हाशिये का समाज

उत्तराखंड के कालाढूंगी में ढाई साल की मासूम दरिंदगी के बाद खून से लथपथ हालत में बरामद, रेप के आरोप में 42 वर्षीय शख्स गिरफ्तार

Janjwar Desk
26 Nov 2022 4:24 AM GMT
उत्तराखंड के कालाढूंगी में ढाई साल की मासूम दरिंदगी के बाद खून से लथपथ हालत में बरामद, रेप के आरोप में 42 वर्षीय शख्स गिरफ्तार
x

file photo

जब बच्ची की मां लौटी तो उसे बच्ची लहूलुहान हालत में मिली। बच्ची के माता-पिता अन्य मजदूर साथियों की मदद से बच्ची को खून से लथपथ हालत में लेकर सीएचसी कोटाबाग अस्पताल पहुंचे, जहां जांच पड़ताल में प्रथम दृष्टया बच्ची के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है...

रामनगर। निकटवर्ती कोटाबाग में एक 42 वर्षीय शख्स ने ढाई साल की बच्ची को अपनी हवस का शिकार बना डाला। खून से लथपथ मिली इस बच्ची को काम से लौटने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। बालिका के माता पिता बिहार निवासी हैं, जो यहां एक निर्माणाधीन रिजॉर्ट में काम करते हैं। जिस मजदूर ने दुष्कर्म की इस वारदात को अंजाम दिया है, पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी कर ली है। हिरासत में आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक कालाढूंगी थाने में पड़ने वाले कोटाबाग के ग्राम चांदपुर के शेरपुर में एक रिसॉर्ट का निर्माण कार्य चल रहा है, जहां बिहार राज्य के कटिहार जिले का एक परिवार मजदूरी करता है। शुक्रवार 25 नवंबर को भी यह मजदूर और उसकी पत्नी दोनों काम करने रिजॉर्ट गए थे। इस दौरान दोपहर बाद उनके साथ काम करने वाला एक अन्य मजदूर उनकी झोपड़ी में घुस गया, जहां मजदूर की ढाई साल की बच्ची को अकेला पाकर उसने उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।

कुछ समय बाद जब बच्ची की मां लौटी तो उसे बच्ची लहूलुहान हालत में मिली। बच्ची के माता-पिता अन्य मजदूर साथियों की मदद से बच्ची को खून से लथपथ हालत में लेकर सीएचसी कोटाबाग अस्पताल पहुंचे, जहां जांच पड़ताल में प्रथम दृष्टया बच्ची के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। बच्ची की पीठ पर रगड़ने के निशान भी मिले हैं। बच्ची की हालत को नाजुक देखते हुए मौके पर तैनात डॉक्टर सलीम अंसारी ने बच्ची की प्राथमिक उपचार मुहैया कराकर मामले को गंभीर बताते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया, जिसके बाद बच्ची को हल्द्वानी के सुशीला तिवारी चिकित्सालय में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। जहां बच्ची की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है।

इधर इस हैवानियत की खबर मिलने पर सक्रिय हुई पुलिस ने कार्यवाही करते हुए तत्काल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। कालाढूंगी थाना प्रभारी नंदन सिंह रावत ने बताया कि इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी पश्चिम बंगाल का रहने वाला है, जो पीड़ित परिवार के साथ ही मजदूरी करने का काम करता था। आरोपी की उम्र करीब 42 साल है। फिलहाल आरोपी से मामले में पूछताछ की जा रही है।

Next Story

विविध