अंधविश्वास

Andhvishwash : भैंस बीमार हुई तो महिला को डायन बताकर मारपीट, पढ़िए अंधविश्वास के अजीबोगरीब मामले

Janjwar Desk
19 Sep 2021 9:42 AM GMT
भैंस बीमार होने पर एक महिला को डायन बताकर जमकर मारपीट की गई
x

(डायन बताकर महिलाओं से मारपीट। प्रतीकात्मक तस्वीर)

Andhvishwash : झारखंड के गढ़वा जिले में महिला को डायन बताकर मारपीट की गई....

Andhvishwash जनज्वार। भारत में अंधविश्वास (superstition) की जड़ें बहुत गहरी हैं और इनकी जकड़ में सबसे ज्यादा ग्रामीण हैं। आए दिन ग्रामीण क्षेत्रों में टोने-टोटके के मामले आपने सुने होंगे। लेकिन झारखंड (Jharkhand) के गढ़वा (Gadhwa) जिले से अंधविश्वास के ऐसे अजीबोगरीब मामले सामने आए हैं, जो हैरान करने वाले हैं। यहां अलग- अलग थाना क्षेत्रों में डायन बताकर दो महिलाओं के साथ जमकर मारपीट (Women Assaulted) की गई। दोनों महिलाओं का इलाज सदर अस्पताल में जारी है।

भैंस बीमार हुई तो महिला को डायन बता कर की मारपीट

पहला मामला भवनाथपुर (Bhavnathpur) थाना क्षेत्र के वनखेता गांव का है। यहां भैंस बीमार होने पर एक महिला को डायन बताकर जमकर मारपीट की गई। जानकारी के मुताबिक सिकिया बेवा टोला में रहने वाले उमेश गुप्ता की भैंस बीमार (Buffalo Became Ill) हो गई। भैंस के इलाज कराने की बजाए उमेश व उसके परिवार वालों ने उसी गांव में रहने वाले अकलु साह की पत्नी विमला देवी पर डायन बिसाही का आरोप लगाकर जमकर मारपीट की।

उमेश के परिवार वालों का आरोप था जादू टोना (witchcraft) का असर उसकी भैंस पर हुआ है। वह ठीक से खा भी नहीं रही है। इसी बात का गुस्सा परिवार वालों ने विमला देवी पर निकाला और मौका पाकर उमेश गुप्ता, उसकी पत्नी रमिता देवी, मां कल्याणी देवी तथा श्यामलाल गुप्ता की पत्नी बेबी देवी ने मिलकर महिला की दर्दनाक तरीके से पिटाई (women beaten up badly) कर दी।

दूसरी घटना जिले के थाना क्षेत्र के उंचरी मोहल्ला वार्ड नंबर एक में घटी। जहां रहने वाले अशोक कुमार रवि की पत्नी अंजली देवी को डायन होने का आरोप लगाकर उमेश राम व उसकी पत्नी चांदनी देवी जमकर पिटाई कर दी। उमेश व चांदनी ने अंजली के बेटे आदित्य कुमार व बेटी ज्योति व खुशबू के साथ भी मारपीट की। बताया जा रहा है कि उमेश राम का दो वर्षीय पुत्र कार्तिक कुमार अक्सर अंजली देवी के पास आ जाता है।

यह बात उमेश व उसकी पत्नी को इतनी नगावर गुजरी कि दोनों ने अंजली देवी पर डायन होने का आरोप लगाया और कहा कि अंजली देवी डायन बिसाही कर कार्तिक कुमार को अपने पास बुला लेती है। शनिवार की सुबह अंजली देवी टोकरी मे गोबर लेकर खेत में डालने जा रही थी। इस दौरान उसकी पिटाई कर दी। मारपीट के बाद दोनों महिलाएं बुरी तरह घायल हैं। जिनका इलाज चल रहा है।

इन घटनाओं के बाद से साफ है कि अंधविश्वास ग्रामीण इलाकों में अपने पैर पसार चुका है। गांव में किसी की बकरियां- भैंस अचानक बीमार हो जाएं, या मर जाएं, कोई बच्चा अचानक बीमार हो जाएं तो इसके पीछे ग्रामीण एक ही कारण बताते हैं डायन... और डायन होने का आरोप लगता है महिलाओं के ऊपर। भारत में हर रोज न जाने कितनी ही महिलाओं को डायन, भूत, चूडैल बताकर मारपीट की जाती है। ऐसे में ग्रामीणों को जागरुक करने की जरुरत है ताकि इन घटनाओं पर रोक लग सके।

Next Story

विविध