अंधविश्वास

Rajasthan Crime News : इलाज के नाम पर मासूम से बर्बरता, तांत्रिकों ने गर्म रेत में बच्चे को गर्दन तक गाड़ा

Janjwar Desk
13 Jun 2022 12:52 PM GMT
Rajasthan Crime News : इलाज के नाम पर 2 मासूमों से बर्बरता, तांत्रिकों ने गर्म रेत में बच्चों को गर्दन तक गाड़ा
x

Rajasthan Crime News : इलाज के नाम पर 2 मासूमों से बर्बरता, तांत्रिकों ने गर्म रेत में बच्चों को गर्दन तक गाड़ा

Rajasthan Crime News : कुछ बाबाओं ने इलाज के नाम पर दो मासूम बच्चों को गर्दन तक तपती रेत में दबा दिया, पीड़ित मासूम चल पाने में असमर्थ है, कुछ जागरूक लोगों ने इन तांत्रिकों की करतूतों को अपने कैमरे में कैद कर लिया, जिसके बाद इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया...

Rajasthan Crime News : राजस्थान (Rajasthan Crime News) में श्रीगंगानगर जिले में इलाज के नाम पर अंधविश्वास का दिल को दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां कुछ बाबाओं ने इलाज के नाम पर दो मासूम बच्चों को गर्दन तक तपती रेत में दबा दिया। पीड़ित मासूम चल पाने में असमर्थ है। कुछ जागरूक लोगों ने इन तांत्रिकों (Rajasthan Crime News) की करतूतों को अपने कैमरे में कैद कर लिया, जिसके बाद इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। बता दें कि इससे पहले भी राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में 2 दिन पहले ही कथित इलाज के नाम पर दो व्यक्तियों को चिंता और सरियों से दागने का मामला भी सामने आया था।

दो बच्चों को तपती रेत में दबाया

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ताजा मामला सूरतगढ़ के राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 62 के नजदीक पीपेरन क्षेत्र का बताया जा रहा है। सोशल मीडिया पर हो रहे इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक रेतीले धोरे पर दो तांत्रिक नन्हे मासूम को गर्दन तक तपती रेत में दबाए बैठे हैं। कथित तांत्रिकों के अनुसार हरियाणा क्षेत्र का यह बच्चा चलने फिरने में असमर्थ है। इसे उसके ही परिजन ने उनको इलाज के लिए सौंपा है। वह यहां इलाज कर रहे हैं।

लोगों ने मासूम को तपती रेत से निकलवाया

बीते रविवार रात को इसकी सूचना मिलने पर कुछ जागरूक लोग पीपेरन क्षेत्र के इस स्थान पर पहुंचे। उन्होंने इन बाबाओं से इलाज के नाम पर इस मासूम को दी जा रही यातनाओं को लेकर सवाल जवाब किए। बाद में वीडियो बना रहे हैं लोगों ने इस मासूम को तपती रेत से बाहर निकलवाया और उसके परिजनों से बात की। बातचीत में परिजनों ने उसे अपनी सहमति से बाबाओं को सुपुर्द किए जाने के बाद कही।

परिजन और तांत्रिक को बुलाया गया थाने

बता दें कि इस घटना की जानकारी मिलने पर पीपेरन सरपंच भी मौके पर पहुंचे और पुलिस को इस घटना की जानकारी दी। उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने इन कथित तांत्रिकों को पाबंद करते हुए मासूम के परिजनों समेत सभी को सोमवार थाने में तलब किया है। बता दें कि श्री गंगानगर में बीमारियों के इलाज के लिए अंधविश्वास का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले 2 दिन पूर्व भी अंधविश्वास के चलते कुछ तांत्रिकों ने दो बहनों को चिमटे से दागा था।


(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू—ब—रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story

विविध