Top
अंधविश्वास

UP : पति की मौत के बाद प्रेमी को वश में करने के लिए महिला ने लिया तंत्र-मंत्र का सहारा, खरीदे 5 नरमुंड

Janjwar Desk
9 Dec 2020 6:40 AM GMT
UP : पति की मौत के बाद प्रेमी को वश में करने के लिए महिला ने लिया तंत्र-मंत्र का सहारा, खरीदे 5 नरमुंड
x

file photo

तांत्रिक राम मनोहर ने विधवा महिला गीता को बताया था कि वो तंत्र-मंत्र से किसी को भी वश में कर सकता है, जिसके बाद गीता ने अपने एक प्रेमी को वश में करने की बाबत उससे बात की थी और 5 नरमुंड खरीदे थे...

कानपुर, जनज्वार। कानपुर शहर की पुलिस ने एक महिला और पुरुष तांत्रिक मित्र को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि महिला ने 5 हजार रुपये में उससे पांच नरमुंड खरीदे थे। आरोपी महिला अपने घर में नरमुंड रखकर तंत्र साधना करती थी, जिससे उसका प्रेमी उसके वश में रहे। पूजा में खलल पड़ने पर उसने पांचों नरमुंड एक खाली प्लाट में रखवा दिए थे, जिसके आधार पर वह पकड़ी गई।

काशीराम कॉलोनी के सामने पड़े खाली मैदान में आसपा के लोग कूड़ा कचरा डालते हैं। सोमवार 7 दिसंबर की दोपहर को कूड़े के ढेर में नरमुंड मिलने की सूचना से लोग घबरा गये और इसकी सूचना पुलिस को दी। सभी नर मुंड में सिंदूर और लाल रंग लगे थे, जिसके चलते किसी तंत्र मंत्र के लिए इन नरमुंडों के इस्तेमाल की बात का खुलासा हुआ। इसी दौरान आसपास के लोगों ने गीता नाम की महिला पर तंत्र-मंत्र करने को लेकर शक जताया और कहा कि हो सकता है यह मुंड उसी ने कूड़े में फेंके हों।

पुलिसिया जानकारी के मुताबिक यह महिला बीते तीन सालों से तंत्र-मंत्र कर रही थी। सोमवार 7 दिसंबर की सुबह 5 नरमुंड पनकी के एक खाली पड़े प्लाट में मिलने के बाद मंगलवार 8 दिसंबर को महिला की गिरफ्तारी से सारी बातों से पर्दा उठा।

पुलिसिया पूछताछ में महिला ने बताया कि 10 साल पहले नौबस्ता का रहने वाला एक युवक उसे मिला था। उस युवक को वह अपने वश में करना चाहती थी। अपने ही दामाद विजय के जरिये वह अपने प्रेमी को वश में करने के लिए तांत्रिक राम मनोहर से मिली थी।

पुलिस की जांच में एक और बात का खुलासा हुआ वह यह कि पहले 5 नरमुंडों की कीमत 40 हजार रुपये तय हुई थी, लेकिन बाद में रुपये न होने पर मामला 5 हजार रुपयों में ही तय हो गया। मुहल्ले के लोगों ने आरोपी महिला गीता पर संदेह जताया था, जिसके बाद पुलिस उस तक पहुंची थी। जब गीता बार-बार बयान बदलकर बातें घुमाने गी तो पुलिस का शक गहराया। पुलिस की सख्ती और पूजा यानी तंत्र-मंत्र का सामान घर पर बरामद होने के बाद महिला एक के बाद एक सच कबूल करती गई।

एसपी पश्चिम डॉ अनिल कुमार इस मामले में कहते हैं, काशीराम कालोनी पनकी की रहने वाली गीता के पति की मौत हो चुकी है। गीता के दो बेटे हैं दोनों बाहर रहते हैं। लगभग तीन साल पहले गीता की मुलाकात बांदा के रेउना निवासी तांत्रिक राम मनोहर से हुई थी। राम मनोहर ने गीता को बताया था कि वो तंत्र-मंत्र से किसी को भी वश में कर सकता है, जिसके बाद गीता ने अपने एक प्रेमी को वश में करने की बाबत उससे बात की थी।

बातचीत के कुछ समय बाद तांत्रिक राम मनोहर ने गीता को कानपुर आकर 5 नरमुंड दिए थे। गीता ने इसकी एवज में उसे 5 हजार रुपये भी दिए थे। तांत्रिक ने उसके घर पर पूजा भी कराई थी। इस पूजा के 5 हजार रुपये गीता ने अलग से दिए थे। एसपी अनिल कुमार के मुताबिक गीता पिछले तीन वर्षों से पूजा कर रही थी। जब इस पूजा के बाद उसे कुछ हासिल नहीं हुआ तो उसने नरमुंड फेंक दिए थे, जिसके बाद वह पुलिस की पकड़ में आयी।

आरोपी महिला गीता ने पुलिस के सामने कबूला कि तांत्रिक राम मनोहर उसे व्हाट्सएप्प पर पूजा करने की विधि का वीडियो भेजकर पूजा कराता था। वह वीडियो देखकर खासकर अमावस की रात पूजा करने की बात कहता था।

तांत्रिक मनोहर के बारे में पुलिस को पता चला है कि उसने केन नदी के किनारे से नरमुंडों को इकट्ठा किया था। नरमुंडों पर रंग लगाकर एक जगह रखने से लोग आकर पूजा करने लगे और पैसे चढ़ाने लगे, जिसके बाद वह अघोरी बन गया और उसने तांत्रिक की दुकान सजा ली।

Next Story
Share it