Top
बिहार चुनाव 2020

बिहार में पतली होती हालत देख सुशील मोदी हुए अंधविश्वासी, बोले- लालू ने करवाया काला जादू

Janjwar Desk
25 Oct 2020 8:30 AM GMT
बिहार में पतली होती हालत देख सुशील मोदी हुए अंधविश्वासी, बोले- लालू ने करवाया काला जादू
x
सुशील मोदी ने कहा कि उसी तांत्रिक से उत्तरप्रदेश के विंध्याचल धाम में लालू प्रसाद से तंत्र पूजा करायी थी, वे तीन साल पहले मुझे मारने के लिए भी तंत्रिक अनुष्ठान करा चुके हैं...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। बिहार चुनावों में प्रचार के दौरान महागठबंधन के सीएम फेस तेजस्वी यादव की सभाओं में अच्छी-खासी भीड़ जुट रही है। इसके उलट मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कई सभाओं में विरोध के स्वर गूंज चुके हैं। एनडीए के कई सिटिंग विधायकों को भी वोट मांगने के दौरान क्षेत्र में लोगों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है।

एनडीए की पतली होती हालत को देखकर बीजेपी नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को अब यह लगने लगा है कि लालू प्रसाद कहीं तंत्र -मंत्र का सहारा तो नही ले रहे हैं। सुशील मोदी की तबियत भी इन दिनों गड़बड़ा गयी है और वे कोरोना के संक्रमण से ग्रसित होकर और चुनाव प्रचार से दूर हो चुके हैं। ऐसे में अब उन्हें यह आशंका हो रही है कि यह सब काला जादू और तंत्र-मंत्र के कारण तो नहीं हो रहा! इसे लेकर उन्होंने लालू प्रसाद पर कई आरोप भी लगा दिया है।

सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि लालू प्रसाद ने तीन साल पहले उन्हें मारने के लिए विंध्याचल में तंत्र पूजा कराई थी। उन्होंने लालू प्रसाद को अंधविश्वासी बताते हुए कहा कि उन्होंने न केवल तांत्रिक के कहने पर सफेद कुर्ता पहनना छोड़ दिया, बल्कि शंकर चरण त्रिपाठी नाम के एक तांत्रिक को पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया। हालांकि पिछले लोकसभा चुनावों के दौरान भी सुशील मोदी लालू प्रसाद पर इस तरह के आरोप लगा चुके हैं।

सुशील मोदी अभी कोरोना संक्रमण से पीड़ित हैं और क्वेरेंटीन हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि उसी तांत्रिक से उत्तरप्रदेश के विंध्याचल धाम में लालू प्रसाद से तंत्र पूजा करायी थी। वे तीन साल पहले मुझे मारने के लिए भी तंत्रिक अनुष्ठान करा चुके हैं।


मोदी ने कहा कि 2009 में पूर्ण सूर्य ग्रहण देखने तारेगना पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जब ग्रहण के समय बिस्कुट खा लिया था, तब अंधविश्वासी लालू प्रसाद ने कहा था कि इससे अकाल पड़ जाएगा। जबकि हुआ उल्टा। बिहार में एनडीए शासन के दौरान कृषि पैदावार बढ़ी।


सुशील मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद को जनता पर भरोसा नहीं, इसलिए वे तंत्र-मंत्र, पशुबलि और प्रेत साधना जैसे कर्मकांड कराते रहते हैं। इसके बावजूद वे न जेल जाने से बचे, न ही अपनी सत्ता बचा पाये। वे अभी 14 साल जेल में ही काटने वाले हैं।

सुशील मोदी ने लालू प्रसाद पर हमला करते हुए एक और बड़ा आरोप लगाया। मोदी ने कहा कि चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू प्रसाद जेल मैन्युअल की धज्जी उड़ा रहे हैं। वे बिहार विधानसभा चुनाव के पहले रांची के केली बंगले में नवरात्र की नवमी के दिन तीन बकरों की बलि देने वाले हैं। चूंकि उन्हें आभास हो चुका है कि हाशिये पर पड़े कुछ दलों से गठबंधन और बड़बोले वादे पार्टी की नैया पार नहीं लगा सकते।

उधर नेता प्रतिपक्ष और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने सुशील कुमार मोदी के इस बयान बयान को अंधविश्वास से भरा बताया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि सुशील मोदी को अपने 15 साल के कार्यकाल और बिहार की समस्याओं के विषय में बात करनी चाहिए। तेजस्वी यादव ने यह भी कहा कि शिवहर में एक उम्मीदवार की हत्या यह बताने को काफी है कि बिहार में विधि-व्यवस्था की स्थिति कैसी है।

Next Story

विविध

Share it