अंधविश्वास

Dhirendra Shastri expose : गुंडों जैसी भाषा बोलने वाले तथाकथित चमत्कारी बाबा धीरेंद्र शास्त्री को BJP महासविच कैलाश विजयवर्गीय का खुला समर्थन

Janjwar Desk
21 Jan 2023 11:29 AM GMT
Dhirendra Shastri expose : गुंडों जैसी भाषा बोलने वाले तथाकथित चमत्कारी बाबा धीरेंद्र शास्त्री को BJP महासविच कैलाश विजयवर्गीय का खुला समर्थन
x
Dhirendra Shastri expose : भाजपा के दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि जो लोग बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र शास्त्री पर सवाल उठा रहे हैं, उनकी सनातन धर्म के प्रति अनास्था है इसलिए ऐसे प्रश्न उठा रहे हैं...

Dhirendra Shastri expose : चमत्कार और अंधविश्वास के नाम पर भोली भाली जनता को ठगने वाले धीरेंद्र शास्त्री की बौखलाहट एक्सपोज होने के बाद लगातार बढ़ती जा रही है। उनकी गुंडों जैसी भाषा, धमकाने वाला अंदाज और उसके बाद ABVP के पत्रकार के साथ पहले से प्रायोजित​ इंटरव्यू पर भी बुरी तरह एक्सपोज होने के बाद यह प्रवचनकारी बाबा बुरी तरह ट्रोल हो रहा है।

हालांकि बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र शास्त्री की फैन फॉलोइंग और अंधभक्त भी अच्छे खासे हैं, हालांकि इन्हें इनका सोशल मीडिया टीम कहना ज्यादा मुनासिब होगा, क्योंकि जनज्वार द्वारा सबसे पहले धीरेंद्र शास्त्री को लगभग 3 माह पहले एक्सपोज किया गया था जिसके बाद सोशल मीडिया पर तरह तरह की धमकियां दी जा रही हैं। और धमकियों तथा गाली-गलौज का यह सिलसिला लगातार जारी है। अब इस कड़ी में एक और नाम भाजपा महासविच कैलाश विजयवर्गीय का जुड़ गया है। उन्होंने खुलकर धीरेंद्र शास्त्री को समर्थन देते हुए मुस्लिमों को निशाना बनाया है।

भाजपा के दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि जो लोग बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र शास्त्री पर सवाल उठा रहे हैं, उनकी सनातन धर्म के प्रति अनास्था है इसलिए ऐसे प्रश्न उठा रहे हैं।

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी के महासचिव और सांसद कैलाश विजयवर्गीय खेल महोत्सव के लिए बुरहानपुर पहुंचने के दौरान धीरेंद्र शास्त्री​ विवाद में एंट्री कर चुके हैं।

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री विवाद पर कैलाश विजयवर्गीय कह रहे हैं, 'मैंने बागेश्वर धाम सरकार का इंटरव्यू देखा है। उन्होंने कहा है कि मैं चमत्कार नहीं करता हूं, मुझे मेरे ईष्ट पर विश्वास है और मैं उन ईष्ट का नाम लेता हूं और लोगों की समस्या का हल होता है। ऐसा सिर्फ धीरेंद्र शास्त्री महाराज तो कर नहीं रहे। जावरा (रतलाम) की हुसैन टेकरी पर भी लोग जाते हैं। वहां लोग नाचते कूदते हैं और ठीक होकर आते हैं। इसको लेकर को कभी किसी ने सवाल किया नहीं। धीरेंद्र जी के बारे जो लोग सवाल कर रहे हैं उनकी सनातन धर्म के प्रति अनास्था है इसलिए ऐसे प्रश्न उठा रहे हैं।'

धीरेंद्र शास्त्री एक्सपोज मामले पर वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल कहते हैं, 'हिंदू धर्म की कैसी दुर्गति हुई है कि बागेश्वर धाम वाला बाबा हिंदुओं का सबसे बड़ा बाबा बन बैठा है। हिंदू धर्म के मनीषियों को सोचना चाहिए कि हिंदू धर्म इस हाल में कैसे पहुँच गया कि एक उजड्ड, मूर्ख, मुँहफट, अंधविश्वास फैलाने वाला आदमी हिंदू धर्म का नेता बन गया है। इतना पतन?'

वहीं वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम कहते हैं, 'एक महापाखंडी बाबा को चैनलों ने सिर पर बैठा लिया है, जो मुंह खोलते ही 'आइटम' लगता है, उसके सामने लोटने लगे हैं।'

वहीं दलित—आदिवासी चिंतक और सामाजिक कार्यकर्ता हंसराज मीणा कहते हैं, 'ये बागेश्वर धाम प्रमुख धीरेंद्र शास्त्री है और एबीपी न्यूज के पत्रकार ज्ञानेंद्र तिवारी की पहले से फेसबुक पर कुंडली देखकर बैठा है। बाद में दरबार लगाकर चमत्कार दिखा रहा है। पाखंड, अंधविश्वास फैला रहा है। क्या यहीं "आइडिया ऑफ इंडिया हैं?" शर्म आनी चाहिए। इस पर कार्यवाही होनी चाहिए।'

मूकनायक की संपादक मीना कोटवाल कहती हैं, "बागेश्वर वाला ढोंगी शास्त्री इतना बड़ा दिव्यज्ञान रखता है तो जोशीमठ के बारे में पहले क्यों नहीं बताया? तमाम आपदा/अपराध को होने से पहले क्यों नहीं बताया ? ये फरार ढोंगी की सिट्टी पिट्टी गुल हुई तो ये धर्म पर हमला बता रहा है।"

Next Story

विविध