स्वास्थ्य

Lahsun ke fayde: सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता लहसुन बल्कि सेहत के लिए इन फायदों से है भरपूर, जानिए

Janjwar Desk
13 Jan 2022 3:14 AM GMT
Lahsun ke fayde: सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता लहसुन बल्कि सेहत के लिए इन फायदों से है भरपूर, जानिए
x

Lahsun ke fayde: सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता लहसुन बल्कि सेहत के लिए इन फायदों से है भरपूर, जानिए

Lahsun ke fayde: अगर बात लाजवाब खाने की हो और उसमें लहसुन का नाम ना आए। ऐसा शायद ही हो । यही वजह है कि सब्जी हो या कोई नॉनवेज डिश, इसमें लहसुन का बड़ा रोल माना जाता है। खाने का स्वाद बढ़ाने के अलावा लहसुन को सेहत के लिए भी फायदेमंद माना जाता है।

मोना सिंह की रिपोर्ट

Lahsun ke fayde: अगर बात लाजवाब खाने की हो और उसमें लहसुन का नाम ना आए। ऐसा शायद ही हो । यही वजह है कि सब्जी हो या कोई नॉनवेज डिश, इसमें लहसुन का बड़ा रोल माना जाता है। खाने का स्वाद बढ़ाने के अलावा लहसुन को सेहत के लिए भी फायदेमंद माना जाता है।

इसमें बहुत सारे औषधीय गुण भी होते हैं। शोध के अनुसार, लहसुन में खनिज विटामिन, मिनरल और इम्यूनिटी को मजबूत करने वाले तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। लहसुन का प्रयोग सदियों से औषधि की तरह भी किया जाता रहा है। लहसुन का रोजाना प्रयोग ब्लड प्रेशर, डिप्रेशन,हृदय रोग जैसी बीमारियों में भी बहुत लाभप्रद है। यदि लहसुन का सुबह खाली पेट सेवन करें तो अनेकों बीमारियों से बचा जा सकता है। आइए जानते हैं कैसे और किस मात्रा में लहसुन का सेवन लाभप्रद है।

पाचन तंत्र ठीक करना

वैसे तो खाली पेट लहसुन खाने के बहुत फायदे हैं। लहसुन की एक कली को गर्म पानी से सुबह खाली पेट खाने से पाचन तंत्र सुचारू रूप से कार्य करता है। और गैस अपच की समस्या से भी छुटकारा मिलता है। लहसुन आतों में अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ाता है। और कब्ज में भी आराम मिलता है।

वजन कम होना

एक या दो लहसुन की कली सुबह पानी के साथ खाने से वजन कम होता है। लहसुन का सेवन शरीर को डिटॉक्सिफाई करने में किसी भी डिटॉक्स जूस या डिटॉक्स वॉटर से बेहतर कार्य करता है । लहसुन में सल्फर कंपाउंड में मौजूद होता है, जो शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकाल देता है,और डायबिटीज डिप्रेशन और कैंसर के कुछ होने से पहले ही रोक देता है।

साफ और सुंदर त्वचा

सुबह खाली पेट लहसुन का सेवन करने से लहसुन में मौजूद विटामिंस त्वचा संबंधी रोगों को दूर करते हैं,और त्वचा साफ सुंदर कोमल और कांतिलाल बनती है। लहसुन के रोजाना सेवन से कील मुंहासे इत्यादि की समस्या भी समाप्त होती है ।

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करता है लहसुन

कच्चे लहसुन में एलिसन डायलील डाइ-सल्फाइड ,डायलील ट्राईसल्फाइड जैसे सल्फर युक्त कंपाउंड मौजूद होते हैं। जो उच्च रक्तचाप या हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करते हैं।

डिप्रेशन

गर्म पानी के साथ कच्चे लहसुन के सेवन से शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। जो डिप्रेशन जैसी बीमारी से बचाते हैं।

स्वस्थ्य दांत

सुबह खाली पेट लहसुन का सेवन करने से लहसुन में मौजूद एंटीबैक्टीरियल तत्व मुंह में सड़न और बदबू की समस्या से बचाव करते है।

मजबूत प्रतिरक्षा तंत्र

सुबह रोजाना 4 से 5 लहसुन की कलियों का सेवन इम्यूनिटी बढ़ाता है। लहसुन में मौजूद कंपाउंड प्रतिरक्षा तंत्र या इम्यून सिस्टम को फ्री रेडिकल(free redicals) और विदेशी रोगजनको(foregin pathogens) से लड़ने में मदद करते हैं। इसमें मौजूद एलीसिन प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाता है।

पुरुषों को भी विशेष लाभ

लहसुन में एलिसिन कंपाउंड पाया जाता है। एलीसिन की वजह से लहसुन में एंटीवायरल, एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। पुरुषों के लिए कच्चा लहसुन प्राचीन काल से ही वरदान माना जाता रहा है। शारीरिक रूप से कमजोर पुरुष जिन्हें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की शिकायत है। वो सुबह खाली पेट लहसुन की दो से चार कलियां चबाकर खाने से प्राइवेट पार्ट के कार्पस कैवरनोसा में रक्त का पूरा प्रवाहित होता है और इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या दूर होती है। लहसुन में एक्रोडिजियेक नामक कामोत्तेजक भी पाया जाता है। लहसुन में भारी मात्रा में विटामिन और सेलेनियम पाया जाता है। जो स्पर्म की क्वालिटी को अच्छा करता है।

लहसुन के अन्य लाभ

सुबह खाली पेट लहसुन खाने से सर्दी,खांसी, अस्थमा जैसी बीमारियां नहीं होती। लहसुन ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करता है, जिससे हृदय रोग होने की संभावना कम होती है । लहसुन के रोज सुबह खाली पेट सेवन से आंखों की रोशनी तेज होती है। यूटीआई और किडनी इन्फेक्शन का खतरा कम होता है। शरीर के सभी अंग लंबे समय तक ठीक से कार्य करते हैं, जिस वजह से लहसुन का सेवन उम्र को बढ़ाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

खाली पेट लहसुन क्यों खाना चाहिए?

कच्चे लहसुन का खाली पेट सेवन करने से इम्यूनिटी बढ़ती है। इसमें बहुत कम कैलोरी होती है। और विटामिन C,विटामिन B 6 और मैग्नीज अच्छी मात्रा में पाया जाता है। लहसुन को खड़ा खाने के बजाय जब हम इसे काट या कूट पीसकर खाते हैं, तो इसके तत्व मिलकर जो कंपाउंड या यौगिक बनाते हैं वह ज्यादा लाभदायक होता है।यह यौगिक पाचन तंत्र में प्रवेश कर पूरे शरीर में प्रवेश करता है। और जहां आवश्यकता होती है, अपना प्रभाव डालता है लेकिन कच्चे लहसुन के ज्यादा सेवन से सांसो में बदबू और जलन की समस्या हो सकती है।

लहसुन खाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है ?

सामान्य रूप से खाली पेट कभी भी दो से ज्यादा लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए। दो कली लहसुन ले और सिलबट्टे में कूट लें, रोजाना सुबह खाली पेट ले और इसके बाद एक गिलास गरम या सामान्य पानी पिए।

उल्टी, जी मिचलाने और कब्ज होने पर सुबह खाली पेट लहसुन का सेवन बंद कर दें। रक्तस्राव विकार, डायबिटीज, निम्न रक्तचाप और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस घरेलू उपचार का सेवन नहीं करना चाहिए कोई परेशानी होने पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए।

एक दिन में कितने लहसुन का सेवन करना चाहिए ?

आयुर्वेद के अनुसार, 1 दिन में 4 ग्राम यानी कि दो लहसुन की कलियों का ही सेवन करना चाहिए। और सब्जी में भी पांच से सात कलियां ही डालनी चाहिए कोई भी उपचार करने से पूर्व आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

Next Story

विविध