गवर्नेंस

चुनावी स्टंट : PM राशन योजना के तहत यूपी के करोड़ों घरों में पहुँचेंगे योगी-मोदी, खुद के प्रचार का अपनाया ये तरीका

Janjwar Desk
23 July 2021 3:05 AM GMT
चुनावी स्टंट : PM राशन योजना के तहत यूपी के करोड़ों घरों में पहुँचेंगे योगी-मोदी, खुद के प्रचार का अपनाया ये तरीका
x

प्रचार की भूखी सरकार ने राशन के झोले में छपवाई अपनी तस्वीरें.

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर लाभार्थियों को साधने के लिए सरकार ने इस बार बैग में राशन वितरित करने का निर्णय किया है। सूचना विभाग की तरफ से विशेष रूप से तैयार यह बैग सभी जिलों में भेजे जाएंगे...

जनज्वार, लखनऊ। यूपी में 2022 विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। लगभग सभी पार्टियों ने उठा-पटक तेज कर दी है। वहीं सत्ताधारी पार्टी भाजपा (BJP) भी अपने प्रचार का कोई मौका हाथ से नहीं जाने देना चाह रही है। ताजा प्रकरण प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के बैग में लगवाई गई फोटो की है। बैग में पीएम मोदी और योगी की फोटो लगवाई गई हैं।

इन बैग (BAG) वाली फोटो के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के 3.59 करोड़ राशनकार्ड धारक परिवारों के घर तक पहुंचेंगे। योजना के जरिये मिलने वाला मुफ्त अनाज इस बार बैग में वितरित किया जाएगा। इन बैग पर योजना के नाम के साथ प्रधानमंत्री मोदी व मुख्यमंत्री योगी की फोटो चस्पा है।

योजना का बैग और उसमें छपी पीएम-सीएम की तस्वीर

बताया जा रहा है कि, इस योदना के तहत प्रदेश में करीब 3.59 करोड़ परिवारों को प्रति व्यक्ति पांच किलो राशन मुफ्त दिया जा रहा है। इसके तहत 14 करोड़ से अधिक लोगों को तीन किलो गेहूं व दो किलो चावल मुफ्त मिल रहा है। अभी तक लाभार्थी परिवारों को स्वयं के थैले में राशन लेकर जाना पड़ता था।

गौरतलब है कि, आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर लाभार्थियों को साधने के लिए सरकार ने इस बार बैग में राशन वितरित करने का निर्णय किया है। सूचना विभाग की तरफ से विशेष रूप से तैयार यह बैग सभी जिलों में भेजे जाएंगे।

विभाग के एसीएस (ACS) नवनीत सहगल ने सभी जिलाधिकारियों को जुलाई से इन बैग में राशन वितरित कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रत्येक सरकारी राशन की दुकान से जिले के प्रभारी मंत्री, स्थानीय सांसद, विधायक व जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में प्रत्येक लाभार्थी को बैग वितरित करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इसके लिए किसी अपर जिलाधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त करने के लिए भी कहा गया है।

Next Story

विविध

Share it