शिक्षा

कोरोना वायरस: हिमाचल में 15 अप्रैल तो बिहार में 11 अप्रैल तक स्कूल, कॉलेज बंद करने का आदेश

Janjwar Desk
4 April 2021 8:58 AM GMT
कोरोना वायरस: हिमाचल में 15 अप्रैल तो बिहार में 11 अप्रैल तक स्कूल, कॉलेज बंद करने का आदेश
x
बिहार सरकार ने भी राज्य भर में कोरोनावायरस महामारी के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 11 अप्रैल तक सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया है....

जनज्वार डेस्क। हिमाचल प्रदेश सरकार ने शनिवार को कहा कि राज्य के सभी शैक्षणिक संस्थान 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे। हालांकि, इस दौरान शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारी ड्यूटी करेंगे। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए एसओपी के कड़े अनुपालन के साथ कोचिंग सेंटर, सभी मेडिकल सेवाएं, डेंटल और नसिर्ंग संस्थान खुले रहेंगे।

आवासीय सुविधा वाले शिक्षण संस्थान भी खुले रह सकते हैं। वरिष्ठ कक्षाओं के छात्र और बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों को अगर किसी विषय पर कोई जानकारी चाहिए या उन्हें किसी सवाल पर शिक्षक की जरूरत महसूस होती है तो वह अपने शिक्षण संस्थानों में जा सकते हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें अपने माता-पिता की लिखित सहमति लेनी होगी।

शुक्रवार को जारी किए गए राज्य के स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, हिमाचल प्रदेश में अभी तक कुल 64,420 मामलों के अलावा फिलहाल सक्रिय मामलों की संख्या 3,338 है। राज्य में अभी तक कोरोनावायरस की वजह से 1,043 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

वहीं बिहार सरकार ने भी राज्य भर में कोरोनावायरस महामारी के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 11 अप्रैल तक सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया है। संक्रमण के बढ़ते मामले पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को अधिकारियों के साथ हाई लेवल मीटिंग की थी। इसके बाद संकट प्रबंधन समूह की बैठक में स्कूल और कॉलेजो को बंद करने का फैसला लिया गया।

मुख्यमंत्री नीतीश ने तमाम अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे किसी भी बड़े जनसमूह को इकट्ठा होने की अनुमति न दें और साथ ही शादी व जन्मदिन की पार्टियों में आमंत्रितों की संख्या को भी कम करने पर ध्यान दें।

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव व संकट प्रबंधन समूह के प्रमुख अरुण कुमार सिंह को राज्य के हर जिले में रैपिड एंटीजन और आरटी-पीसीआर परीक्षणों को तेज करने का निर्देश दिया है।

अधिकारियों को यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि लोग महामारी के प्रसार को रोकने के लिए एहतियात के तौर पर रेलवे स्टेशनों, बस स्टैंडों और बाजार स्थानों पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें।

Next Story

विविध

Share it