने इस साल का विधानसभा चुनाव लड़ है और इसके लिए दायर उनके अलग-अलग हलफनामे के अनुसार, तेजस्वी यादव की उम्र जहां 31 साल है, वहीं उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव की उम्र 30 साल है।

दोनों भाइयों की उम्र का यह मामला 2015 के विधानसभा चुनाव में जोर-शोर से उठा था। उस समय विपक्षी भाजपा ने इस मुद्दे पर लालू परिवार की जोरदार घेराबंदी की थी, हालांकि यह राजनीति में कोई मुद्दा नहीं बन सका।

चुनाव पर काम करने वाली वेबसाइट माइ नेता इन्फो के अनुसार, इस बार के चुनाव में तेजस्वी यादव ने अपनी उम्र 31 साल हलफनामे में बतायी है, जबकि बड़े भाई तेज प्रताप यादव ने एक साल कम 30 साल अपनी उम्र बचायी है।

दरअसल, पहले के समय में स्कूल में मौखिक रूप से लिखायी जाने वाली उम्र ही एज प्रूफ मान लिया जाता था, हालांकि अब इसके लिए स्थानीय निकायों का प्रमाण पत्र एक आवश्यक शर्त है।

पिछली बार जहां राजद-जदयू ने मिल कर चुनाव लड़ा था, वहीं दोनों दल इस बार आमने-सामने हैं। ऐसे में दूसरे फेज की वोटिंग से पहले जदयू ने दोनों भाइयों को कथित तौर पर गलत हलफनामा के आधार पर घेरा था और इस संबंध में चुनाव आयोग से शिकायत की थी। हालांकि उनकी यह शिकायत उम्र नहीं संपत्ति को लेकर थी। जदयू नेता नीरज कुमार ने आयोग को की गई अपनी शिकायत में कहा था कि दोनों भाइयों ने अपनी हलफनामे में अपने नाम की संपत्ति का वास्तविक ब्यौरा पेश नहीं किया था।

तेजस्वी यादव इस दूसरी बार वैशाली जिले की राघोपुर सीट से विधानसभा चुनाव लड़े हैं, जबकि उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव इस बार महुआ की जगह समस्तीपुर जिले के हसनपुर से मैदान में कूद हैं। महुआ सीट भी वैशाली जिले में ही आती है। वहां से पार्टी ने इस बार मुकेश रौशन को उम्मीदवार बनाया है।

Next Story

विविध

Share it