शिक्षा

Jodhpur News : होमवर्क नहीं किया तो टीचर ने बरसाए 15 थप्पड़, पिटाई के कारण बच्चा हुआ बेहोश, अस्पताल में भर्ती

Janjwar Desk
17 Sep 2022 12:02 PM GMT
Jodhpur News : होमवर्क नहीं किया तो टीचर ने बरसाए 15 थप्पड़, पिटाई के कारण बच्चा हुआ बेहोश, अस्पताल में भर्ती
x

Jodhpur News : होमवर्क नहीं किया तो टीचर ने बरसाए 15 थप्पड़, पिटाई के कारण बच्चा हुआ बेहोश, अस्पताल में भर्ती

Jodhpur News : थानाधिकारी का कहना है कि डॉ राधाकृष्णन सीनियर सेकंडरी स्कूल में नौंवी में पढ़ने वाले स्टूडेंट के साथ पिटाई की शिकायत मिली थी, स्टूडेंट आकाश के पिता ने बताया कि होमवर्क पूरा न करने की मामूली बात पर टीचर ने बच्चे की पिटाई कर दी...

Jodhpur News : राजस्थान में स्कूलों में बच्चों के साथ लगातार मारपीट के मामले सामने आ रहे हैं। बीते एक महीने में राजस्थान के चार शहरों में इस तरह मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें से एक मामले में जालोर में तो बच्चे की पिटाई के कारण मौत तक हो गई थी। वहीं इसके बाद उदयपुर और बाड़मेर में भी पिटाई के केस सामने आए। अब नया मामला राजस्थान के ही जोधपुर के बोरुंदा थाना क्षेत्र का है।

नौंवी कक्षा के छात्र की टीचर ने की पिटाई

इस मामले में थानाधिकारी का कहना है कि बीते गुरुवार शाम को डॉ राधाकृष्णन सीनियर सेकंडरी स्कूल में नौंवी में पढ़ने वाले स्टूडेंट के साथ पिटाई की शिकायत मिली थी। स्टूडेंट आकाश के पिता ने बताया कि होमवर्क पूरा न करने की मामूली बात पर टीचर ने बच्चे की पिटाई कर दी। बच्चों को सिर में अंदरूनी चोट आई जिसके कारण उसे जोधपुर के अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। हालांकि, डॉक्टर का कहना है कि बच्चे को कोई अंदरुनी चोट नहीं है।

टीचर की पिटाई से बीमार छात्र हुआ बेहोश

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बोरुंदा के बेलदारों का मोहल्ला न्यू कॉलोनी में रहने वाले कानाराम ओड ने आरोपी टीचर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। कानाराम ने बताया कि उसके बेटे आकाश को 15 सितंबर दोपहर को उसका ममेरा भाई मिथुन संभालते हुए घर लाया था। कानाराम का कहना है कि आकाश को चक्कर आ रहा था। उसके सिर और कान में तेज दर्द था। पूछने पर आकाश ने बताया कि बुखार के कारण उसने साइंस का होमवर्क पूरा नहीं किया। इस बात पर संस्कृत टीचर रामकरन ने हाथ पर चूंटियां काटीं और सिर, गाल व कान पर 15 थप्पड़ मारे। टीचर की पिटाई से आकाश क्लास में ही गिर पड़ा। इस दौरान दूसरी टीचर आ गई। फिर स्कूल के ऊपर बने कमरे में बच्चे को लिटा दिया गया।

बच्चे को किया गया जोधपुर अस्पताल में भर्ती

आकाश के पिता कानाराम बीते गुरूवार को ही बच्चे को बोरुंदा के सरकारी स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए तो डॉक्टर ने उसे जोधपुर रेफर कर दिया गया। कानाराम ने स्कूल के प्रिंसिपल बाबूलाल भाकर से शिकायत की तो पहले उन्होंने टीचर का समर्थन किया लेकिन जोधपुर रेफर किए जाने की बात सुनकर बोरुंदा से जोधपुर के लिए गाड़ी भेजी और स्कूल स्टाफ के कुछ टीचर्स को भी साथ भेजा। जोधपुर में गुरुवार शाम 6.30 बजे श्रीराम अस्पताल में सीटी स्कैन कराया तो कान के पास अंदरूनी हिस्से में सूजन के कारण बच्चे को एडमिट कर लिया गया।

टीचर ने दी छात्र को ये धमकी

इस मामले में आरोप है कि आकाश ने प्रिंसिपल के पास जाने की बात कही तो टीचर रामकरन ने प्रिंसिपल या घरवालों से पिटाई की बात नहीं कहने की हिदायत दी। साथ ही कहा कि किसी को बताया तो फेल कर दूंगा, नहीं बताएगा तो अच्छे नंबर दूंगा।

बच्चे के पिता ने पुलिस ने दर्ज कराई शिकायत

मामला गंभीर देख स्कूल के स्टाफ के टीचर्स गाड़ी लेकर फरार हो गए। गुरुवार शाम कानाराम ने पुलिस को लिखित शिकायत देकर आरोपी टीचर के खिलाफ सख्त एक्शन की मांग की। आकाश के पिता ने प्रशासन व जोधपुर पुलिस अधीक्षक से अमानवीय हरकत करने वाले शिक्षक रामकरण के खिलाफ कार्रवाई कर न्याय दिलाने की मांग की है।

टीचर ने बच्चे के साथ मारपीट की बात से किया इनकार

टीचर रामकरण के खिलाफ शिकायत दी गई है। वहीं इस मामले में टीचर का कहना है कि उन्होंने बच्चे के साथ मारपीट नहीं की। बच्चों को होमवर्क दिया था। कॉपी चेक कर रहा था। जिन बच्चों ने होमवर्क नहीं किया था उन्हें हाथ ऊपर कर खड़े होने की पनिशमेंट दी थी। इसके अलावा कुछ नहीं हुआ। सभी आरोप बेबुनियाद हैं। वहीं इस मामले में बोरुंदा थाना अधिकारी हुकम गिरी ने बताया कि प्रकरण में मामला दर्ज कर अनुसंधान जारी है। बच्चे के बयान लेने जोधपुर जाएंगे।

Next Story

विविध