राष्ट्रीय

Aaj Ka Mausam: 'गुलाब' के बाद 'शाहीन' की दस्तक, महाराष्ट्र और गुजरात में तेज बारिश का अलर्ट

Janjwar Desk
1 Oct 2021 5:10 PM GMT
Aaj Ka Mausam, Daily Weather Update 17 September, mausam ki jankaari
x
Aaj Ka Mausam: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) द्वारा शाहीन तूफान को लेकर चेतावनी जारी की गई है...मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर में जो गहरा दबाव बना था वह चक्रवात ‘शाहीन’ में तब्दील हो गया...

Aaj Ka Mausam: चक्रवाती तूफान 'गुलाब' का असर अभी कुछ राज्यों से गया भी नहीं था कि अब दूसरे चक्रवात को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) द्वारा शाहीन तूफान को लेकर चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर में जो गहरा दबाव बना था वह चक्रवात 'शाहीन' में तब्दील हो गया। यह तूफान गुजरात के तट से उत्पन होगा और इसके पाकिस्तान के समुद्री तट से टकराने की संभावना है। तूफान 'शाहीन' के वजह से अगले तीन दिन गुजरात के कई हिस्सों में भारी से भारी बारिश संभव है। साथ ही इन इलाकों में 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा भी चलेगी, जो बढ़कर 80-90 किमी तक होने की संभावना है। शुक्रवार देर रात या शनिवार सुबह तक इसके गंभीर चक्रवात के रूप में और तेज होने की संभावना जातई गई है। तूफान का नाम 'शाहीन' कतर ने दिया है, जो हिंद महासागर में एक ट्रॉपिकल चक्रवात के नामकरण के लिए सदस्य देशों का एक हिस्सा है।

हालांकि मौसम विभाग के अनुसार राहत की बात ये है कि यह चक्रवात भारतीय तट से दूर जा रहा है, जिसके कारण इसका प्रभाव भारत में ज्यादा देखने को नहीं मिलेगा। मौसम विभाग ने कहा कि उत्तर-पूर्वी अरब सागर और पड़ोस के क्षेत्र से शाहीन चक्रवात 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तरी अरब सागर के मध्यवर्ती क्षेत्र की ओर बढ़ गया। अगले 36 घंटों के दौरान इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम और पाकिस्तान के मकरान तट की ओर बढ़ने की संभावना है। लेकिन इस दौरान गुजरात और राजस्थान के कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना है।

महाराष्ट्र और गुजरात में भारी बारिश संभव

मौसम विभाग ने पूर्वानुमान में कहा अरब सागर में तैयार होने वाला 'शाहीन' तूफान महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री किनारे वाले इलाकों को प्रभावित करेगा। गुजरात, सेंट्रल महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश और ज्यादा भारी बारिश की संभावना है। इस दौरान गंगीय पश्चिम बंगाल, मराठवाड़ा और सौराष्ट्र और कच्छ में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश और पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, झारखंड, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तटीय और उत्तरी कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की आशंका है।

वहीं मौसम विभाग ने अन्य राज्यों के बारे में जानकारी दी कि चक्रवाती तूफान 'शाहीन' का असर 6 अन्य राज्यों पर भी देखा जा सकता है। इनमें बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक शामिल है। अगले कुछ दिनों तक इन राज्यों में बारिश हो सकती है। बता दें कि चक्रवाती शाहीन की शुरूआत 26 सितंबर को आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटीय क्षेत्रों में हुआ था।

तूफान 'शाहीन' के वजह से अगले तीन दिन गुजरात के कई हिस्सों में भारी से भारी बारिश संभव है। साथ ही इन इलाकों में 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा भी चलेगी, जो बढ़कर 80-90 किमी तक होने की संभावना है। शुक्रवार देर रात या शनिवार सुबह तक इसके गंभीर चक्रवात के रूप में और तेज होने की संभावना जातई गई है। तूफान का नाम 'शाहीन' कतर ने दिया है, जो हिंद महासागर में एक ट्रॉपिकल चक्रवात के नामकरण के लिए सदस्य देशों का एक हिस्सा है।

हालांकि मौसम विभाग के अनुसार राहत की बात ये है कि यह चक्रवात भारतीय तट से दूर जा रहा है, जिसके कारण इसका प्रभाव भारत में ज्यादा देखने को नहीं मिलेगा। मौसम विभाग ने कहा कि उत्तर-पूर्वी अरब सागर और पड़ोस के क्षेत्र से शाहीन चक्रवात 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तरी अरब सागर के मध्यवर्ती क्षेत्र की ओर बढ़ गया। अगले 36 घंटों के दौरान इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम और पाकिस्तान के मकरान तट की ओर बढ़ने की संभावना है। लेकिन इस दौरान गुजरात और राजस्थान के कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना है।

महाराष्ट्र और गुजरात में भारी बारिश संभव

मौसम विभाग ने पूर्वानुमान में कहा अरब सागर में तैयार होने वाला 'शाहीन' तूफान महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री किनारे वाले इलाकों को प्रभावित करेगा। गुजरात, सेंट्रल महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश और ज्यादा भारी बारिश की संभावना है। इस दौरान गंगीय पश्चिम बंगाल, मराठवाड़ा और सौराष्ट्र और कच्छ में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश और पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, झारखंड, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तटीय और उत्तरी कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की आशंका है।

वहीं मौसम विभाग ने अन्य राज्यों के बारे में जानकारी दी कि चक्रवाती तूफान 'शाहीन' का असर 6 अन्य राज्यों पर भी देखा जा सकता है। इनमें बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक शामिल है। अगले कुछ दिनों तक इन राज्यों में बारिश हो सकती है। बता दें कि चक्रवात 'शाहीन' की शुरूआत 26 सितंबर को आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटीय क्षेत्रों में हुआ था।

Next Story

विविध

Share it