शिक्षा

हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज से फिर बोतल से बाहर निकला रैगिंग का जिन्न, हेल्पलाइन पोर्टल पर शिकायत के प्राचार्य ने एंटी रैगिंग कमेटी की बुलाई बैठक

Janjwar Desk
14 Jan 2023 8:45 AM GMT
हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज से फिर बोतल से बाहर निकला रैगिंग का जिन्न, हेल्पलाइन पोर्टल पर शिकायत के प्राचार्य ने एंटी रैगिंग कमेटी की बुलाई बैठक
x
छात्रों का आरोप है कि उन्हें रात को ठीक से सोने भी नहीं दिया जाता है। यदि काम करने से मना करते हैं तो उनके साथ गाली-गलौज की जाती है....

राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में एक बार फिर रैगिंग का जिन्न बोतल से बाहर निकलने पर संस्थान में हड़कंप मचा हुआ है। ताजा मामला तब सामने आया जब संस्थान के कुछ छात्रों ने इसकी शिकायत संस्थान के हेल्पलाइन पोर्टल पर ऑनलाइन दर्ज कराई। रैगिंग का यह मामला सामने आते ही मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने हरकत में आते ही एंटी रैगिंग कमेटी के साथ बैठक है। वैसे फिलहाल अभी तक मेडिकल कॉलेज प्रशासन रैगिंग जैसी बात से इंकार ही कर रहा है।

जानकारी के अनुसार हल्द्वानी स्थित राजकीय मेडिकल कॉलेज में संस्थान के पीजी प्रथम वर्ष के कुछ छात्रों ने अपने सीनियर्स स्टूडेंट्स पर लगातार 24 घंटे काम कराने के साथ ही गाली-गलौज किए जाने का आरोप लगाया है। कॉलेज के एक विभाग के इन छात्रों ने शुक्रवार शाम को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) की एंटी रैगिंग हेल्पलाइन में ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराते हुए अपने सीनियरों पर आरोप लगाया है कि हमसे 24 घंटे काम कराया जाता है।

छात्रों का आरोप है कि उन्हें रात को ठीक से सोने भी नहीं दिया जाता है। यदि काम करने से मना करते हैं तो उनके साथ गाली-गलौज की जाती है। आरोप लगाने वाले छात्रों ने इन सारे आरोपों की रिकॉर्डिंग भी हेल्पलाइन के मेल पर भेजी है। हेल्पलाइन में शिकायत मिलने के बाद कॉलेज प्रशासन पूरे मामले की जांच में जुट गया है।

इस मामले में मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य प्रोफेसर अरुण जोशी का कहना है कि पूरा प्रकरण पहली नजर में रैगिंग जैसा नहीं लग रहा है। लेकिन फिर भी शिकायत छात्रों की जो शिकायत मिली है, उसके आधार पर एंटी रैगिंग कमेटी की आज शनिवार को बैठक बुलाई गई है। पूरे मामले में कमेटी पीड़ित पक्ष से विस्तृत जानकारी हासिल करते हुए सुनवाई करेगी।

यहां बताते चलें कि हल्द्वानी के इस राजकीय मेडिकल कॉलेज में इससे पहले भी रैगिंग के मामले सामने आ चुके हैं। यहां रह रहकर रैगिंग का यह जिन्न अक्सर ही बोतल से बाहर आता रहता है। अभी नौ दिसंबर 2022 की रात एमबीबीएस की एक छात्रा ने अपने दो साथी छात्रों के साथ मिलकर बॉयज हॉस्टल में घुसकर एक छात्र के साथ जमकर मारपीट की थी। जिसके बाद मामला एंटी रैगिंग कमेटी के पास भी पहुंचा था। लेकिन इस मामले में दोनों पक्षों में समझौता होने के बाद इस विवाद का पटाक्षेप हो गया था। इससे पूर्व इसी संस्थान का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। जिसमें दो दर्जन से अधिक छात्र सिर मुंडवाए हुए एक लाइन में खड़े दिखाई दिए थे। वीडियो वायरल होने के बाद ये मामला हाईकोर्ट तक पहुंचा था।

Next Story

विविध