Top
स्वास्थ्य

कोरोना के साथ अब यूपी के मैनपुरी में डेंगू का प्रकोप, अब तक 12 की मौत और 400 बीमार

Janjwar Desk
22 Sep 2020 10:00 AM GMT
कोरोना के साथ अब यूपी के मैनपुरी में डेंगू का प्रकोप, अब तक 12 की मौत और 400 बीमार
x
लगभग 4000 आबादी वाले गांव करीमगंज में 23 दिन से लगातार बुखार के मरीज मिल रहे हैं। गांव में अब तक 400 से ज्यादा लोग बीमार हो चुके हैं। इनमें 12 मरीजों की मौत हो गई है....

जनज्वार, मैनपुरी। उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जनपद का गांव करीमगंज इन दिनों बुखार से जूझ रहा है। यहां 23 दिनों में बुखार से पीड़ित 12 मरीजों की मौत हो चुकी है। 400 से ज्यादा लोग बीमार हैं। कई मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। गांव का परिषदीय विद्यालय अस्थाई अस्पताल में बदल गया है। यहां मरीजों को उपचार दिया जा रहा है।

लखनऊ से आई स्वास्थ विभाग की टीम गांव में डेरा डाले हुए हैं। टीम ने सोमवार 21 सितंबर को घर-घर जाकर मरीजों का हाल जाना। साथ ही उन्हें जरूरी निर्देश भी दिए। लगभग 4000 आबादी वाले गांव करीमगंज में 23 दिन से लगातार बुखार के मरीज मिल रहे हैं। गांव में अब तक 400 से ज्यादा लोग बीमार हो चुके हैं। इनमें 12 मरीजों की मौत हो गई है। गांव के लोग डेंगू होने की बात कह रहे हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग निजी पैथॉलॉजी की जांच को नकारता आ रहा था। अब स्वास्थ्य विभाग की जांच रिपोर्ट में भी डेंगू की पुष्टि हुई है।

लखनऊ स्थित स्वास्थ्य भवन की लैब भेजे गए 54 नमूनों में से आठ में डेंगू की पुष्टि हुई है। तीन मरीजों में पहले भी डेंगू की पुष्टि हो चुकी है। इनकी जांच सैफई मेडिकल कॉलेज से कराई गई थी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके पांडेय ने बताया कि आठ मरीजों की जांच रिपोर्ट में डेंगू होने की पुष्टि हुई है। सभी मरीजों को उपचार दिया जा रहा है। उनकी हालत बेहतर है। डेंगू की पुष्टि होने वाले सभी मरीज खतरे से बाहर हैं।

करीमगंज में स्थिति को देखते हुए शनिवार 19 सितंबर को लखनऊ से महामारी विशेषज्ञ डॉ. मुकेश प्रकाश और राज्य संक्रामक रोग अधिकारी डॉ. विपिन शुक्ला गांव पहुंचे थे। लगातार तीसरे दिन भी वे गांव में मरीजों का हाल चाल जानने और हालात का जायजा लेने में जुटे रहे। उन्होंने सोमवार 21 सितंबर को मरीजों के घर-घर जाकर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। साथ ही लोगों को डेंगू से बचाव के लिए जागरूक भी किया।

जिले के मलेरिया अधिकारी एसएन सिंह के नेतृत्व में गांव पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम भी एंटी लार्वा व अन्य दवाओं का छिड़काव करती रही। टीम ने लोगों को पानी जमा न होने देने, शुद्ध पानी पीने आदि के बारे में जागरूक किया। जिला मलेरिया अधिकारी ने कहा कि गांव में दवा के छिड़काव के साथ ही लोगों का उपचार किया जा रहा है। सोमवार को 27 लोगों के डेंगू जांच के लिए के लिए नमूने लिए गए। लखनऊ से आई टीम ने भी गांव पहुंचकर मरीजों का हाल चाल लिया।

इस मामले में सीएमओ मैनपुरी डॉ अशोक पांडेय ने जनज्वार से हुई बातचीत में बताया, फिलहाल कोई नया केस अभी देखने मे नहीं आया है। हमने लोगों की मौत के बाद तमाम प्रकार के एहतियात बरते हैं। गांव में दो एम्बुलेंस तथा जरूरी चीजें मुहैय्या करवा दी गई हैं। जिन लोगों में डेंगू का लार्वा मिल रहा है उन्हें तुरन्त अस्पताल में भर्ती करवाया जा रहा है। जहां कहीं कंटेन्मेंट जोन है उसे छोड़कर पूरे गांव में समय समय पर दवाओं का छिड़काव भी किया जा रहा है।

Next Story

विविध

Share it