Top
आंदोलन

कानपुर के सरकारी शेल्टर होम में 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव, AIPWA ने योगी सरकार से मांगा जवाब

Janjwar Desk
25 Jun 2020 12:51 PM GMT
कानपुर के सरकारी शेल्टर होम में 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव, AIPWA ने योगी सरकार से मांगा जवाब
x
कानपुर केे शेल्टर होम में 57 लड़कियों के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर, ऐपवा ने आयोजित किया प्रदेशव्यापी 'आक्रोश दिवस'....

जनज्वार ब्यूरो/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कानपुर का शेल्टर होम का मामला गर्माता जा रहा है। दरअसल कानपुर के सरकार शेल्टर होम 57 लड़कियां कोविड-19 से पॉजिटिव होने की बात सामने आयी है। इसको लेकर आज अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन (AIPWA) ने प्रदेशव्यवापी 'आक्रोश दिवस' का आयोजन किया। ऐपवा का कहना है कि शेल्टर होम में लड़कियां को अमानवीय परिस्थितियों में रहने के लिए मजबूर किया जा रहा है।

ऐपवा ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार से जवाब मांगा है, साथ ही महिला एवं बाल विकास मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। ऐपवा की जिला संयोजिका मीना सिंह कहती हैं, 'योगी सरकार के ही कार्यकाल में देवरिया में हुए शेल्टर होम कांड हुआ था। अगर योगी सरकार देवरिया शेल्टर होम कांड के जिम्मेदारों पर कड़ी करवाई की होती तो शायद आज कानपुर में इस तरह की घटना न होती।'


मीना सिंह आगे कहती हैं, 'यह मांग की गई थी कि प्रदेश के सभी सरकारी शेल्टर होम की एक निश्चित समयावधि पर सामाजिक कार्यकर्ताओं की उपस्थितिति में मॉनिटरिंग कराई जाए, साथ ही श्वेत पत्र जारी किया जाए लेकिन योगी सरकार ने इन सभी बातों पर गौर करने और कोई त्वरित कार्रवाई करने के बजाय इन्हें जानबूझकर ठंडे बस्ते में डाल दिया जिसकी वजह से आज कानपुर के शेल्टर होम में किशोरियों के साथ यौन उत्पीड़न की खबरें आ रही हैं।

गुरुवार को इस प्रदेशव्यापी 'आक्रोश दिवस' के जरिए मांग की गई है कि कानपुर शेल्टर होम की उच्च स्तरीय स्वतंत्र और निष्पक्ष न्यायिक जांच कराई जाए जिससे दोषियो पर कड़ी कार्रवाई की जा सके। महिला व बाल विकास मंत्री के इस्तीफा दें। शेल्टर होम में बच्चियों और किशोरियों के सम्मान सुरक्षा और स्वास्थ्य की गारंटी की जाए।


ऐपवा ने मांग की है कि शेल्टर होम के लिए श्वेत पत्र जारी किया जाए, साथ ही निश्चित समयावधि पर सामाजिक कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में होम शेल्टर की मॉनिटरिंग को सुनिश्चित किया जाय। इस 'आक्रोश दिवस' कार्यक्रम में कवियित्री विमल किशोर, कमल मगन, सलिहा, मोआजा, रेनू सिंह, गिरजा मनिकपुरी, कल्पना भद्रा आदि कई गणमान्य लोग शामिल हुए।

Next Story

विविध

Share it