हाशिये का समाज

Patna Protest : बिहार में एडीएम ने शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ सरेआम किया दुर्व्यवहार, फिर जांच का झुनझुना क्यों थमा रही नीतीश सरकार

Janjwar Desk
22 Aug 2022 2:15 PM GMT
Patna Protest : बिहार में एडीएम ने शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ सरेआम किया दुर्व्यवहार,  फिर जांच का झुनझुना क्यों थमा रही नीतीश सरकार
x

बिहार में शिक्षक पर लाठियां कैमरों पर बरस रही हैं फिर जांच का झुनझुना क्यों थमा रही नीतीश सरकार

Patna Protest : बिहार की राजधानी पटना (Patna) में शिक्षक अभ्यर्थियों की पिटाई और राष्ट्रध्वज के अपमान मामले में पटना के जिलाधिकारी (डीएम) चंद्रशेखर सिंह ने संज्ञान लिया है, उन्होंने इसे अत्यंत गंभीर मामला बताते हुए दो सदस्यीय अधिकारियों की जांच टीम गठित की है...

Patna Protest : बिहार की राजधानी पटना (Patna) में शिक्षक अभ्यर्थियों की बर्बरता से पिटाई और राष्ट्रध्वज के अपमान मामले में पटना के जिलाधिकारी (डीएम) चंद्रशेखर सिंह ने संज्ञान लिया है। उन्होंने इसे अत्यंत गंभीर मामला बताते हुए दो सदस्यीय अधिकारियों की जांच टीम गठित की है। उन्होंने डीडीसी और एसपी सिटी मध्य को अभ्यर्थियों पर लाठी बरसाने वाले एडीएम के.के सिंह (ADM KK Singh) के खिलाफ जांच का आदेश दिया है। डीएम चंद्रशेखर सिंह ने दो दिन के अंदर जांच रिपोर्ट मांगी है। डीएम ने कहा कि राष्ट्रध्वज (Flag Of India) का अपमान करना बर्दाश्त के लायक नहीं।

कैमरे में घटना रिकॉर्ड लेकिन जांच का आदेश एक लॉलीपॉप

ऐसे में अब सवाल यह उठता है कि प्रदर्शन कर रहे युवक पर सरेआम भीड़ और कैमरे के सामने जमकर लाठियां बरसाईं जा रही है। शिक्षक अभ्यर्थी पर पटना एडीएम मीडिया और कैमरे के सामने लाठी बरसाते हुए साफ नजर आ रहे हैं लेकिन इसके बावजूद उन पर तत्काल कोई कार्यवाही नहीं की गई बल्कि केवल जांच के आदेश दिए हैं। ऐसे में सवाल यह उठता है कि जब कैमरे में घटना साफ तौर पर रिकॉर्ड हो गई है और पूरा मामला साफ समझ आ रहा है तो ऐसे में नीतीश सरकार जांच का झुनझुना क्यों थमा रही है। दिए गए आदेश में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर युवक की पिटाई का जो वीडियो वायरल हो रहा है उसकी सत्यता की जांच की जाए और 2 दिन में रिपोर्ट सौंपी जाए।


मामले की जांच के लिए बनाई गई जांच कमेटी

वहीं, तिरंगा लिए अभ्यार्थी पर लाठीचार्ज मामले में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा कि जो चीजें आज सामने आई हैं वो गलत है। ऐसा नहीं होना चाहिए था। मैंने जिलाधिकारी से फोन कर बात की है। जांच कमेटी बना दी गई है। दोषी पाए जाने पर करवाई होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में नई महागठबंधन की सरकार चल रही है। मुख्यमंत्री के द्वारा 20 लाख रोजगार की बात कही गई है, युवाओं को नौकरी दी जाएगी। हम प्रतिदिन लोगों से मिल रहे हैं, उनकी बातों को सुन रहे हैं। इस मामले को लेकर हम गंभीर है। युवाओं को घबराने की जरूरत नहीं। बस थोड़ा संयम बरतें। बीजेपी के लोगों ने दो साल बर्बाद किया, लेकिन अब काम हो रहा है। हमलोग काम कर रहे हैं। रोजगार और नौकरी देने के लिए सरकार काम कर रही है। पहले डाउट था पर अब स्पष्ट है कि लोगों को रोजगार मिलेगा।

Next Story

विविध